Asianet News Hindi

भाई की मौत के बाद भी ड्यूटी करती रही ये बेटी, CM ने कहा बिटिया तेरे जज्बे को सलाम करता हूं...

कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग में असली योद्धा साबित हो रहे हैं हमारे डॉक्टर और नर्स। ऐसी एक कोरोना वॉरियर्स की कहानी मध्य प्रदेश से सामने आई है। जिसके जज्बे को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी सलाम किया है। 

coronavirus live covid 19 cases  update news corona warriors neelema parmar kpr
Author
Dewas, First Published Apr 12, 2020, 7:39 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

देवास (मध्य प्रदेश). कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग में असली योद्धा साबित हो रहे हैं हमारे डॉक्टर और नर्स। जो परिवार छोड़ अपना फर्ज निभा रहे हैं। ऐसी एक कोरोना वॉरियर्स की कहानी मध्य प्रदेश से सामने आई है। जिसके जज्बे को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी सलाम किया है। 

 कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रही यह बेटी
दरअसल, हम जिस कोरोना योद्धा की बात कर रहे हैं वह नीलमा परमार हैं। जो एएनएम और आयुष्मान की कोऑर्डिनेटर हैं। वह देवास जिले के शिप्रा गांव की रहने वाली है। बता दें कि नीलमा अपने भाई की हार्ट अटैक से मौत के बाद भी इस महामारी के खिलाफ जंग लड़ रही है। वह शोक मनाने की जगह लोगों को कोरोना से सावधानी रखने की सलाह और उनको जागरूक कर रही हैं।

भाई के अंतिम संस्कार के बाद ड्यूटी पर लौटी
नीलमा सिर्फ अपने भाई के अतिंम संस्कार शामिल होने के लिए गईं थीं। वह अपनी भाभी और परिवारवालों को हेमंत देने के बाद उसी दिन ड्यूटी पर लौट आईं। नीलिमा अपने क्षेत्र में वायरस के खिलाफ लड़ाई में फील्ड पर रहती हैं। वह लोगों को मास्क और गल्ब्स बांटती हैं।

सीएम ने जज्बे को किया सलाम
बता दें कि नीलमा के इस जज्बे को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सलाम किया है। उन्होंने ट्विवर पर तारीफ करते हुए लिखा- हम यू हीं इन्हें #CoronaWarriors नहीं कहते हैं। नीलिमा जी जैसे अनेकों स्वास्थ्य कर्मियों के जज्बे को सलाम है!

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios