Asianet News HindiAsianet News Hindi

भोपाल: मदर इंडिया कॉलोनी में क्लोरीन गैस लीक, आंखों में जलन और सांस की परेशानी लेकर हॉस्पिटल की ओर भागे लोग

भोपाल के मदर इंडिया कॉलोनी में वाटर फिल्टर प्लांट में क्लोरीन गैस के टैंक से रिसाव होने से अफरा-तफरी मच गई। आंखों में जलन और सांस लेने में तकलीफ हुई तो लोग हॉस्पिटल की ओर भागे। तीन लोगों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

Chlorine gas leaked in Mother India Colony Bhopal vva
Author
First Published Oct 26, 2022, 10:47 PM IST

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के शाहजहानाबाद के मदर इंडिया कॉलोनी के लोग बुधवार शाम 1984 में हुए भोपाल गैस त्रासदी जैसी घटना फिर से घटने के खौफ से कांप गए। वाटर फिल्टर प्लांट में लगे क्लोरीन गैस के टैंक से रिसाव होने लगा था। क्लोरीन गैस के समर्क में आने से लोगों को परेशानी होने लगी। आंखों में जलन और सांस लेने में तकलीफ हुई तो लोग हॉस्पिटल की ओर भागे।

गैस लीक होने से कॉलनी में अफरा-तफरी मच गई। लोग घरों से बाहर आ गए। तीन लोगों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। गैस लीक होने की जानकारी मिलने पर पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। गैस मास्क के साथ आए जवानों ने राहत और बचाव अभियान चलाया। जिन लोगों को परेशानी आ रही थी उन्हें हॉस्पिटल पहुंचाया गया। लोग करीब तीन घंटे तक अपने घरों से बाहर रहे। 

पानी में ज्यादा हो गई थी क्लोरीन की मात्रा
घटना के संबंध में नगर निगम के कमिश्नर केवीएस चौधरी कोलसानी ने बताया कि पानी में क्लोरीन की मात्रा अधिक होने से परेशानी आई। लक्ष्मी देवी नाम की एक बुजुर्ग महिला की हालत अधिक खराब हो गई थी। उसे हमीदिया हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। स्थिति कंट्रोल में है। निगम के कर्मचारी पानी में कास्टिक सोडा डालकर क्लोरीन के असर को कम कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ें- पालघर में हुआ खतरनाक हादसाः केमिकल फैक्ट्री में लगी आग, दो दर्जन से ज्यादा घायल, 2 की गई जान

स्थानीय लोगों के अनुसार शाम करीब छह बजे से गैस के चलते परेशानी शुरू हुई थी। गैस लीक होने की बात फैली तो लोग अपने घरों से बाहर निकल गए। देखते ही देखते कॉलनी खाली हो गई। वाटर फिल्टर प्लांट से पानी ओवरफ्लो होकर कॉलोनी में आ रहा था, जिससे परेशानी और बढ़ गई थी। अधिक उम्र के लोगों को ज्यादा परेशानी आई। नगर निगम के कर्मियों और पुलिस के जवानों ने राहत और बचाव अभियान चलाकर स्थिति को नियंत्रित किया। रात 9 बजे के बाद कॉलोनी में गैस से होने वाली परेशानी में कमी आने लगी।

यह भी पढ़ें- दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा- रेपिस्ट और कातिल है राम रहीम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios