Asianet News HindiAsianet News Hindi

सवेरे 6 बजे से 12 बजे तक पूरा घर उलट-पलट दिया, लेकिन लोकायुक्त टीम को हाथ लगे सिर्फ 219 रुपए

भोपाल में बिजली कंपनी के DGM के घर ठंड में सवेरे-सवेरे छापा मारने पहुंची लोकायुक्त टीम को घोर निराशा हाथ लगी। शिकायत मिली थी कि DGM साब ने आय से अधिक सम्पत्ति जोड़ रखी है।

Interesting case of Lokayukta Raid at DGMs house of Central Region Power Distribution Company kpa
Author
Bhopal, First Published Dec 21, 2019, 2:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल, मध्य प्रदेश. यह ठीक वैसी ही कहावत है कि 'खाया-पीया कुछ नहीं और गिलास तोड़ा 12 आना!' यहां मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के DGM समीर कुमार शर्मा के घर छापा मारने के बाद लोकायुक्त टीम के साथ भी कुछ ऐसी ही स्थिति हुई। लोकायुक्त को शिकायत मिली थी कि DGM साब ने आय से अधिक सम्पत्ति जमा कर रखी है। इस शिकायत के आधार पर शुक्रवार को लोकायुक्त टीम ने सवेरे 6 बजे शर्मा के घर पर धावा बोल दिया। करीब 6 घंटे तक लोकायुक्त टीम घर खंगालती रही। सामान यहां से वहां और वहां से यहां उलटती-पलटती रही, लेकिन हाथ आए सिर्फ 219 रुपए। 

Interesting case of Lokayukta Raid at DGMs house of Central Region Power Distribution Company kpa
1.18 लाख रुपए वेतन पाते हैं..
.
DGM समीर कुमार शर्मा अयोध्या नगर स्थित सागर सिल्वर स्प्रिंग कैम्पस में रहते हैं। लोकायुक्त अधिकारी सलिल शर्मा ने बताया कि टीम को शर्मा के घर से 219 रुपए नकद, 8 लाख रुपए कीमत के जेवरात, एक स्कूटी, एक सरकारी गाड़ी, लोन पर दो घरों के दस्तावेज, एक हेल्थ पॉलिसी और एक निवेश की पॉलिसी मिली। इसके अलावा शर्मा के घर से ऐसा कोई दस्तावेज नहीं मिला, जिसमें कहीं बड़े निवेश की आशंका हो। छापे के दौरान घर पर शर्मा का बेटा और नौकर था। मूलत: वाराणसी के रहने वाले शर्मा भोपाल में पदस्थ हैं। वे 2007 से नौकरी कर रहे हैं। उनका वर्तमान वेतन 1.18 लाख रुपए है। उनका इसी अगस्त में इटारसी से भोपाल ट्रांसफर हुआ था। इटारसी में कार्यरत रहने के दौरान शर्मा के खिलाफ शिकायत मिली थी।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios