Asianet News Hindi

CM शिवराज का ममता बनर्जी पर हमला: कहा-दीदी परिस्थितियां बदलने में देर नहीं लगती,अंतत: दंड भोगना ही पड़ता है

सीएम शिवराज नेकहा ''पश्चिम बंगाल में जिस प्रकार से टीएमसी के कार्यकर्ताओं द्वारा लोकतंत्र की हत्या की जा रही है, जनता पर अत्याचार किया जा रहा है, वह अत्यंत दुःखदायी और निंदनीय है। टीएमसी को जनता ने अपना रक्षक चुना लेकिन इस पार्टी के कार्यकर्ता जनता के भक्षक बने हुए हैं।

Bengal violence after assembly elections cm shivraj singh chouhan attacks on mamata banerjee kpr
Author
Bhopal, First Published May 4, 2021, 5:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल (मध्य प्रदेश). पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों के परिमाण आने के बाद हुई हिंसा के बाद अब सियासत गर्मा गई है। जिसके चलते दिल्ली से लेकर बंगाल तक बीजेपी और टीएमसी नेताओं की जुबानी जंग तेज हो गई है। इसी बीच मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ममता बनर्जी को नसीहत देते हुए उनपर जमकर हमला बोला है। कहा-''दीदी याद रखना राजनीति में हमेशा कुछ भी राजनीति में कुछ भी स्थायी नहीं होता है। परिस्थितियों को बदलते देर नहीं लगती है, अंतत: दण्ड भोगना ही पड़ता है''।

जनता ने रक्षक चुना लेकिन पार्टी के कार्यकर्ता भक्षक बन गए
दरअसल, सीएम शिवराज ने मंगलवार दोपहर ट्टीट करते हुए कहा ''पश्चिम बंगाल में जिस प्रकार से टीएमसी के कार्यकर्ताओं द्वारा लोकतंत्र की हत्या की जा रही है, जनता पर अत्याचार किया जा रहा है, वह अत्यंत दुःखदायी और निंदनीय है। जनता ने अगर टीएमसी को जनादेश दिया है, तो उन्हें इसका सम्मान करना चाहिए। टीएमसी को जनता ने अपना रक्षक चुना लेकिन इस पार्टी के कार्यकर्ता जनता के भक्षक बने हुए हैं और सिर्फ दो दिन में लोकतंत्र को खंडित कर दिया! दीदी को यह याद रखना चाहिये कि राजनीति में कुछ भी स्थायी नहीं होता है। परिस्थितियों को बदलते देर नहीं लगती है, अंतत: दण्ड भोगना ही पड़ता है''।

जानिए क्या है पूरा मामला
बीजेपी ने दावा किया है कि 2 मई को रिजल्ट आने के बाद से तृणमूल कार्यकर्ता भाजपाइयों को निशाना बनाते हुए प्रदेश के सभी भाजपा कार्यालयों में आग लगा दी। इस हिंसा में  11  वर्कर की मौत हुई है। बीजेपी कार्यकर्ता तो यहां तक आरोप लग रहे हैं कि TMC कार्यकर्ता भाजपा से जुड़ी महिलाओं के साथ रेप कर रहे हैं। इस मामले को लेकर ममता बनर्जी निशाने पर आ गई हैं। सोशल मीडिया पर इसकी तुलना कश्मीर में हुए हिंदुओं के नरसंहार और सिख विरोधी दंगों से की जा रही है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को  फोन करके कानून और व्यवस्था कि स्थिति पर चिंता और दुख व्यक्त किया। इसी बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पश्चिम बंगाल में हिंसा की स्थिति का आकलन करने मंगलवार को राज्य के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios