Asianet News HindiAsianet News Hindi

फायरिंग से फिर दहला धनबाद, सिंदरी में लक्की सिंह के समर्थक और ग्रामीणों के बीच झड़प, पुलिस पर चली गोलियां

झारखंड के धनबाद जिलें में लक्की सिंह के ऑफिस में गुरुवार की दोपहर तोड़फोड़ करने पहुंची भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने बल का प्रयोग किया जिसके बाद दोनो और से फायरिंग की गई। इसमें कई लोगों के घायल होने की जानकारी है। साथ ही इलाके में तनाव का माहौल है।

dhanband news cross firing between police and villagers many injured asc
Author
Dhanbad, First Published Aug 25, 2022, 6:55 PM IST

धनबाद (झारखंड): धनबाद जिला एक बार फिर गोलियां चलने से दहल उठा। इस बार पुलिस और ग्रामीणों के बीच फयरिंग हुई। जिसमें दोनों ओर से कई घायल हुए। जिले के बड़ादाहा व अन्य पंचायतों के ग्रामीणों ने गुरुवार की दोपहर जनता मजदूर संघ के नेता व झरिया के पूर्व विधायक संजीव सिंह के समर्थक गौरव वक्ष उर्फ लक्की सिंह के शहरपूरा बाजार स्थित एल टाइप में लक्की सिंह के घर व कार्यालय में हजारों की संख्या में ग्रामीण ने हमला बोला और तोड़फोड़ शुरू कर दी। जबाव में लक्की सिंह के कार्यालय के पास सुरक्षा के लिए तैनात पुलिस जवानों ने हमलावरों को खदेड़ने के लिए फायरिंग की। दोनों ओर से फायरिंग किए जाने के बाद वहां अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया। लोग इधर उधर भागने लगे। बताया जा रहा है कि पुलिस ने करीब दस राउंड फायरिंग की है। तो वहीं ग्रामीणों की ओर से भी फायरिंग की गई है। घटना के दौरान कुछ पुलिस कर्मियों और तीन थानेदारो के भी घायल होने की सूचना है। फिलहाल इलाके में तनाव का माहौल है। पुलिस चप्पे-चप्पे पर तैनात है। 

क्या है पूरा मामला
22 अगस्त को सिंदरी में सिंह मेंशन समर्थक और आसपास के गांव के लोगों के बीच मारपीट हुई थी। विरोध में उसी रात ग्रामीणों ने लक्की सिंह के ऑफिस में तोड़फोड़ की थी। तोड़फोड़ के मामले में थाना में केस भी दर्ज किया गया था। इसी विवाद में ग्रामीणों ने गुरुवार के दिन दोबारा लक्की सिंह के कार्यलय में हमला बोल दिया। फिलहाल घटना के बाद से शहपुरा बाजार में दहशत का माहौल है।बाजार में भगदड़ मच गई। बाजार बंद हो गया। भीड़ के आगे पुलिस विवश दिखी। पुलिस की टीम बाजार में लगातार गस्ती कर रही रही है।

ग्रामीणों ने निकाला था जुलूस
22 अगस्त को हुई मारपीट के विरोध में गुरुवार को बड़दाहा के सैकड़ों ग्रामीणों ने जुलूस निकाला था। जुलस जैसे ही लक्की सिंह के ऑफिस पहुँची। ग्रामीणों ने लक्की सिंह के ऑफिस में हमला कर दिया। पथराव और तोड़फोड़ की। वहां तैनात पुलिस कर्मियों ने ग्रामीणों को रोकने का प्रयास किया तो ग्रामीणों ने पुलिस पर भी हमला बोल दिया। फिर दोंनो ओर से फयरिंग हुई। 

भीड़ को हटाने के लिए करना पड़ा बल का प्रयोग
इस मामले में सिंदरी के डीएसपी अभिषेक कुमार ने बताया कि कुछ दिनों से दो पक्षों के बीच विवाद चल रहा है। इसी विवाद में आज फिर बवाल हुआ। भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने बल का प्रयोग किया। कुछ पुलिस कर्मी भी घायल हैं। दोषियों पर कार्रवाई की जाएगा। उन्होंने फयरिंग की घटना से इनकार किया है।

यह भी  पढ़े-  जयपुर रेलवे स्टेशन पर 5 दरिंदों ने महिला से पूरी रात किया गैंगरेप, सुबह निर्वस्त्र थाने पहुंची तो दहल गई पुलिस

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios