Asianet News HindiAsianet News Hindi

लीवर सिरोसिस है साइलेंट किलर, अंतिम स्टेज में दिखाई देते हैं इसके लक्षण,अनप्रोडेक्टेड Sex समेत छोड़े ये 5 काम

Liver Disease Symptoms: सिरोसिस  लीवर में होने वाली एक घातक बीमारी है। एनसीबीआई में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया भर में हर साल 20 लाख लोगों की मौत लीवर की बीमारी से होती है। इसमें से 10 लाख मौत के मामले सिरोसिस के कारण होते हैं। आइए जानते हैं इस बीमारी के लक्षण,ट्रीटमेंट और बचाव के बारे में।

Liver disease cirrhosis is a silent killer  symptoms appear in the last stage NTP
Author
First Published Nov 17, 2022, 7:22 PM IST

हेल्थ डेस्क. शरीर में लीवर उतना ही अहम अग है जितना की दिल। स्वस्थ लीवर के बिना आप लंबे वक्त कर जीवित नहीं रह सकते हैं। लीवर के खराब होने पर लीवर ट्रांसप्लांट ही एक विकल्प बचता है। जो कि बहुत महंगा होता है। इसलिए अच्छा यहीं होगा कि आप अपने लीवर के हेल्थ पर ध्यान दें। लीवर सिरोसिस ( cirrhosis) एक ऐसी बीमारी हैं जो जानलेवा होता है। इसे साइलेंट किलर के तौर पर जाना जाता है, क्योंकि इसके लक्षण ही अंतिम स्टेज पर पता चलते हैं। आइए जानते हैं लीवर सिरोसिस क्या है और इसके लक्षण क्या होते हैं।

क्या है लीवर सिरोसिस
सिरोसिस में लीवर के हेल्दी ऊतक ( tissue) मरने लगते हैं। जिससे शरीर में ब्लड फ्लो के रास्ते में रुकावट आने लगती है। जिसकी वजह से लीवर अपना काम ठीक से नहीं कर पाता है। ऐसे में टॉक्सिन्स फिल्टर नहीं हो पाते और शरीर की जरूरत के हिसाब से प्रोटीन भी नहीं बन पाता है। जो लंबे समय में लीवर को पूरी तरह से नुकसान पहुंचाने का काम करता है। सिरोसिर में अक्सर तब तक कोई लक्षण नजर नहीं आते हैं जबतक कि पूरी तरह लीवर डैमेज ना हो जाए। मतलब इसके अंतिम स्टेज पर लक्षण सामने आते हैं। सिरोसिस की शुरुआत फैटी लीवर से शुरू होता है। फैटी लीवर का अगला स्टेज ये बीमारी होता है। फैटी लीवर की समस्या होते ही सतर्क हो जाने की जरूत होती है।


लीवर सिरोसिस के लक्षण (Liver Disease Symptoms)

थकान
आसानी से खून बहना या चोट लगना
भूख में कमी
जी मिचलाना
पैरों, टांगों या टखनों में सूजन (एडिमा)
वजन घटना
त्वचा में खुजली
त्वचा और आंखों का पीला पड़ना (पीलिया)
त्वचा पर नसें दिखाई देना
हाथों की हथेलियों में लाली
मेनोपॉज के दौरान ब्लीडिंग
पुरुषों में सेक्स ड्राइव में कमी, स्तनों का बढ़ना
याददाश्त की समस्या
गहरे रंग का पेशाब
बार-बार बुखार होना
पेट में सूजन आना 

जब लीवर सिरोसिस होने पर रोगी को उपरोक्त लक्षण दिखाई देने लग जाते हैं तो इसका मतलब है कि मरीज की स्थिति काफी बिगड़ चुकी है और उसे तुरंत ट्रीटमेंट की जरूरत होती है। अगर तुरंत ट्रीटमेंट नहीं होता है तो यह रोगी की जान भी ले सकता है।

लीवर सिरोसिस होने के कारण-

लंबे समय तक शराब का सेवन

हेपेटाइटिस बी और सी संक्रमण

फैटी लीवर रोग

जहरीली धातु 

आनुवंशिक रोग 

लीवर सिरोसिस का उपचार
लीवर सिरोसिस का पता चलने पर डॉक्टर बड़ी तेजी से ट्रीटमेंट करते हैं। वो दवाओं से इसे शुरू करते हैं। अगर जरूरत पड़ती है तो सर्जरी का सहारा लिया जाता है।  इसके अलावा कुछ काम करने से बचने की सलाह दी जाती है। वो पांच काम जिसे नहीं करना चाहिए।


1. शराब से लीवर सिरोसिस का खतरा बढ़ जाता है
शराब लीवर के लिए हानिकारक मानी जाती है। बहुत अधिक शराब आपके लीवर में एक्स्ट्रा फैट का निर्माण करती है। इससे सिरोसिस का खतरा बढ़ जाता है।  ऐसे में अगर आपने शराब को अपनी आदत में शामिल कर लिया है तो उसे तुरंत छोड़ दें।

2.असुरक्षित यौन संबंध न बनाएं
असुरक्षित यौन संबंध से हेपेटाइटिस सी का खतरा बढ़ जाता है। यदि आपको 6 महीने से अधिक समय तक हेपेटाइटिस सी है, तो यह बीमारी आपको सिरोसिस की ओर ले जा सकती है। इससे बचने के लिए रक्त, शुक्राणु या लार वाली कोई भी चीज किसी के साथ साझा न करें।

3.किसी विशेषज्ञ की सलाह के बिना सप्लीमेंट न लें
ज्यादातर लोग बिना डॉक्टर की सलाह के सप्लीमेंट लेना शुरू कर देते हैं। लेकिन यह गलत अभ्यास है, अधिक मात्रा में सप्लीमेंट आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं। यहां तक कि आयुर्वेदिक सप्लीमेंट्स के भी साइड इफेक्ट होते हैं। जिसमें लीवर सिरोसिस भी शामिल है।

बाहर के खाने से बचें
अगर आप घर का खाना कम और बाहर का खाना ज्यादा खाते हैं तो आप खुद ही अपने लीवर के लिए परेशानी का कारण बन रहे हैं। ध्यान रहे कि बाहर का खाना सिर्फ आपकी जुबान के लिए अच्छा होता है। शरीर में प्रवेश करने के बाद यह भोजन लीवर, किडनी और आंतों के लिए धीमे जहर की तरह काम करने लगता है।

वजन कम करें
फैट ना सिर्फ शरीर के ऊपरी हिस्सों में बल्कि अंदरूनी हिस्सो में भी जमा होने लगती है। वसा लीवर में जमा होने लगता है।  तो इसे नॉन-अल्कोहलिक फैटी लीवर कहा जाता है। इस बीमारी का एक और मुख्य कारण बेकाबू डायबिटीज। ऐसे में जीवनशैली में बदलाव करके वजन को कंट्रोल करना चाहिए। ज्यादा वजन है तो इसे आदर्श माप पर लेकर आएं।

और पढ़ें:

डायबिटिक पेशेंट ये 3 एक्सरसाइज भूलकर भी ना करें,कई तरह की जानलेवा परेशानियों के हो सकते हैं शिकार

ट्विटर के बॉस एलन मस्क ने घटाया 13 किलो वजन, Weight Loss का बताया सीक्रेट

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios