Asianet News HindiAsianet News Hindi

छात्राओं को अश्लील वीडियो दिखा करता था डर्टी काम, फिर एक दिन जो हुआ वो टीचर सोच भी नहीं सकता था

झारखंड के पश्चिमी  सिंहभूम जिले में एक सरकारी स्कूल की रंगीन मिजाज के चलते विद्यालय की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करने की खबर सामने आई है। मामले की पीड़िताओं द्वारा घरों में बताने के बाद गांव की महिलाओं ने मिलकर आरोपी शिक्षक को सबक सिखाया।

west singhbhum news government teacher molested girl students showing them obscene videos asc
Author
First Published Sep 29, 2022, 4:56 PM IST

पश्चिमी सिंहभूम (झारखंड): झारखंड में एक सरकारी शिक्षक को स्कूल की छात्राओं के साथ गलत करना महंगा पड़ गया। गांव की महिलाओं ने जूते और चप्पल से शिक्षक की आरती उतारी और फिर जूते का माला पहना उसे इलाके में घुमाया। महिलाओं ने आरोपी शिक्षक के मुंह में कालिख भी पोत दिया और पूरे गांव में घुमाया। मामला झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले के बड़ाजामदा बस्ती के राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय का है। गुरुवार को महिलाएं स्कूल पहुंची और  शिक्षक प्रेम कुमार की पिटाई कर दी। महिलाएं आरोपी शिक्षक को घुमा ही रही थी की इसी बीच पुलिस आ पहुंची। फिर शिक्षक को थाना ले जाया गया। 

छात्राओं को दिखाता था अश्लील वीडियो
महिलाओं का आरोप था की आरोपी शिक्षक स्कूल की छात्राओं को अश्लील वीडियो दिखा कर छात्राओं के साथ गलत करने का प्रयास करता था। छात्राओं ने इसकी शिकायत परिजनों से की थी। जिसके बाद गांव के लोगों ने बैठक कर शिक्षक को सबक सिखाने का प्लान बनाया। गुरुवार को सैकड़ों की संख्या में महिलाएं स्कूल पहुंची और आरोपी शिक्षक को पकड़ लिया। जिसके बाद शिक्षक की जमकर खातिरदारी की गई। फिर जूतों का माला पहना और मुंह पर कालिख पोत उसे इलाके में घुमाया गया। महिलाओं का कहना था कि जब तक आरोपी शिक्षक पर कार्रवाई नहीं होती तब तक वह लोग शांत नहीं बैठेंगे। 

जेल भेजने की मांग पर थाना घेरा
पुलिस जब आरोपी शिक्षक को उठा कर थाना ले आई तो पीछे-पीछे गांव की महिलाएं भी थाना पहुंची।  शिक्षक को जेल भेजने की मांग पर महिलाओं ने बड़ाजामदा थाना का घेराव कर दिया। थाना के समक्ष ही सभी महिलाएं धरने पर बैठ गई। महिलाओं का कहना था कि जब तक आरोपी शिक्षक को जेल नहीं भेजा जाता तब तक वे लोग थाना से नहीं हटेंगी। शिक्षक कई दिनों से स्कूल की छात्राओं को परेशान कर रहा है। मामले की लिखित शिकायत वाला जिले के उपायुक्त से भी की गई थी लेकिन उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई जिसके बाद महिलाओं को यह कदम उठाना पड़ा। 

इस मामले में बड़ाजामदा थाना प्रभारी वासुदेव टोप्पो ने बताया कि गांव के लोगों के द्वारा दर्ज शिकायत के आधार पर मामले की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़े- बच्चों ने डांस करने से मना क्या किया, भड़क गए मास्टर जी, छात्रों पर बरसा दी ताबड़तोड़ लाठियां, कई हुए घायल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios