Asianet News Hindi

कोविड-19 की 2 वैक्सीन मिलाने से मिलता है बेहतर रिजल्ट, Oxford study में हुआ खुलासा

Oxford की एक बड़ी रिसर्च सामने आई है, जिसमें दावा किया है कि कोरोनावायरस से बचने के लिए दो वैक्सीन को मिलाया जाए तो इसके बेहतर रिजल्ट सामने आते हैं। 600 लोगों पर किए गए ट्रायल्स में दो वैक्सीन को मिलाकर बनाई गई वैक्सीन ने बेहतरीन रिजल्ट दिए हैं।
 

Oxford study claims mixing COVID-19 vaccines gives good protection dva
Author
USA, First Published Jun 29, 2021, 11:24 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हेल्थ डेस्क : कोरोना महामारी से बचने का एकमात्र इलाज फिलहाल वैक्सीनेशन ही है इसे लेकर जोरों-शोरों से टीकाकरण अभियान भी चलाया जा रहा है। भारत में 18 साल से ज्यादा उम्र के हर व्यक्ति को मुफ्त में वैक्सीन लगाई जा रही है। लेकिन कई राज्यों में वैक्सीन की कमी के चलते टीकाकरण नहीं हो पा रहा है। इस बीच Oxford की एक बड़ी रिसर्च सामने आई है, जिसमें दावा किया है कि कोरोनावायरस से बचने के लिए दो वैक्सीन को मिलाया जाए तो इसके बेहतर रिजल्ट सामने आते हैं आइए आपको बताते हैं कि इस रिसर्च में क्या कुछ दावा किया गया है। 

क्या कहती है रिसर्च
हाल ही में ‘कॉम-कोव परीक्षण’किया गया। जिसमें कहा गया कि, ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रोजेनेका (Oxford-AstraZeneca) और फाइजर-बायोएनटेक (Pfizer-BioNTech) की वैक्सीन पूरी दुनिया के लोगों को कोरोना से बचाने में काफी ज्यादा मदद कर रही हैं। रिसर्च के मुताबिक, एस्ट्रॉजानिका और फाईजर वैक्सीन (Pfizer-AstraZeneca)की मिक्सिंग कोरोना से लड़ने के लिए इम्यूनिटी डेवलप करेगी। यानी दोनों वैक्सीन के मिक्सिंग से कोरोना के खिलाफ एंटीबॉडी का निर्माण बेहतर होगा। 

दरअसल, वैज्ञानिकों का कहना है कि इन टीकों के 'मिक्सड' शेड्यूल ने SARS-CoV2 स्पाइक IgG प्रोटीन के खिलाफ स्ट्रांग और जल्दी एंटीबॉडी डेवलेप किया। ऑक्सफोर्ड और फाइजर टीकों के ‘मिक्स एंड मैच’ कॉबिनेशन का ट्रायल करने के बाद बाद पता चला कि इस तरह की कोशिश कोविड से लड़ने में कारगर होगी। इससे कोरोना के खिलाफ उनकी इम्यूनिटी काफी ज्यादा बढ़ गई है। 600 लोगों पर किए गए शुरुआती ट्रायल्स में दो वैक्सीन को मिलाकर बनाई गई वैक्सीन (Vaccine) ने बेहतरीन रिजल्ट दिए हैं.

एक साथ कैसे ली जा सकती है वैक्सीन
रिसर्च के अनुसार,  इन दोनों खुराक को चार हफ्ते के बीच 4 हफ्ते का गैप होना जरूरी है। वैक्सीन मिक्सिंग को लेकर उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रोफेसर जोनाथन वान-टैम का कहना है ‘वैक्सीन की मिश्रित डोज लेना चार सप्ताह के बाद COVID-19 के खिलाफ सुरक्षा बढ़ाएगी।’

बता दें कि कोरोना के खिलाफ ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रोजेनेका (Oxford-AstraZeneca) और फाइजर-बायोएनटेक (Pfizer-BioNTech) वैक्सीन पूरी दुनिया को इस महामारी से बचाने में काफी ज्यादा मदद कर रही हैं। ये कोरोना के खिलाफ अच्छी इम्यूनिटी बना रही है। स्पेन में वैज्ञानिकों ने इन दोनों वैक्सीन को मिलाकर नई वैक्सीन बनाने का प्रयास किया है। नई वैक्सीन का ट्रायल्स में असर काफी अच्छा दिखाई दे रहा है।

ये भी पढ़ें- डेल्टा प्लस उन्हीं को संक्रमित कर रहा, जिन्होंने वैक्सीन नहीं ली...जानें एक्सपर्ट ने किस बात की चिंता जताई

ज्यादा प्रोटीन खाना है खतरनाक, किडनी और लिवर में हो सकती है ये समस्या

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios