Asianet News HindiAsianet News Hindi

झारखंड में बाबा की हेराफेरी ने उड़ाए सबके होश, पैसे डबल करने के इस अनोखे तरीके से लाखों किए साफ

झारखंड के जमशेदपुर में एक बाबा द्वारा ठगी कर लाखो रुपए लेकर भागने का मामला सामने आया है। पहले आरोपी बाबा ने पैसे डबल करने के नाम पर रुपए मंगाए फिर नकली नोटो की पोटली पकड़ा पीड़ितो को लगाया 47 लाख का चूना। मामले में सोनारी थाने में दर्ज हुई शिकायत।

Jamshedpur news fraud loot many people giving offer to double the money asc
Author
First Published Sep 9, 2022, 9:05 PM IST

जमशेदपुर (झारखंड).  झारखंड के जमशेदपुर में एक बाबा की गजब की हेराफेरी करने का मामला सामने आया है। बाबा के एक का डबल करने के अंदाज ने सबको चौंका दिया। लौहनगरी जमशेदपुर में ढोंगी बाबा ने पैसे को डबल करने के नाम पर 47 लाख रुपए की धोखाधड़ी की है। घटना में पीड़ितो ने आरोपी बाबा के खिलाफ सोनारी थाने में  रिपोर्ट दर्ज कराई है।

पूजा पाठ से पैसे को डबल करने का दिया झांसा
जमशेदपुर की संजुक्ता दास ने सोनारी थाना में बाबा के कारनामे के बाद लिखित शिकायत की है। शिकायत में उसने लिखा कि सरायकेला-खरसावां के नीमडीह में एक बाबा उदय कुमार उर्फ बाबा और उनके सहयोगी नैना कौशल और सागर सिंह द्वारा पूजा पाठ कर नोट को डबल करने और झांसा देकर 47 लाख रुपये की धोखाधड़ी की है। संयुक्ता दास ने शिकायत में बताया कि बाबा और उनके सहयोगियों ने मिलकर उनके भाई के साथ धोखा किया है और पैसे दोगुनी करने के नाम पर लाखों रुपए ले भागे।

पहले 20 हजार को 40 हजार में बदल दिलाया भरोसा फिर लाखो ले भागे
संजुक्ता दास ने पुलिस को बताया की उसका भाई गंगाधर ओडिशा में रहता है। भाई को जब बाबा के बारे में उसकी पड़ोसी ने बताया। पड़ोसी नैना ने कहा कि एक बाबा है जो सरायकेला-खरसावां जिला के रघुनाथपुर नीमडीह में रहते है, बाबा पूजा एवं तंत्र-मंत्र कर पैसा को दोगुना कर देते हैं। नैना कौशल उन्हें विश्वास दिलायी कि वे लोग पैसा लगाईये और वे उस पैसे को बाबा के सहयोग से दोगुना कर लौटा देगी। उसकी बात में आकर उसने 20 हजार रुपये नैना कौशल को दिया। नैना भाई को बाबा के पास ले गई। बाबा एवं उसका सहयोगी सागर सिंह ने पैसा लेकर पूजा एवं कुछ तंत्र-मंत्र पढ़कर अपने घर के अन्दर से नगद 40,000 रुपये लाकर दे दिया। फिर नैना कौशल एवं बाबा ने सागर सिंह को आश्वासन दिया कि और पैसा लाओ। वे लोग उसे भी दोगुनी करके देंगे। 

गंगाधर ने और भी लोगों को स्कीम बताई और बाबा के पास ले गया
पैसे दोगुना होने के बाद गंगाधर अपने गांव ओड़िशा चला गया। यह बात उसने अपने दोस्त आकाश मोहला एवं राधे साहु को बतायी। फिर वे भी इस काम के लिए तैयार हो गये। फिर गंगाधर के दोस्त उसके साथ जमशेदपुर आए, तब नैना कौशल उसके घर पर आई एवं उसके भाई और उसके दोस्तों से कुल 31,000 रुपये ली, फिर नैनी कौशल ने उसके भाई को 62,000 रुपये वापस कर दिए। इस तरह सभी को नैना कौशल, बाबा एवं सागर सिंह के ऊपर विश्वास बड़ गया एवं बाबा ने आगे भी आश्वासन दिया कि वे लोग और ज्यादा पैसा लेकर आए जिसे दोगुना कर दिया जाएगा। उन सभी लोगों की बातों पर विश्वास कर उनका भाई एवं उसके दोनों दोस्त ओड़िशा लौट गये।

विश्वास दिला बाबा ने अधिक रकम मंगवाई
कुछ दिनों बाद कुछ और भी लोगों ने पैसे डबल करने के लिए पैसे इकट्ठा किए और बाबा को 47 लाख रु दे दिया। फिर बाबा ने सारे रूपयों की पूजा एवं तंत्र-मंत्र पढ़कर घर के अन्दर से दो पोटली लेकर आए और कहा कि एक हफ्ते तक इस पोटली की पूजा करना। इस पोटली में 94 लाख रुपये हैं। जिसे एक हफ्ते बाद खोलना है। उन सभी लोगों ने विश्वास कर लिया और घर लौट आए और एक हफ्ता तक उस पोटली की पूजा करते रहे। एक हफ्ता बीत जाने पर जब पोटली खुली तो उसमें से कागज की नोटे निकली। जिसके बाद वे लोग तुरंत नैना के घर गए तो उसके घर पर ताला लगा था। तब फोन किया तो वह बोली कि उन लोगों ने पोटली की पूजा ठीक से नहीं की जिस कारण उनका पैसा दोगुना नहीं हुआ। उसके बाद उन लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी और लिखित शिकायत की।

यह भी पढ़े-  झारखंड के जिस एरयपोर्ट को मिला बेस्ट फेसिलिटी का अवार्ड, वहां की वायरल तस्वीरो ने खोल दी सारी पोल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios