Asianet News HindiAsianet News Hindi

MP में 200 गांवों के डूबने का डर: विदिशा में हालात बेकाबू, लोगों की जान बचाने में जुटी एयरफोर्स

मंदसौर में भारी बारिश के कारण गांधी सागर डैम के गेट खोल दिए गए हैं जिस कारण से शिवाना नदी में बाढ़ आ गई है। गांधी सागर बांध के 19 गेट खुले होने के कारण राजस्थान में भी अलर्ट जारी किया गया है। 

bhopal news warning of very heavy rain in vidisha and guna flood in mp narmada danger mark pwt
Author
Vidisha, First Published Aug 24, 2022, 8:58 AM IST

विदिशा. मध्यप्रदेश लगातार हो रही भारी बारिश के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। भोपाल में मंगलवार शाम से बारिश नहीं हुई है। लेकिन विदिशा, गुना और राजगढ़ जिले में लगातार बारिश के कारण कई गांवों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। वहीं, मंदसौर में भारी बारिश के कारण गांधी सागर डैम के गेट खोल दिए गए हैं जिस कारण से शिवाना नदी में बाढ़ आ गई है। गांधी सागर बांध के 19 गेट खुले होने के कारण राजस्थान में भी अलर्ट जारी किया गया है। वहीं, नर्मदा और चंबल नदी अभी भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। राजस्थान के कोटा बैराज डैम के गेट खुले होने के कारण चंबल नदी में भारी मात्रा में पानी आ रहा है। जिस कारण से मुरैना जिले में चंबल ने रौद्र रूप धारण कर लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यहां के करीब 200 गांवों के डूबने का खतरा बढ़ गया है। (फोटो- विदिशा जिले की है)

विदिशा में हालात खराब
विदिशा जिले में हो रही भारी बारिश के कारण हालत खराब हो गए हैं। यहां कई गांवों में पानी घुस गया है। इसके साथ ही जिले की सड़कें जलमग्न हो गई हैं। मध्य प्रदेश सरकार के अनुरोध पर भारतीय वायु सेना यहां सहायता के लिए पहुंच गई है। लोगों को हेलीकॉप्टर के माध्यम से एयरलिफ्ट कर सुरक्षित जगहों में पहुंचाया जा रहा है। राहत कार्य के लिए विदिशा में दो  Mi17 V5 हेलीकॉप्टर तैनात किए हैं। विदिशा जिले में 18 शिविरों में 1200 लोग रुके हुए हैं। प्रशासन के द्वारा इन लोगों के लिए भोजन और आवश्यक सामग्री की व्यवस्थाएं की जा रही हैं। 

नर्मदापुरम में भी हालत बिगड़े
नर्मदापुरम जिले के इटारसी-बैतूल मार्ग के पुल पर पानी आने से यातायत पूरी तरह से बंद हो गया है। भारी बारिश होने की वजह से तवा नदी के बैक वाटर से सुखतवा पुल पूरी तरह से डूब गया है। मंदसौर में पिछले दो दिनों से लगातार हो रही है जिस कारण से शिवाना नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। 

डबरा का ग्वालियर से संपर्क टूटा
डबरा का भितरवार में बड़गोर गांव के पास सिंध नदी पर बना पुल बह गया। पुल टूटने के कारण ग्वालियर, दतिया और शिवपुरी जिले का संपर्क टूट गया है। भारी बारिश के कारण कई कॉलोनियों और घरों में पानी भर गया। आलोट से कई गांवों का संपर्क कट गया। इंदौर जिले में भी भारी बारिश हो रही है। इच्छापुर मार्ग पर नर्मदा नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद मोरटक्का पुल से आवागमन की सुविधा को बंद कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें-  MP में हालात बेकाबू: बाढ़ की चपेट में 200 से ज्यादा गांव, खतरे के निशाने से ऊपर नादियां, फोटो में देखें तबाही

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios