Asianet News Hindi

मप्र में दो हादसे: खदान धंसने से 4 बच्चों, जबकि सड़क हादसे में 7 लोगों की मौत

भोपाल के सूखी सेवनिया इलाके में सोमवार सुबह खदान धंसने से 4 बों की मौत हो गई। घटना के वक्त वहां 7 बच्चे मौजूद थे, जिनमें से 6 दब गए थे। बताते हैं कि दीपावली के लिए कच्चे घरों की मरम्मत के लिए बच्चे मिट्टी खोदने गए थे, तभी यह हादसा हो गया। बच्चों को खदान से निकालकर एंबुलेंस से हमीदिया पहुंचाया गया। लेकिन चारों बच्चो ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

4 children died in a mine accident in sookhi Sevenia village of bhopal kpa
Author
Bhopal, First Published Nov 9, 2020, 12:50 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल, मध्य प्रदेश. मध्य प्रदेश में सोमवार सुबह दो हादसों में 11 लोगों की जान चली गई। इनमें 5 बच्चे हैं। एक हादसा डम्पर और बोलेरो की टक्कर में हुआ, जबकि दूसरे मे खदान धंसने से 4 बच्चों की मौत हो गई। खदान धंसकने का मामला भोपाल जिले के सूखी सेवनिया क्षेत्र के ग्राम बरखेड़ी में हुआ। बताते हैं कि दीपावली के लिए कच्चे घरों की मरम्मत के लिए बच्चे मिट्टी खोदने गए थे, तभी यह हादसा हो गया। बच्चों को खदान से निकालकर एंबुलेंस से हमीदिया पहुंचाया गया। लेकिन चारों बच्चो ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। गांव के 7 बच्चे मिट्टी खोदने गए थे। हादसे में दो बच्चों की हालत गंभीर है। इन सभी की उम्र 5 से 12 वर्ष के बीच बताई जा रही है। इनमें तीन लड़कियां और तीन लड़के शामिल हैं। 


मुख्य बिंदु
-खदान के बाहर खड़ी 6 साल की बच्ची घबराकर घर भागी और उसने परिजनों को इस बारे में बताया
-परिजनों ने लोगों की मदद से सभी बच्चों को मिट्टी से बाहर निकाला और भोपाल के हमीदिया अस्पताल लेकर गए
-लेकिन 4 बच्चों ने रास्ते में दम तोड़ दिया, जबकि 2 की हालत गंभीर है
-हादसे के बाद भोपाल कलेक्टर ने मिट्टी खोदने पर रोक लगा दी है
-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृत बच्चों के परिजनों को 4-4 लाख रुपए की मदद देने की घोषणा की है
-हादसा सोमवार सुबह 9 बजे के करीब हुआ
-मरने वाले बच्चों में  मनोज पुत्र बन्ने (7) , आशा पुत्री कैलाश (7), शीला पुत्री प्रभुराम (9) और कविता पुत्री श्यामलाल (10) शामिल हैं। 
-रोहित और विक्रम नामक बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं
 

MP के सतना में डम्पर और बोलेरो की भीषण भिड़ंत में 7 लोगों की मौत

सतना, मध्य प्रदेश. सतना से करीब 35 किमी दूर नागौद थाने के तहत रेरुआ गांव के मोड़ पर सोमवार तड़के 3-4 बजे के बीच हुए एक भीषण सड़क हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई। जबकि 5 लोग घायल हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने गांववालों की मदद से घायलों को रीवा मेडिकल कॉलेज रेफर किया है। हादसा डम्पर और बोलेरो के बीच हुआ। मरने वालों में तीन महिलाएं, तीन पुरुष और एक बच्चा शामिल है। ये सभी लोग पन्ना जिले में अपने किसी परिचित के निधन पर शोक मनाने गए थे। वहां से रीवा वापस लौट रहे थे। ये सभी रीवा के विश्वकर्मा परिवार से हैं। घटना को लेकर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने दुख व्यक्त किया है।

चीख-पुकार सुनकर दूसरे वाहन रुके
हादसे के बाद वहां चीख-पुकार मच गई। इसके बाद वहां से गुजर रहे दूसरे वाहन वाले रुके। उन्होंने फौरन पुलिस की डायल 100 को सूचना दी। पुलिस ने लोगों की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया। माना जा रहा है कि दोनों गाड़ियां तेज रफ्तार थीं। अचानक सामने डम्पर आ जाने से बोलेरो का ड्राइवर स्टीयरिंग नहीं संभाल सका और दोनों गाड़ियां आमने-सामने से भिड़ गईं।

यह पी पढ़ें

फिल्मी स्टाइल में बाइक सवारों ने कार को घेरा, जैसे ही युवती ने विंडो खोली, कर दिया शूट

12 साल की सरिता की दर्दभरी कहानी पढ़कर हैरान हुए सोनू सूद, फौरन किया वीडियो कॉल 

खतरनाक ड्राइविंग: मां खुश थी कि बेटा कुछ बनकर घर लौटेगा, इन दो लड़कियों ने खून के आंसू रुला दिए

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios