PM Modi Bhopal Visit: मोदी ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का लोकार्पण किया, कहा- रेलवे ने छवि बदली

madhya pradesh, bhopal, PM Narendra Modi Visit janjatiya gaurav divas mahasammelan

4:36 PM IST

रेलवे नए युग में प्रवेश कर रहा है: मोदी

  • रेलवे के विकास से देश में पर्यटन की संभावनाएं भी मजबूत होती हैं। पिछले दिनों रामायण सर्किट ट्रेन की शुरुआत हुई, अगले कुछ दिनों में कुछ और भी रामायण सर्किट ट्रेनें चलाई जाएंगी।
  • बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर भारत की आकांक्षा ही नहीं, बल्कि आवश्यकता भी है। इसलिए हमारी सरकार रेलवे समेत इन्फ्रास्ट्रक्चर के हजारों प्रोजेक्ट पर अभूतपूर्व निवेश कर रही है।
  • रेलवे का लाभ आम यात्रियों, विद्यार्थियों, व्यापारियों सहित विभिन्न वर्गों को तो मिलता ही है, लेकिन अब रेलवे की समयबद्धता के चलते किसानों के उपज भी दूर तक भेजे जा रहे हैं, जिसका सीधा लाभ छोटे किसानों को ही मिल रहा है।
  • हमारे देश के मध्यम वर्ग और करदाताओं को सभी सुविधाएं रेलवे देगा, जिसका वह हकदार है। देश के 175 से अधिक रेलवे स्टेशनों का कायाकल्प हो जा रहा है। रेलवे सुनिश्चित कर रहा है कि किसी भी विकास कार्य में कोई देरी न हो, बाधा न आए।
  • देश ने कुछ दिनों पूर्व गुजरात के गांधीनगर रेलवे स्टेशन का नया आधुनिक रूप देखा था। आज रानी कमलापति रेलवे स्टेशन देश को मिला है, जो आईएसओ से प्रमाणित है। यहां वह सुविधा मिल रही है, जो कभी सिर्फ एयरपोर्ट पर ही मिला करती थी।

4:27 PM IST

देश की संस्कृति को कनेक्ट करने का माध्यम बना रेलवे

मोदी ने कहा कि भारतीय रेल सिर्फ दूरियों को कनेक्ट करने का माध्यम नहीं है, बल्कि ये देश की संस्कृति, देश के पर्यटन और तीर्थाटन को कनेक्ट करने का भी अहम माध्यम बन रही है। आजादी के इतने दशकों बाद पहली बार भारतीय रेल के इस सामर्थ्य को इतने बड़े स्तर पर explore किया जा रहा है। मोदी ने कहा कि पहले रेलवे को टूरिज्म के लिए अगर उपयोग किया भी गया तो उसको एक प्रीमियम क्लब तक ही सीमित रखा गया। पहली बार सामान्य मानवीय को उचित राशि पर पर्यटन और तीर्थाटन का दिव्य अनुभव दिया जा रहा है। रामायण सर्किट ट्रेन ऐसा ही एक अभिनव प्रयास है।
 

4:27 PM IST

मोदी ने ये भी कहा

  • आज यहां जिन रेल लाइनों के दोहरीकरण और विद्युतीकरण का लोकार्पण हुआ है, उससे रेल के परिचालन में ज्यादा सुगमता आएगी। महाकाल की नगरी और स्वच्छता में शीर्ष इंदौर शहर के बीच में चलने से लोगों को बड़ी सुविधा मिलेगी।
  • आज का दिन भोपाल ही नहीं, वल्कि मध्य प्रदेश और देश के लिए महत्त्व का दिन है। यह हमारे अतीत और भविष्य के संगम का दिन है। गिन्नौरगढ़ की रानी कमलापति का नाम जुड़ने से इस रेलवे स्टेशन का महत्व और भी बढ़ गया है।
  • मोदी ने भोपाल को विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन दिया और इसका नाम गोंड रानी कमलापति जी के नाम पर किया। इसके लिए मैं पूरे मध्यप्रदेश की तरफ से आपका हृदय से धन्यवाद करता हूं। एक जमाना था, जब रेलवे के इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स को भी ड्रॉइंग बोर्ड से ज़मीन पर उतरने में ही सालों-साल लग जाते थे। लेकिन आज भारतीय रेलवे में भी जितनी अधीरता नए प्रोजेक्ट्स की प्लानिंग की है, उतना ही गंभीरता उनको समय पर पूरा करने की है।
  • मोदी ने कहा- आज का भारत, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण के लिए रिकॉर्ड Investment तो कर ही रहा है, ये भी सुनिश्चित कर रहा है कि प्रोजेक्ट्स में देरी ना हो, किसी तरह की बाधा ना आए।
  • भारत कैसे बदल रहा है, सपने कैसे सच हो सकते हैं, ये देखना हो तो आज इसका एक उत्तम उदाहरण भारतीय रेलवे भी बन रही है। भोपाल के इस ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन का सिर्फ कायाकल्प ही नहीं हुआ है, बल्कि गिन्नौरगढ़ की रानी, कमलापति जी का इससे नाम जुड़ने से इसका महत्व भी और बढ़ गया है। गोंडवाना के गौरव से आज भारतीय रेल का गौरव भी जुड़ गया है।

4:27 PM IST

अब प्रोजेक्ट्स में देरी नहीं होती

मोदी ने कहा कि आज का भारत, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण के लिए रिकॉर्ड Investment तो कर ही रहा है, ये भी सुनिश्चित कर रहा है कि प्रोजेक्ट्स में देरी ना हो। हाल में शुरू हुआ पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान इसी संकल्प की सिद्धि में देश की मदद करेगा। जो सुविधाएं कभी एयरपोर्ट में मिला करती थीं, वो आज रेलवे स्टेशन में मिल रही हैं। भारत कैसे बदल रहा है, सपने कैसे सच हो सकते हैं, ये देखना हो तो आज इसका उत्तम उदाहरण भारतीय रेलवे भी बन रहा है।
 

4:18 PM IST

मध्य प्रदेश की झलक देखने को मिलेगी

इस रेलवे स्टेशन में मध्य प्रदेश के पर्यटन और दर्शनीय स्थल- भोजपुर मंदिर, सांची स्तूप और भीमबैठका के चित्र प्रदर्शित किए जा रहे हैं। स्‍टेशन के मेन गेट के अंदर दोनों ओर की दीवारों पर भील, पिथोरा पेंटिंग्स भी होंगे। जनजा‍तीय शिल्‍पकला पेपरमेशी से बनाए गए जनजातीय मुखौटे को मुख्य गेट के सामने की वॉल पर लगाया गया है। फर्स्‍ट फ्लोर पर टूरिस्ट इंफॉर्मेशन लाउंज में एक बड़ी LED स्क्रीन इंस्‍टॉल की गई है, जिससे यात्रियों और पर्यटकों को प्रदेश के पर्यटन स्‍थलों की संपूर्ण जानकारी मिल सकेंगी।

 

4:18 PM IST

पहले रेलवे को कोसते थे लोग

पीएम ने कहा- आज भारतीय रेल का भविष्य कितना आधुनिक है, कितना उज्जवल है। इसका प्रतिबिंब भोपाल के इस भव्य रेलवे स्टेशन में जो भी आएगा, उसे दिखाई देगा। भोपाल के इस ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन का सिर्फ कायाकल्प नहीं हुआ है, बल्कि गिन्नौरगढ़ की रानी का नाम जुड़ने से इसका महत्व और बढ़ गया है। 6 साल पहले तक जिसका भी पाला भारतीय रेल से पड़ता था, वो भारतीय रेल को ही कोसते हुए ज्यादा नजर आता था। लोग चेन लेकर बैग में ताला लगाते थे। दुर्घटना का भी डर रहता था।

 

4:14 PM IST

आज का दिन वैशवशाली इतिहास और भविष्य का संगम

मोदी ने कहा कि भारत कैसे बदल रहा है, कैसे सपने सच हो रहे हैं, ये देखना हो तो भारतीय रेल को देखकर अंदाजा लगा सकते हैं। पहले मन में रेलवे की निगेटिव छवि रहती थी। लोगों ने बदलाव की उम्मीदें तक छोड़ दी थीं। लेकिन, संकल्पों की सिद्धि से सुधार आया। पहले भीड़भाड़, गंदगी, घंटों की टेंशन, बैठने और खाने की असुविधा, सुरक्षा की चिंता रहती थी। अब रानी कमलापति रेलवे स्टेशन के रूप में देश का पहला आईएसओ सर्टिफाई, पहला पीपीपी आधारित रेलवे स्टेशन बन गया है। जो सुविधाएं पहले एयरपोर्ट पर मिलती थीं, अब स्टेशन पर मिल रही हैं।
 

4:06 PM IST

स्टेशन में स्टेशन, रानी कमलापति स्टेशन: वैष्णव

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन को देश का सर्वश्रेष्ठ स्टेशन बताया। उन्होंने ये भी कहा कि स्टेशनों में स्टेशन, रानी कमलापति स्टेशन। कहा- भोपाल मेट्रो को रानी कमलापति स्टेशन से इंटीग्रेट किया जाएगा।
 

4:06 PM IST

मोदी ने स्टेशन का उदघाटन किया

प्रधानमंत्री मोदी ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का लोकार्पण कर दिया। उन्होंने हरी झंडी दिखाकर स्टेशन का उदघाटन किया। ये वर्ल्ड क्लास फैसिलिटी वाला पहला प्राइवेट स्टेशन बन गया है।

3:58 PM IST

रेल मंत्री ने ट्वीट कर स्टेशन की खासियत बताईं

3:50 PM IST

मोदी का स्वागत

रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने मोदी को रानी की प्रतिमा और शॉल भेंट करके स्वागत किया।

 

3:49 PM IST

मोदी की एक झलक पाने को बेताब दिखे लोग

इससे पहले होशंगाबाद रोड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की झलक पाने को लोग खासी मशक्कत करते देखे जा रहे थे। पीएम का काफिला कुछ देर होशंगाबाद रोड पर रुका और रानी कमलापति स्टेशन की धीरे-धीरे चलने लगा। बाद में रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचा।

3:37 PM IST

मोदी रानी कमलापति स्टेशन पहुंचे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंच गए हैं। वे परिसर का अवलोकन कर रहे हैं। थोड़ी देर बाद मोदी इस स्टेशन का उद्घाटन करेंगे। इससे पहले जंबूरी मैदान से रानी कमलापति स्टेशन के रास्ते में मोदी का जगह-जगह फूलों की बारिश के साथ स्वागत किया गया।

 

3:37 PM IST

मुस्लिम महिलाओं ने लगाए हर-हर मोदी, घर-घर मोदी के नारे

जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम स्थल पर मुस्लिम महिलाएं भी बहुत बड़ी संख्या में मौजूद हैं। उन्होंने यहां हर हर मोदी-घर घर मोदी के नारे लगाए। इसके अलावा उन्होंने ट्रिपल तलाक कानून के लिए उन्हें शुक्रिया कहा। जंबूरी मैदान कार्यक्रम स्थल से पीएम मोदी का काफिला हेलीपैड के लिए रवाना हो गया।

3:15 PM IST

मुस्लिम महिलाओं ने लगाए हर-हर मोदी, घर-घर मोदी के नारे

जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम स्थल पर मुस्लिम महिलाएं भी बहुत बड़ी संख्या में मौजूद हैं। उन्होंने यहां हर हर मोदी-घर घर मोदी के नारे लगाए। इसके अलावा उन्होंने ट्रिपल तलाक कानून के लिए उन्हें शुक्रिया कहा। जंबूरी मैदान कार्यक्रम स्थल से पीएम मोदी का काफिला हेलीपैड के लिए रवाना हो गया।

3:15 PM IST

मोदी ने बीजेपी के वयोवृद्ध नेता से मुलाकात की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भोपाल के जंबूरी मैदान में बीजेपी के वयोवृद्ध नेता, समाजसेवी और पूर्व विधायक लक्ष्मी नारायण गुप्त से मुलाकात की और उनका कुशलक्षेम पूछा। गुप्ता 103 साल के हैं। मोदी ने बीते साल गुप्ता के घर फोन करके उनका हाल-चाल जाना था।

 

2:52 PM IST

स्वागत के लिए आधे किलोमीटर में 30 मंच बनाए

थोड़ी देर में हेलीकॉप्टर से मोदी बीयू कैंपस स्थित हेलीपैड पहुंचेंगे। यहां से मोदी का कारकेड होशंगाबाद रोड से होते हुए रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचेगा। बीयू कैंपस से ओवरब्रिज तक मोदी का जोरदार स्वागत होगा। स्वागत के लिए आधे किलोमीटर में 30 मंच बनाए गए हैं।

2:52 PM IST

मोदी को रानी कमलापति की प्रतिमा भेंट की

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गोंडवाना की गौरव रानी कमलापति जी की प्रतिमा भेंट की। रानी कमलापति ने राज्य की रक्षा के लिए मुगल शासकों का बहादुरी से सामना किया था और अंत में अपने सम्मान की रक्षा करते हुए जल समाधि ले ली थी।

2:52 PM IST

थोड़ी देर में रानी कमलापति स्टेशन का उद्घाटन

मोदी थोड़ी देर बाद रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे। वे यहां वर्ल्ड क्लास सुविधाओं से लैस स्टेशन का उदघाटन करेंगे। इसके बाद परिसर का अवलोकन करेंगे।

2:52 PM IST

गांधी, सरदार पटेल की तरह बिरसा मुंडा जयंती मनाएंगे

  • मोदी ने कहा कि पहले की सरकारों में आदिवासी समाज को आगे बढ़ाने के लिए जरूरी राजनैतिक इच्छाशक्ति नहीं थी। बहुत कम थी। आदिवासी सृजन को बाजार से नहीं जोड़ा गया। हमारी सरकार ने जंगल को लेकर भी संवेदनशील कदम उठाए। राज्य में 20 लाख जमीन के पट्‌टे देकर जनजातीय भाइयों की चिंता दूर की। आदिवासी और शिक्षा पर भी बल दे रही है।
  • आज मुझे यहां 50 एकल्वय मॉडल चलाने का अवसर मिला। हमारा लक्ष्य देश में ऐसे लगभग 750 स्कूल खोलने का है। 7 साल पहले हर छात्र पर सरकार करीब 40 हजार खर्च करती थी, जो आज बढ़कर एक लाख से अधिक हो चुका है। इससे जनजातीय छात्र-छात्राओं को अधिक सुविधा मिल रही है। केंद्र सरकार हर साल स्कॉलरशिप भी दे रही है। उच्च शिक्षा और रिसर्च से जोड़ने के लिए भी अभूतपूर्व काम किया जा रहा है।
  • जनजातीय समाज के बच्चों को एक बहुत बढ़ी दिक्कत भाषा की भी होती थी, नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में स्थानीय भाषा में होगी। इसका लाभ हमारे बच्चों को मिलना तय है।
  • जनजातीय समाज के आत्मविश्वास के लिए, अधिकार के लिए हम दिन-रात मेहनत करेंगे। हम इस संकल्प को फिर दोहरा रहे हैं कि जैसे हम गांधी जयंती मनाते हैं, सरदार पटेल की जयंती मनाते हैं, वैसे ही भगवान बिरसा मुंडा की जयंती हर साल जनजातीय गौरव दिवस के रूप में पूरे देश में मनाई जाएगी।

2:47 PM IST

आज जनजातीय समाज को उसका हक मिल रहा है

मोदी ने कहा कि हमारे जनजातीय कलाकारों के हाथ में जबरदस्त कला है। मामूली चीजों से भी ऐसी कृति बना देते हैं कि प्रकृति का सौंदर्य सामने आ जाता है, लेकिन दुखद है कि उनके अधिकारों को वर्षों तक कानून के नाम पर उलझा कर रखा गया: जनजातीय समाज के हितों की रक्षा एवं कल्याण के लिए जिस राजनीतिक इच्छा शक्ति की जरूरत थी, दशकों तक देश में राज करने वालों के मन में नहीं था। आज जनजातीय समाज को उसका हक मिल रहा है।

2:38 PM IST

आदिवासियों को नजरअंदाज किया गया

देश की आबादी का करीब करीब 10% होने के बावजूद दशकों तक, जनजातीय समाज को, उनकी संस्कृति, उनके सामर्थ्य को पूरी तरह नजरअंदाज कर दिया गया। आदिवासियों का दुःख, उनकी तकलीफ, बच्चों की शिक्षा उन लोगों के लिए कोई मायने नहीं रखती थी।
 

2:38 PM IST

पद्म पुरस्कार लेने जनजातीय समाज पहुंची तो लोग हैरान रह गए

मोदी ने कहा कि अभी हाल में पद्म पुरस्कार दिए गए हैं। राष्ट्रपति भवन में पद्म पुरस्कार के लिए जब हमारी जनजातीय विभूतियां पहुंचीं तो उनके पैरों में चप्पल भी नहीं थीं। यह देखकर दुनिया हैरान रह गई। यह जनजातीय क्षेत्रों में काम करने वाले ही हमारे असली हीरो हैं। आदिवासी और ग्रामीण समाज में काम करने वाले ये देश के असली हीरे हैं। देश का जनजातीय क्षेत्र, संसाधनों के रूप में, संपदा के मामले में हमेशा समृद्ध रहा है। लेकिन जो पहले सरकार में रहे, वो इन क्षेत्रों के दोहन की नीति पर चले। हम इन क्षेत्रों के सामर्थ्य के सही इस्तेमाल की नीति पर चल रहे हैं। आज चाहे गरीबों के घर हों, शौचालय हों, मुफ्त बिजली और गैस कनेक्शन हों, स्कूल हो, सड़क हो, मुफ्त इलाज हो, ये सबकुछ जिस गति से देश के बाकी हिस्से में हो रहा है, उसी गति से आदिवासी क्षेत्रों में भी हो रहा है।

2:38 PM IST

बाबा साहेब पुरंदरे को श्रद्धांजलि दी

यहां की सरकार ने उन्हें कालिदास पुरस्कार भी दिया था। छत्रपति शिवाजी महाराज के जिन आदर्शों को बाबासाहेब पुरंदरे जी ने देश के सामने रखा, वो आदर्श हमें निरंतर प्रेरणा देते रहेंगे। मैं बाबासाहेब पुरंदरे जी को अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि देता हूं। आजादी की लड़ाई में जनजातीय नायक-नायिकाओं की वीर गाथाओं को देश के सामने लाना, उसे नई पीढ़ी से परिचित कराना, हमारा कर्तव्य है। गुलामी के कालखंड में विदेशी शासन के खिलाफ खासी-गारो आंदोलन, मिजो आंदोलन, कोल आंदोलन समेत कई संग्राम हुए।

2:38 PM IST

स्वार्थ की राजनीति में इतिहास छिपाया

मोदी ने कहा कि आज जब हम राष्ट्रीय मंचों से, राष्ट्र निर्माण में जनजातीय समाज के योगदान की चर्चा करते हैं, तो कुछ लोगों को हैरानी होती है। ऐसे लोगों को विश्वास ही नहीं होता कि जनजातीय समाज का भारत की संस्कृति को मजबूत करने में कितना बड़ा योगदान रहा है। मोदी ने कहा कि इसकी वजह ये है कि जनजातीय समाज के योगदान के बारे में या तो देश को बताया ही नहीं गया और अगर बताया भी गया तो बहुत ही सीमित दायरे में जानकारी दी गई। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि आजादी के बाद दशकों तक जिन्होंने देश में सरकार चलाई, उन्होंने अपनी स्वार्थ भरी राजनीति को ही प्राथमिकता दी। ‘पद्म विभूषण’ बाबासाहेब पुरंदरे जी ने छत्रपति शिवाजी महाराज के जीवन को, उनके इतिहास को सामान्य जन तक पहुंचाने में जो योगदान दिया है, वो अमूल्य है।

2:34 PM IST

जनजातीय समाज की वीर गाथाएं सामने लाएंगे

मोदी बोले- मुझे खुशी है कि मध्य प्रदेश में जनजातीय परिवारों में तेजी से टीकाकरण हो रहा है।  हमारे आदिवासी भाई-बहन टीकाकरण के महत्व को समझते भी हैं, स्वीकारता भी हैं और देश को बचाने में अपनी भूमिका निभा रहे हैं, इससे बड़ी समझदारी क्या हो सकती है। आजादी की लड़ाई में जनजातीय नायक-नायिकाओं की वीर गाथाओं को देश के सामने लाना, उसे नई पीढ़ी से परिचित कराना, हमारा कर्तव्य है। गुलामी के कालखंड में विदेशी शासन के खिलाफ खासी-गारो आंदोलन, मिजो आंदोलन, कोल आंदोलन समेत कई संग्राम हुए। जनजातीय भाई-बहनों के कल्याण के लिए शिवराज जी की सरकार ने कई योजनाएं शुरू की हैं। मुझे संतोष है कि 'राशन आपके ग्राम' योजना से आपको राशन भी मिलेगा और समय भी बचेगा।
 

2:34 PM IST

आदिवासी समाज को गुमराह किया

मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने इतिहास ठीक से नहीं बताया। या तो दबा दिया। आदिवासी समाज को गुमराह किया। गोंड महारानी वीर दुर्गावती का शौर्य हो या फिर रानी कमलापति का बलिदान, देश इन्हें भूल नहीं सकता। वीर महाराणा प्रताप के संघर्ष की कल्पना उन बहादुर भीलों के बिना नहीं की जा सकती जिन्होंने कंधे से कंधा मिलाकर लड़ाई लड़ी और बलिदान दिया। 

2:27 PM IST

अंत समय में पछताने जैसा कोई काम नहीं करना चाहिए

मोदी ने कहा कि जनजातीय कलाकारों ने जो प्रस्तुति दी उसमें जीवन का आदर्श, रहस्य समाहित है, जो हमें कर्तव्य पथ पर आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। जीवन के विभिन्न दौर को जीते हुए हमें अपने अंत समय में पछताना पड़े, ऐसा कोई कार्य नहीं करना चाहिए। मोदी ने पंक्तियां पढ़कर सुनाईं और कहा- धरती खेत खलिहान किसी के नहीं हैं, अपने मन में गुमान करना व्यर्थ है। ये धन, दौलत कोई काम के नहीं हैं। इसे यहीं छोड़कर जाना है। आप देखिए, आदिवासी के संगीत में नृत्य में जो शब्द कहे गए हैं, वो जीवन का उत्तम तत्वज्ञान मेरे आदिवासी भाई-बहनों ने आत्मसात किया है।

2:27 PM IST

आदिवासी परंपरा जीवन जीने का इरादा सिखाती

मोदी ने कहा- मेरा ये अनुभव रहा है कि जीवन के महत्वपूर्ण कालखंड को मैंने आदिवासियों के बीच बिताया है। जीवन जीने का कारण, जीवन जीने के इरादे को आदिवासी परंपरा बखूबी प्रस्तुत करती है।
 

2:24 PM IST

राशन आपके ग्राम योजना का शुभारंभ

इससे पहले प्रधानमंत्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राशन आपके ग्राम योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने इस योजना में गांव तक राशन ले जाने वाले युवाओं को प्रतीकात्मक रूप से वाहनों की चाबी प्रदान की। यह युवा जनजातीय समुदाय से ही हैं।

2:24 PM IST

देश के लिए गौरव की बात: मोदी

मोदी ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार आदिवासी समाज की कला, संस्कृति और स्वतंत्रता संग्राम और राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को गर्व से याद और सम्मानित किया जा रहा है। ये पूरे देश के लिए गौरव की बात है।
 

2:17 PM IST

आज देश के लिए बड़ा दिन

मोदी ने कहा कि आज का दिन पूरे देश के लिए पूरे जनजातीय समाज के लिए बहुत बड़ा दिन है। आज भारत अपना पहला जनजातीय गौरव दिवस मना रहा है। आप सभी को भगवान बिरसा मुंडा के जन्मदिन पर बहुत-बहुत शुभकामनाएं। 

2:13 PM IST

आदिवासियों से मोदी की राम-राम

मंच पर मोदी ने जनजातीय अंदाज में लोगों का स्वागत और अभिवादन किया। मोदी ने कहा- हूं तमारो स्वागत करूं...। इसके बाद आदिवासी समाज से राम-राम भी कहा।

1:59 PM IST

दिग्विजय-कमलनाथ पहले आदिवासी विरोधी कहते थे, अब फिजूलखर्ची बता रहे: शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज ने पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को घेरा। उन्होंने कहा कि दो-दो पूर्व मुख्यमंत्री हम पर हमला कर रहे हैं। जो कहते थे बीजेपी आदिवासी विरोधी है, आज वही कह रहे हैं कि जनजातीय सम्मेलन फिजूलखर्ची है। वे आईफा (IIFA) जैसे आयोजनों पर हीरो-हीरोइनों पर करोड़ों खर्च करते हैं। उन्होंने कहा कि पेसा कानून चरणबद्ध तरीके से पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। आबकारी नीति ऐसी बनाई जाएगी, जो आपकी परंपराओं का पालन करे। जनजातीय भाइयों का कर्जा माफ करवाया जाएगा। हर गांव में आदिवासी भाई-बहनों को ट्रेंड कर रोजगार दिया जाएगा।

1:59 PM IST

एमपी में पेसा कानून लागू होगा

शिवराज ने कहा कि सामाजिक समरसता को कायम करते हुए मध्य प्रदेश में पेसा कानून लागू किया जाएगा, जिससे हमारे जनजातीय भाई-बहनों के अधिकारों की रक्षा हो सके। पीएम मोदीजी ने कोरोना की दोनों लहर के दौरान मध्य प्रदेश को 9,857 करोड़ रुपये का मुफ्त राशन दिया। आज प्रधानमंत्रीजी 'राशन आपके ग्राम' योजना का शुभारंभ कर आपके जीवन को और सरल बनाने का मार्ग प्रशस्त करेंगे।

1:59 PM IST

कांग्रेस को तकलीफ होती है: शिवराज

कांग्रेस आरोप लगाती है कि हम जनजातीय गौरव के नाम पर पैसे की बर्बादी कर रहे हैं। कांग्रेस ने तो कभी जनजातीय भाई-बहनों के लिए कुछ किया नहीं, हम मोदीजी के नेतृत्व में काम कर रहे हैं तो उन्हें तकलीफ हो रही है।
 

1:59 PM IST

आदिवासी समाज से शिवराज का वादा

शिवराज का कहना था कि हमारे जनजातीय नायकों ने देश की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व बलिदान दिया। गोंड वंश की रानी कमलापति के साथ मोहम्मद अफगानी ने धोखा दिया, लेकिन उन्होंने मान सम्मान की रक्षा के लिए जल समाधि ले ली। मोदीजी ने कोरोना से बचाव के लिए पूरे देश को वैक्सीन की सुरक्षा दी। पहले जहां जीवन रक्षक दवाइयां विदेश से आती थीं, वहीं टीकाकरण के लिए दवा भारत में ही बनवाई। हमारे जनजातीय भाई-बहनों राशन के लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है। राशन गांवों तक पहुंचेगा और इसे पहुंचाने का काम जनजातीय युवा ही करेंगे, जिससे उन्हें रोजगार मिलेगा।
 

1:52 PM IST

शिवराज बोले- रानी कमलापति को कांग्रेस ने भुला दिया था

रानी कमलापति को भुला दिया गया था। ना तो अंग्रेजों ने और न ही कांग्रेस ने उन्हें इतिहास में उचित स्थान दिया। लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी ने हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम रानी कमलापति के नाम पर रखा।

 

1:50 PM IST

मोदी ने जनजातीय नायकों का देश पर कर्ज उतारा: शिवराज

शिवराज ने कहा कि मैं भगवान बिरसा मुंडा के चरणों में प्रणाम करता हूं। उन्होंने अंग्रेजों के अत्याचार से मुक्ति और जल, जंगल, जमीन एवं संस्कृति तथा परंपराओं की रक्षा के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। उन्होंने ये भी कहा कि मोदीजी ने भगवान बिरसा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस घोषित कर देश के जनजातीय नायकों का देश पर कर्ज उतार दिया है। हम सभी प्रधानमंत्री जी का आभार व्यक्त करते हैं।

1:47 PM IST

शिवराज ने मोदी को धन्यवाद दिया

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनजातीय गौरव दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और कहा कि मैं प्रधानमंत्री जी को धन्यवाद देता हूं कि आपने रानी कमलापति के नाम पर हबीबगंज स्टेशन का नाम किया।

 

1:44 PM IST

बिरसा मुंडा को नमन किया

प्रधानमंत्री मोदी का लोक नृत्य से स्वागत किया गया। इससे पहले उन्होंने मंच पर भगवान बिरसा मुंडा को नमन किया। मंच पर रानी कमलापति की मूर्ति भी रखी गई है। मोदी ने आदिवासी कला पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। समाज के लोगों को सम्मानित किया।

 

1:20 PM IST

मंच पर पहुंचे मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जंबूरी मैदान में कार्यक्रम स्थल के मंच पर पहुंच गए हैं। उन्होंने हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन किया। मोदी का मंच पर आदिवासी पारंपरिक अंदाज में स्वागत किया गया। उन्हें झाबुआ की जैकेट और डिंडोरी  पहनाई गई। तीर धनुष भी दिया गया।

 

 

1:11 PM IST

प्रदर्शनी देख रहे मोदी

प्रधानमंत्री जंबूरी मैदान में आदिवासी समाज के महानायकों की प्रदर्शन देख रहे हैं। उनके साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत अन्य भाजपा नेता मौजूद हैं। ये रानी दुर्गावती की जीवनी पर आधारित प्रदर्शनी है।

12:51 PM IST

मोदी भोपाल पहुंचे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भोपाल पहुंच गए हैं। स्टेट हैंगर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल मंगूभाई पटेल ने उनकी अगवानी की। इसके बाद जंबूरी मैदान में कार्यक्रम में शामिल होने हेलीकाप्टर से पहुंचे।

12:35 PM IST

सिंधिया भी रंगे पारंपरिक माहौल में

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत बीजेपी के कई नेता भोपाल के जंबूरी मैदान पहुंच गए। कार्यक्रम स्थल पूरी तरह लोक रंग में रंगा हुआ है। वहीं, प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल मंगूभाई पटेल स्टेट हैंगर पहुंच गए। वे यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगवानी करेंगे।

 

12:16 PM IST

ये नृत्य पेश किए जा रहे

प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत में जंबूरी मैदान पर लोक नृत्य में कई जनजातियों के कलाकार गुदुम समेत अन्य नृत्य पेश कर रहे हैं। गुदुम बाजा, टिमकी, ढफ, मंजीरा और शहनाई जैसे वाद्य यंत्रों के साथ किया जाता है, इसमें हस्त-पद संचालन के माध्यम से विभिन्न नृत्य मुद्राएं और पिरामिड बनाते हैं।

12:16 PM IST

आदिवासी समाज पेश कर रहे नृत्य

भोपाल के जंबूरी मैदान में जनजातीय गौरव दिवस पर आदिवासी समाज के लोग प्रस्तुतियां दे रहे हैं।

 

12:16 PM IST

दुकानें बंद, रास्ते बदले गए, ऑटो वाले वसूल रहे दोगुना किराया

रानी कमलापति रेलवे स्टेशन के आसपास की सभी दुकानें बंद हैं। हबीबगंज अंडरब्रिज से आगे का रास्ता बंद कर दिया गया है। गोविंदपुरा भेल से अवधपुरी चौराहा और बोर्ड ऑफिस से रानी कमलापति स्टेशन तक का रास्ता बंद है। रानी कमलापति (पुराना नाम हबीबगंज) रेलवे स्टेशन पर भी तगड़ी सुरक्षा है। बसों का रूट बदल जाने से यात्रियों को परेशानी हो रही है। ऑटोवाले दोगुना किराया ले रहे हैं। ज्यादातर लोग पैदल ही रास्ता तय कर रहे हैं।

12:16 PM IST

आदिवासियों में देखा जा रहा है उत्साह

जंबूरी मैदान में भाजपा समर्थकों और आदिवासियों के आने से मैदान में बड़ी संख्या में भीड़ देखी जा रही है। आदिवासियों में जबरदस्त उत्साह है। वे डांस करते हुए जंबूरी मैदान आ रहे हैं। कई मंत्री भी आ चुके हैं। सांसद सुमेर सिंह सोलंकी पारंपरिक वेशभूषा में आए हैं। सुमेर ने आदिवासियों को संबोधित किया। झाबुआ से आए आदिवासियों ने भगोरिया नृत्य किया।


 

12:03 PM IST

पीएम मोदी के स्वागत में भोपाल में शुरू हुए लोक नृत्य

पीएम मोदी के भोपाल में स्वागत के लिए जंबूरी मैदान पर अभी से लोक नृत्य शुरू हो गए हैं। वहीं समारोह के दौरान कई जनजातियों के कलाकार गुदुम सहित कई नृत्य पेश करेंगे। जो कि गुदुम बाजा, टिमकी, ढफ, मंजीरा और शहनाई जैसे वाद्य यंत्रों के साथ किए जाएंगे।

 

11:28 AM IST

ये सौगातें मिलेंगी

  • पीएम मध्य प्रदेश सिकल सेल (हीमोग्लोबिन पैथी) मिशन के शुभारंभ करेंगे और लाभार्थियों को आनुवंशिक परामर्श कार्ड भी सौंपेंगे। इसके साथ ही मोदी आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, त्रिपुरा और दादरा और नगर हवेली और दमन दीव समेत विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 50 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों की आधारशिला रखेंगे।
  • मोदी आदिवासी स्वयं सहायता समूहों के बनाए गए उत्पादों की प्रदर्शनी और एमपी के आदिवासी समुदाय के शहीदों और स्वतंत्रता संग्राम के नायकों की फोटो प्रदर्शनी का भी अवलोकन कर सकते हैं। पीएम करीब 3 बजे भोपाल के पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का उद्घाटन करेंगे और एमपी में रेलवे की कई अन्य सुविधाओं का ऑनलाइन शुभारंभ करेंगे।
  • इनमें उज्जैन-चंद्रावतीगंज ब्रॉड गेज खंड, भोपाल-बरखेड़ा खंड में तीसरी लाइन, मथेला-निमाड़ खेड़ी ब्रॉड गेज खंड और गुना-ग्वालियर विद्युतीकरण खंड शामिल हैं। इसके साथ ही पीएम उज्जैन-इंदौर और इंदौर-उज्जैन रेल मार्ग पर दो नई मेमू ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाएंगे।

PM Modi करेंगे World class station का उद्घाटन, देखिए अंदर से कैसा दिखता है Rani Kamlapati Railway Station 

 

11:18 AM IST

मोदी देश के पहले वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन का उदघाटन करेंगे, जानें वो 10 खास बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को देश के पहले वर्ल्ड क्लास स्टेशन रानी कमलापति रेलवे स्टेशन (पहले हबीबगंज नाम ) का लोकार्पण करेंगे। इस स्टेशन को पूरी तरह एयरपोर्ट की तर्ज पर बनाया गया है, इसे सार्वजनिक-निजी भागीदारी से विकसित किया गया है। इसका मैंटेनेंस भी प्राइवेट कंपनी ही करेगी। यहां लोगों के लिए शानदार वेटिंग लाउंज, सूचना के लिए बड़ी-बड़ी स्क्रीन्स, फूड जोन सहित कई खास बातें होंगी। जानिए...

  • वर्ल्ड क्लास कमलापति रेलवे स्टेशन पर एयरपोर्ट की तरह ही शॉपिंग, शॉप्स, कैफेटेरिया और एयर कॉन्कोर्स है।
  • प्लेटफॉर्म पर 2000 ट्रैवलर्स ट्रेनों का इंतजार कर सकते हैं। एयर कॉन्कोर्स में 900 पैसेंजर्स बैठ सकते हैं, इसे इस तरह से डिजाइन किया गया है कि इंतजार कर रहे लोग परेशान न हों।
  • यहां 2 सब-वे भी बनाए हैं, इसमें से करीब 1500 लोग गुजर सकते हैं, इसलिए भीड़भाड़ में भी परेशानी नहीं होगी। लोग बिना टकराए और बिना धक्का-मुक्की के आसानी से गुजरेंगे।
  • एंट्री अलग और एग्जिट गेट अलग होगा। ट्रेन से उतरकर बाहर आने वाले लोग सब-वे का इस्तेमाल करेंगे और सीधे रेलवे स्टेशन से बाहर आ जाएंगे, जबकि ट्रेन पकड़ने वाले एयर कॉन्कोर का इस्तेमाल कर सीधे ट्रेन पकड़ लेंगे।
  • स्टेशन को 450 करोड़ रुपए में बनाया गया है, इसका एयर कॉन्कोर्स 84 मीटर लंबा और 36 मीटर चौड़ा है, इसलिए लोग आपस में नहीं टकराएंगे।
  • एयरपोर्ट की तरह ही वेटिंग लाउंज तैयार किए गए हैं। ट्रेन की जानकारी देने के लिए बड़ी-बड़ी एलईडी स्क्रीन्स लगाई गई हैं। लोग वेटिंग लाउंज में बोर न हों, इसके लिए उन्हें प्रदेश के टूरिज्म स्पॉट्स और हिस्ट्री की जानकारी दी जाएगी।
  • ये देश का पहला 5 स्टार जीईएम रेंटिंग वाला स्टेशन है। इसे लाइट से जगमग करने के लिए सोलर एनर्जी का इस्तेमाल किया जाएगा।
  • ये देश का पहला ग्रीन स्टेशन भी है। यह देश का पहला रेलवे स्टेशन है जो एनएफपीए (राष्ट्रीय अग्नि सुरक्षा अधिनियम) का ध्यान रख रहा है।
  • यात्रियों की आवाजाही को लेकर भी इस तरीके से व्यवस्थाएं की गई हैं कि इमरजेंसी में 4 मिनट के अंदर पूरा स्टेशन खाली हो सकेगा और यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया जाएगा।
  • यहां 150 से ज्यादा पावर के हाई रिजॉल्यूशन सीसीटीवी कैमरा लगाए हैं। स्टेशन के अंदर दाखिल होने वाली गाड़ी के नंबर से लेकर आने-जाने वाली सवारियों पर भी नजर रखी जाएगी।

मुंबई, दिल्ली, पुणे और बेंगलुरु को भी हबीबगंज स्टेशन ने छोड़ा पीछा, फाइव स्टार होटल से कम नहीं है फैसेलिटी.. 

11:05 AM IST

शिवराज बोले- अंग्रेजों और कांग्रेस ने गलत इतिहास पढ़ाया

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं भगवान बिरसा मुंडा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने के निर्णय के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद देता हूं। यह हमारे आदिवासी योद्धाओं की वीरता का उचित सम्मान है। अंग्रेजों और कांग्रेस ने गलत इतिहास पढ़ाया। स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास को एक परिवार का इतिहास बनाया गया।

11:05 AM IST

गृह मंत्री मिश्रा ने ट्वीट कर मोदी का स्वागत किया

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भोपाल में  नए भारत का नया अध्याय लिखने आ रहे हैं। उनका स्वागत करते हैं। 

 

10:49 AM IST

ऐसे किया जाएगा मोदी का स्वागत

पीएम मोदी का भोपाल में मेगा रोड शो होगा। आधे किलोमीटर में इस मेगा रोड शो के लिए करीब 30 मंच बनाए गए हैं। इन मंच पर आदिवासी लोक नृत्य होंगे। मंच के पास ही बीजेपी नेता और कार्यकर्ता कतार में खड़े होंगे और पीएम का स्वागत करेंगे। इस दौरान पीएम पर फूलों की बारिश भी की जाएगी।
 

 

10:49 AM IST

सिंधिया भोपाल आए, बोले- जो किसी ने नहीं किया, वो मोदी कर रहे हैं

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल एयरपोर्ट पहुंचे। यहां शिवराज सरकार के मंत्रियों और भाजपा नेताओं ने उनका स्वागत किया। सिंधिया ने कहा कि आदिवासियों के लिए जो पिछली सरकारों ने नहीं किया, वो आज प्रधानमंत्री मोदी करने जा रहे हैं।
 

10:39 AM IST

मेरे लिए आज भावनात्मक दिन: मोदी

रांची में बिरसा मुंडा जनजातीय संग्रहालय के उद्घाटन पर पीएम मोदी ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी की दृढ़ इच्छाशक्ति के कारण झारखंड अस्तित्व में आया। उन्होंने ही अलग जनजातीय मामलों का मंत्रालय बनाया था और जनजातीय हितों को राष्ट्र की नीतियों से जोड़ा था। आज झारखंड स्थापना दिवस पर मैं भी अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देता हूं। मोदी ने कहा कि मैंने अपने जीवन का एक बड़ा हिस्सा आदिवासी भाइयों और बहनों और बच्चों के साथ बिताया है। मैं उनके सुख-दुख, दैनिक जीवन और उनके जीवन की आवश्यकताओं का साक्षी रहा हूं। इसलिए, आज का दिन मेरे लिए व्यक्तिगत रूप से भी एक भावनात्मक दिन है।

Ranchi: PM Modi ने बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान का वर्चुअल उद्घाटन किया, कहा- आज का दिन ऐतिहासिक

10:21 AM IST

मोदी ने रांची में बिरसा मुंडा संग्रहालय का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रांची में बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान (Birsa Munda Memorial Garden cum Museum) का ऑनलाइन उद्घाटन किया है। पीएम ने कहा कि 15 नवंबर की ये तारीख कई मायनों में ऐतहासिक है। आज भगवान बिरसा मुंडा की जन्मजयंती, झारखंड के स्थापना दिवस और देश की आजादी के अमृत महोत्सव का कालखंड है। ये अवसर हमारी राष्ट्रीय आस्था का अवसर है, भारत की पुरातन आदिवासी संस्कृति के गौरवगान का अवसर है। 
 

 

9:50 AM IST

इन योजनाओं का शुभारंभ होगा

राशन आपके ग्राम योजना: दो चालकों को राशन वाहन की चाबी सौंपी जाएगी। शॉर्ट मूवी दिखाई जाएगी। 
सिकल सेल मिशन: 2 व्यक्तियों को जेनेटिक काउंसलिंग कार्ड सौंपकर प्रोजेक्ट की शुरुआत होगी।
20 नवनियुक्त पीवीटीजी (पर्टिकुलरली वल्नरेवल ट्राइबल ग्रुप): 3 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देकर योजना शुरू होगी।
एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय: 50 एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों का वर्चुअली भूमिपूजन होगा।
मध्य प्रदेश सिकल सेल मिशन: लघु फिल्म का दिखाई जाएगी। तीन व्यक्तियों को जेनेटिक काउंसलिंग कार्ड देकर प्रोजेक्ट का शुभारंभ होगा।
प्रदेश में टीकाकरण उपलब्धि और शत-प्रतिशत कोरोना का टीका लगवाने की उपलब्धि वाले जनजातीय बहुल गांव नरसिंह अरोड़ा, जिला झाबुआ पर आधारित लघु फिल्म का प्रदर्शन।

9:24 AM IST

मैदान में आदिवासी संस्कृति की झलक

कार्यक्रम स्थल पर हर जगह पर आदिवासी संस्कृति की झलक दिख रही है। मैदान में चारों तरफ आदिवासी योद्धाओं के कटआउट्स लगे हैं। हर जगह एलईडी टीवी लगाए गए हैं। दर्शक दीर्घा में बैठे लोग पीएम का भाषण आसानी से देख और सुन सकते हैं। आदिवासी योद्धाओं की वीर गाथा की झलक भी मैदान में देखने को मिल रही है।
 

 

9:24 AM IST

खाने में इन चीजों का इंतजाम

पीएम के लिए खाने का भी इंतजाम किया गया है। खाने की जिम्मेदारी पर्यटन विभाग के अफसरों को दी गई है। मोदी के लिए नारियल पानी, मसाला चाय, मौसमी जूस, लौकी जूस और हरी सब्जियों का इंतजाम है।
 

9:24 AM IST

मंच पर ऐसे बैठेंगे मोदी के 8 मंत्री

मंच पर मोदी के साथ उनकी कैबिनेट के 8 मंत्री मौजूद रहेंगे। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, नरेंद्र सिंह तोमर, धर्मेंद्र प्रधान, ज्योतिरादित्य सिंधिया, वीरेंद्र खटीक, एल मुरुगन, फग्गन सिंह कुलस्ते और प्रहलाद पटेल मौजूद रहेंगे। इस पहली पंक्ति में राज्यपाल, मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष के अलावा शिवराज कैबिनेट के सदस्य व मीना सिंह, बिसाहूलाल सिंह, विजय शाह और प्रेम सिंह पटेल बैठेंगे। दूसरी पंक्ति में आदिवासी नेता व सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, संपतिया उईके, गजेंद्र सिंह पटेल, दुर्गादास उईके और गुमान सिंह डामोर बैठेंगे।

PM Modi In Bhopal : भोपाल में ट्रैफिक रूट में किए गए बदलाव, घर से निकलने से पहले जान लें रास्ते

9:15 AM IST

बड़े नेता करेंगे स्वागत

जनजातीय सम्मेलन के मंच पर पीएम मोदी का स्वागत करने वालों की सूची में बीजेपी प्रदेश प्रभारी पी मुरलीधर राव, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय समेत सभी मंत्री शामिल हैं। इनमें आदिवासी नेताओं को तरजीह दी जाएगी। 

9:00 AM IST

एयरपोर्ट पर आदिवासी जनप्रतिनिधियों से मिलेंगे मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश के आदिवासी मंत्रियों, सांसदों और विधायकों से एयरपोर्ट पर मुलाकात करेंगे। केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते समेत 20 से ज्यादा नेता यहां मौजूद रहेंगे। मोदी इन नेताओं से बातचीत भी कर सकते हैं।
 

8:32 AM IST

मोदी ने झारखंड दिवस की बधाई दी

बता दें कि जनजाति से ताल्लुक रखने वाले बिरसा मुंडा का जन्म 15 नवंबर 1875 को हुआ था। वे आदिवासी नेता और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे। 19वीं सदी के अंत में भारत में ब्रिटिश शासन के खिलाफ एक मजबूत विरोध के रूप में बिरसा को याद किया जाता है। वे बिहार और झारखंड के आदिवासी इलाकों में जन्मे और पले-बढ़े। उन्होंने 25 साल की उम्र से पहले ही ये उपलब्धियां हासिल कर ली थीं। राष्ट्रीय आंदोलन पर उनके प्रभाव को देखते हुए 2000 में उनकी जयंती (15 नवंबर) पर झारखंड राज्य बनाया गया था। 9 जून, 1900 को रांची जेल में उनकी मृत्यु हो गई। 

 

8:32 AM IST

पीएम मोदी ने बिरसा मुंडा को दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आदिवासी स्वतंत्रता सेनानी बिरसा मुंडा को याद किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। मोदी ने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन को तेज धार देने और आदिवासी समाज के हितों की रक्षा के लिए संघर्ष करने में योगदान महत्वपूर्ण है। उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी। आज उनकी जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। देश के लिए उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा। प्रधानमंत्री जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भोपाल आ रहे हैं। वे यहां कई जनजातीय समुदाय के कल्याण के लिए कई योजनाओं का ऐलान कर सकते हैं। इसके अलावा, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रांची में भगवान बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान का उद्घाटन करेंगे।

 

8:18 AM IST

मोदी को भेंट किया जाएगा अमृत कलश

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री को अमृत माटी कलश भेंट किया जाएगा। इसमें आजादी के लिए बलिदान देने वाले महापुरूषों की जन्मभूमि, बलिदान भूमि और उनके जीवन से जुड़े 75 स्थानों की मिट्‌टी होगी। प्रधानमंत्री के सामने 46 जनजातियों के 700 से ज्यादा कलाकार जनजातीय समुदाय की कला, संस्कृति और धरोहर के विविध स्वरूप को प्रदर्शित करने वाली प्रस्तुति देंगे।

8:10 AM IST

ये भी रहेगा खास...

जंबूरी मैदान में पीएम मोदी बीजेपी के वयोवृद्ध नेता लक्ष्मी नारायण गुप्ता का सम्मान करेंगे। इसके अलावा, पीएम को आदिवासी कलाकार भूरी बाई और भज्जू सिंह श्याम अपनी पेंटिंग भेंट करेंगे। पीएम के कार्यक्रम से पहले फिल्म गायक कैलाश खेर और चेन्नई पारंपरिक मांदल पर शिवमणि की प्रस्तुति भी होगी। 
 

8:10 AM IST

प्रदर्शनी का अवलोकन करेंगे, दो बार संबोधन देंगे मोदी

कार्यक्रम स्थल पर स्व सहायता समूह के उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई गई है। प्रधानमंत्री  इसका अवलोकन भी करेंगे। इसके बाद दोपहर 2 बजे से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भाषण होगा। 2.15 बजे से पीएम का भाषण शुरू होगा, जो करीब 25 से 30 मिनट तक चलेगा। मोदी 3.10 बजे रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे और लोकार्पण के बाद स्टेशन का अवलोकन करेंगे। यहां भी मोदी का संबोधन होगा। यहीं से वे एयरपोर्ट के लिए रवाना हो जाएंगे।

7:59 AM IST

2 लाख आदिवासी आएंगे, इन नेताओं को मंच पर जाने की अनुमति

भोपाल में बिरसा मुंडा की जंयती पर जंबूरी मैदान में आयोजित महासम्मेलन में प्रदेशभर के 37 जिलों के करीब 2 लाख आदिवासियों के शामिल होने का दावा किया गया है। मंच पर प्रधानमंत्री के अलावा राज्यपाल मंगूभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर समेत 8 केंद्रीय मंत्री, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और प्रदेश के आदिवासी नेता रहेंगे।
 

7:59 AM IST

3 साल बाद भोपाल आ रहे पीएम मोदी

पीएम मोदी 3 साल बाद भोपाल आ रहे हैं। ये उनका भोपाल में छठवां दौरा है। इससे पहले वे सितंबर 2018 में भोपाल आए थे। तब यहां कार्यकर्ता महाकुंभ कार्यक्रम को संबोधित किया था। इससे पहले मई 2017 में नर्मदा संरक्षण यात्रा के समापन कार्यक्रम में अमरकंटक गए थे।
 

7:59 AM IST

शिवपुरी से भी आई है ‘मोदी जैकेट’

शिवपुरी जिले के बदरवास की महिला स्व सहायता समूह प्रगति ने ‘मोदी जैकेट’ तैयार की है। ये समूह इसे भोपाल लेकर आया है। महिला समूह ये जैकेट प्रधानमंत्री को भेंट करेगा। बदरवास में 2500 महिलाएं खादी से जैकेट बनाने का काम करती हैं। इन्होंने की खुद मोदी के लिए विशेष जैकेट बनाई है। जनजातीय गौरव दिवस के कार्यक्रम में प्रदर्शनी लगाई गई है, जिसमें 24 प्रोडक्ट हैं, जिनका अवलोकन पीएम मोदी करेंगे।
 

7:52 AM IST

मोदी को दी जाएगी ये खास भेंट

पीएम मोदी को आदिवासियों के हाथों से बनी कलाकृतियां भेंट की जाएंगी। इसमें झाबुआ से कोटि (जैकेट) मंगवाई गई है, इसे भीलों ने तैयार किया है। साफा और बीरन माला डिंडौरी के बैगाओं ने तैयार की है। जबकि जोबट के भीलों ने धनुष-वाण बनाकर भेजा है। 

PM Modi के लिए झाबुआ की जैकेट, डिंडोरी की साफा-माला और जोबट से आया धनुष-बाण

7:52 AM IST

PM MODI का भोपाल में मिनट टू मिनट कार्यक्रम

  • दोपहर 12.35 बजे भोपाल एयरपोर्ट पहुंचेंगे।
  • दोपहर 1 बजे बीयू हेलीपैड पहुंचेंगे।
  • दोपहर 1.10 बजे जंबूरी मैदान पहुंचेंगे। 
  • यहां पीएम जनजातीय सम्मेलन में शामिल होंगे।
  • दोपहर 3.20 बजे हबीबगंज रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे।
  • शाम 4.20 बजे हबीबगंज से दिल्ली के लिए निकलेंगे।
  • शाम 5.35 बजे दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरेंगे प्रधानमंत्री।
     

7:25 AM IST

जहां बिरसा मुंडा ने दी थी प्राणों की आहूति, वहीं बनाया गया संग्रहालय

ये संग्रहालय विभिन्न राज्यों और क्षेत्रों के जनजातीय स्वतंत्रता सेनानियों की यादों को संजो कर रखेंगे। भगवान बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान सह स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालय झारखंड राज्य सरकार के सहयोग से रांची के पुराने केंद्रीय कारावास में बनाया गया है, जहां भगवान बिरसा मुंडा ने अपने प्राणों की आहुति दी थी। यह राष्ट्र और जनजातीय समुदायों के लिए उनके बलिदान को श्रद्धांजलि होगी।

7:25 AM IST

रांची के संग्रहालय का उद्घाटन करेंगे PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 9:45 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए रांची में भगवान बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान सह स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालय का उद्घाटन करेंगे। बता दें कि जनजातीय कार्य मंत्रालय ने अब तक 10 आदिवासी स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालयों के निर्माण को मंजूरी दी है। 

4:36 PM IST:
  • रेलवे के विकास से देश में पर्यटन की संभावनाएं भी मजबूत होती हैं। पिछले दिनों रामायण सर्किट ट्रेन की शुरुआत हुई, अगले कुछ दिनों में कुछ और भी रामायण सर्किट ट्रेनें चलाई जाएंगी।
  • बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर भारत की आकांक्षा ही नहीं, बल्कि आवश्यकता भी है। इसलिए हमारी सरकार रेलवे समेत इन्फ्रास्ट्रक्चर के हजारों प्रोजेक्ट पर अभूतपूर्व निवेश कर रही है।
  • रेलवे का लाभ आम यात्रियों, विद्यार्थियों, व्यापारियों सहित विभिन्न वर्गों को तो मिलता ही है, लेकिन अब रेलवे की समयबद्धता के चलते किसानों के उपज भी दूर तक भेजे जा रहे हैं, जिसका सीधा लाभ छोटे किसानों को ही मिल रहा है।
  • हमारे देश के मध्यम वर्ग और करदाताओं को सभी सुविधाएं रेलवे देगा, जिसका वह हकदार है। देश के 175 से अधिक रेलवे स्टेशनों का कायाकल्प हो जा रहा है। रेलवे सुनिश्चित कर रहा है कि किसी भी विकास कार्य में कोई देरी न हो, बाधा न आए।
  • देश ने कुछ दिनों पूर्व गुजरात के गांधीनगर रेलवे स्टेशन का नया आधुनिक रूप देखा था। आज रानी कमलापति रेलवे स्टेशन देश को मिला है, जो आईएसओ से प्रमाणित है। यहां वह सुविधा मिल रही है, जो कभी सिर्फ एयरपोर्ट पर ही मिला करती थी।

4:30 PM IST:

मोदी ने कहा कि भारतीय रेल सिर्फ दूरियों को कनेक्ट करने का माध्यम नहीं है, बल्कि ये देश की संस्कृति, देश के पर्यटन और तीर्थाटन को कनेक्ट करने का भी अहम माध्यम बन रही है। आजादी के इतने दशकों बाद पहली बार भारतीय रेल के इस सामर्थ्य को इतने बड़े स्तर पर explore किया जा रहा है। मोदी ने कहा कि पहले रेलवे को टूरिज्म के लिए अगर उपयोग किया भी गया तो उसको एक प्रीमियम क्लब तक ही सीमित रखा गया। पहली बार सामान्य मानवीय को उचित राशि पर पर्यटन और तीर्थाटन का दिव्य अनुभव दिया जा रहा है। रामायण सर्किट ट्रेन ऐसा ही एक अभिनव प्रयास है।
 

4:28 PM IST:
  • आज यहां जिन रेल लाइनों के दोहरीकरण और विद्युतीकरण का लोकार्पण हुआ है, उससे रेल के परिचालन में ज्यादा सुगमता आएगी। महाकाल की नगरी और स्वच्छता में शीर्ष इंदौर शहर के बीच में चलने से लोगों को बड़ी सुविधा मिलेगी।
  • आज का दिन भोपाल ही नहीं, वल्कि मध्य प्रदेश और देश के लिए महत्त्व का दिन है। यह हमारे अतीत और भविष्य के संगम का दिन है। गिन्नौरगढ़ की रानी कमलापति का नाम जुड़ने से इस रेलवे स्टेशन का महत्व और भी बढ़ गया है।
  • मोदी ने भोपाल को विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन दिया और इसका नाम गोंड रानी कमलापति जी के नाम पर किया। इसके लिए मैं पूरे मध्यप्रदेश की तरफ से आपका हृदय से धन्यवाद करता हूं। एक जमाना था, जब रेलवे के इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स को भी ड्रॉइंग बोर्ड से ज़मीन पर उतरने में ही सालों-साल लग जाते थे। लेकिन आज भारतीय रेलवे में भी जितनी अधीरता नए प्रोजेक्ट्स की प्लानिंग की है, उतना ही गंभीरता उनको समय पर पूरा करने की है।
  • मोदी ने कहा- आज का भारत, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण के लिए रिकॉर्ड Investment तो कर ही रहा है, ये भी सुनिश्चित कर रहा है कि प्रोजेक्ट्स में देरी ना हो, किसी तरह की बाधा ना आए।
  • भारत कैसे बदल रहा है, सपने कैसे सच हो सकते हैं, ये देखना हो तो आज इसका एक उत्तम उदाहरण भारतीय रेलवे भी बन रही है। भोपाल के इस ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन का सिर्फ कायाकल्प ही नहीं हुआ है, बल्कि गिन्नौरगढ़ की रानी, कमलापति जी का इससे नाम जुड़ने से इसका महत्व भी और बढ़ गया है। गोंडवाना के गौरव से आज भारतीय रेल का गौरव भी जुड़ गया है।

4:27 PM IST:

मोदी ने कहा कि आज का भारत, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण के लिए रिकॉर्ड Investment तो कर ही रहा है, ये भी सुनिश्चित कर रहा है कि प्रोजेक्ट्स में देरी ना हो। हाल में शुरू हुआ पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान इसी संकल्प की सिद्धि में देश की मदद करेगा। जो सुविधाएं कभी एयरपोर्ट में मिला करती थीं, वो आज रेलवे स्टेशन में मिल रही हैं। भारत कैसे बदल रहा है, सपने कैसे सच हो सकते हैं, ये देखना हो तो आज इसका उत्तम उदाहरण भारतीय रेलवे भी बन रहा है।
 

4:21 PM IST:

इस रेलवे स्टेशन में मध्य प्रदेश के पर्यटन और दर्शनीय स्थल- भोजपुर मंदिर, सांची स्तूप और भीमबैठका के चित्र प्रदर्शित किए जा रहे हैं। स्‍टेशन के मेन गेट के अंदर दोनों ओर की दीवारों पर भील, पिथोरा पेंटिंग्स भी होंगे। जनजा‍तीय शिल्‍पकला पेपरमेशी से बनाए गए जनजातीय मुखौटे को मुख्य गेट के सामने की वॉल पर लगाया गया है। फर्स्‍ट फ्लोर पर टूरिस्ट इंफॉर्मेशन लाउंज में एक बड़ी LED स्क्रीन इंस्‍टॉल की गई है, जिससे यात्रियों और पर्यटकों को प्रदेश के पर्यटन स्‍थलों की संपूर्ण जानकारी मिल सकेंगी।

 

4:23 PM IST:

पीएम ने कहा- आज भारतीय रेल का भविष्य कितना आधुनिक है, कितना उज्जवल है। इसका प्रतिबिंब भोपाल के इस भव्य रेलवे स्टेशन में जो भी आएगा, उसे दिखाई देगा। भोपाल के इस ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन का सिर्फ कायाकल्प नहीं हुआ है, बल्कि गिन्नौरगढ़ की रानी का नाम जुड़ने से इसका महत्व और बढ़ गया है। 6 साल पहले तक जिसका भी पाला भारतीय रेल से पड़ता था, वो भारतीय रेल को ही कोसते हुए ज्यादा नजर आता था। लोग चेन लेकर बैग में ताला लगाते थे। दुर्घटना का भी डर रहता था।

 

4:15 PM IST:

मोदी ने कहा कि भारत कैसे बदल रहा है, कैसे सपने सच हो रहे हैं, ये देखना हो तो भारतीय रेल को देखकर अंदाजा लगा सकते हैं। पहले मन में रेलवे की निगेटिव छवि रहती थी। लोगों ने बदलाव की उम्मीदें तक छोड़ दी थीं। लेकिन, संकल्पों की सिद्धि से सुधार आया। पहले भीड़भाड़, गंदगी, घंटों की टेंशन, बैठने और खाने की असुविधा, सुरक्षा की चिंता रहती थी। अब रानी कमलापति रेलवे स्टेशन के रूप में देश का पहला आईएसओ सर्टिफाई, पहला पीपीपी आधारित रेलवे स्टेशन बन गया है। जो सुविधाएं पहले एयरपोर्ट पर मिलती थीं, अब स्टेशन पर मिल रही हैं।
 

4:09 PM IST:

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन को देश का सर्वश्रेष्ठ स्टेशन बताया। उन्होंने ये भी कहा कि स्टेशनों में स्टेशन, रानी कमलापति स्टेशन। कहा- भोपाल मेट्रो को रानी कमलापति स्टेशन से इंटीग्रेट किया जाएगा।
 

4:06 PM IST:

प्रधानमंत्री मोदी ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का लोकार्पण कर दिया। उन्होंने हरी झंडी दिखाकर स्टेशन का उदघाटन किया। ये वर्ल्ड क्लास फैसिलिटी वाला पहला प्राइवेट स्टेशन बन गया है।

3:58 PM IST:

3:59 PM IST:

रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने मोदी को रानी की प्रतिमा और शॉल भेंट करके स्वागत किया।

 

3:49 PM IST:

इससे पहले होशंगाबाद रोड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की झलक पाने को लोग खासी मशक्कत करते देखे जा रहे थे। पीएम का काफिला कुछ देर होशंगाबाद रोड पर रुका और रानी कमलापति स्टेशन की धीरे-धीरे चलने लगा। बाद में रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचा।

3:49 PM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंच गए हैं। वे परिसर का अवलोकन कर रहे हैं। थोड़ी देर बाद मोदी इस स्टेशन का उद्घाटन करेंगे। इससे पहले जंबूरी मैदान से रानी कमलापति स्टेशन के रास्ते में मोदी का जगह-जगह फूलों की बारिश के साथ स्वागत किया गया।

 

3:37 PM IST:

जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम स्थल पर मुस्लिम महिलाएं भी बहुत बड़ी संख्या में मौजूद हैं। उन्होंने यहां हर हर मोदी-घर घर मोदी के नारे लगाए। इसके अलावा उन्होंने ट्रिपल तलाक कानून के लिए उन्हें शुक्रिया कहा। जंबूरी मैदान कार्यक्रम स्थल से पीएम मोदी का काफिला हेलीपैड के लिए रवाना हो गया।

3:31 PM IST:

जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम स्थल पर मुस्लिम महिलाएं भी बहुत बड़ी संख्या में मौजूद हैं। उन्होंने यहां हर हर मोदी-घर घर मोदी के नारे लगाए। इसके अलावा उन्होंने ट्रिपल तलाक कानून के लिए उन्हें शुक्रिया कहा। जंबूरी मैदान कार्यक्रम स्थल से पीएम मोदी का काफिला हेलीपैड के लिए रवाना हो गया।

3:15 PM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भोपाल के जंबूरी मैदान में बीजेपी के वयोवृद्ध नेता, समाजसेवी और पूर्व विधायक लक्ष्मी नारायण गुप्त से मुलाकात की और उनका कुशलक्षेम पूछा। गुप्ता 103 साल के हैं। मोदी ने बीते साल गुप्ता के घर फोन करके उनका हाल-चाल जाना था।

 

3:07 PM IST:

थोड़ी देर में हेलीकॉप्टर से मोदी बीयू कैंपस स्थित हेलीपैड पहुंचेंगे। यहां से मोदी का कारकेड होशंगाबाद रोड से होते हुए रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचेगा। बीयू कैंपस से ओवरब्रिज तक मोदी का जोरदार स्वागत होगा। स्वागत के लिए आधे किलोमीटर में 30 मंच बनाए गए हैं।

3:01 PM IST:

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गोंडवाना की गौरव रानी कमलापति जी की प्रतिमा भेंट की। रानी कमलापति ने राज्य की रक्षा के लिए मुगल शासकों का बहादुरी से सामना किया था और अंत में अपने सम्मान की रक्षा करते हुए जल समाधि ले ली थी।

2:59 PM IST:

मोदी थोड़ी देर बाद रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे। वे यहां वर्ल्ड क्लास सुविधाओं से लैस स्टेशन का उदघाटन करेंगे। इसके बाद परिसर का अवलोकन करेंगे।

2:52 PM IST:
  • मोदी ने कहा कि पहले की सरकारों में आदिवासी समाज को आगे बढ़ाने के लिए जरूरी राजनैतिक इच्छाशक्ति नहीं थी। बहुत कम थी। आदिवासी सृजन को बाजार से नहीं जोड़ा गया। हमारी सरकार ने जंगल को लेकर भी संवेदनशील कदम उठाए। राज्य में 20 लाख जमीन के पट्‌टे देकर जनजातीय भाइयों की चिंता दूर की। आदिवासी और शिक्षा पर भी बल दे रही है।
  • आज मुझे यहां 50 एकल्वय मॉडल चलाने का अवसर मिला। हमारा लक्ष्य देश में ऐसे लगभग 750 स्कूल खोलने का है। 7 साल पहले हर छात्र पर सरकार करीब 40 हजार खर्च करती थी, जो आज बढ़कर एक लाख से अधिक हो चुका है। इससे जनजातीय छात्र-छात्राओं को अधिक सुविधा मिल रही है। केंद्र सरकार हर साल स्कॉलरशिप भी दे रही है। उच्च शिक्षा और रिसर्च से जोड़ने के लिए भी अभूतपूर्व काम किया जा रहा है।
  • जनजातीय समाज के बच्चों को एक बहुत बढ़ी दिक्कत भाषा की भी होती थी, नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में स्थानीय भाषा में होगी। इसका लाभ हमारे बच्चों को मिलना तय है।
  • जनजातीय समाज के आत्मविश्वास के लिए, अधिकार के लिए हम दिन-रात मेहनत करेंगे। हम इस संकल्प को फिर दोहरा रहे हैं कि जैसे हम गांधी जयंती मनाते हैं, सरदार पटेल की जयंती मनाते हैं, वैसे ही भगवान बिरसा मुंडा की जयंती हर साल जनजातीय गौरव दिवस के रूप में पूरे देश में मनाई जाएगी।

2:47 PM IST:

मोदी ने कहा कि हमारे जनजातीय कलाकारों के हाथ में जबरदस्त कला है। मामूली चीजों से भी ऐसी कृति बना देते हैं कि प्रकृति का सौंदर्य सामने आ जाता है, लेकिन दुखद है कि उनके अधिकारों को वर्षों तक कानून के नाम पर उलझा कर रखा गया: जनजातीय समाज के हितों की रक्षा एवं कल्याण के लिए जिस राजनीतिक इच्छा शक्ति की जरूरत थी, दशकों तक देश में राज करने वालों के मन में नहीं था। आज जनजातीय समाज को उसका हक मिल रहा है।

2:43 PM IST:

देश की आबादी का करीब करीब 10% होने के बावजूद दशकों तक, जनजातीय समाज को, उनकी संस्कृति, उनके सामर्थ्य को पूरी तरह नजरअंदाज कर दिया गया। आदिवासियों का दुःख, उनकी तकलीफ, बच्चों की शिक्षा उन लोगों के लिए कोई मायने नहीं रखती थी।
 

2:46 PM IST:

मोदी ने कहा कि अभी हाल में पद्म पुरस्कार दिए गए हैं। राष्ट्रपति भवन में पद्म पुरस्कार के लिए जब हमारी जनजातीय विभूतियां पहुंचीं तो उनके पैरों में चप्पल भी नहीं थीं। यह देखकर दुनिया हैरान रह गई। यह जनजातीय क्षेत्रों में काम करने वाले ही हमारे असली हीरो हैं। आदिवासी और ग्रामीण समाज में काम करने वाले ये देश के असली हीरे हैं। देश का जनजातीय क्षेत्र, संसाधनों के रूप में, संपदा के मामले में हमेशा समृद्ध रहा है। लेकिन जो पहले सरकार में रहे, वो इन क्षेत्रों के दोहन की नीति पर चले। हम इन क्षेत्रों के सामर्थ्य के सही इस्तेमाल की नीति पर चल रहे हैं। आज चाहे गरीबों के घर हों, शौचालय हों, मुफ्त बिजली और गैस कनेक्शन हों, स्कूल हो, सड़क हो, मुफ्त इलाज हो, ये सबकुछ जिस गति से देश के बाकी हिस्से में हो रहा है, उसी गति से आदिवासी क्षेत्रों में भी हो रहा है।

2:38 PM IST:

यहां की सरकार ने उन्हें कालिदास पुरस्कार भी दिया था। छत्रपति शिवाजी महाराज के जिन आदर्शों को बाबासाहेब पुरंदरे जी ने देश के सामने रखा, वो आदर्श हमें निरंतर प्रेरणा देते रहेंगे। मैं बाबासाहेब पुरंदरे जी को अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि देता हूं। आजादी की लड़ाई में जनजातीय नायक-नायिकाओं की वीर गाथाओं को देश के सामने लाना, उसे नई पीढ़ी से परिचित कराना, हमारा कर्तव्य है। गुलामी के कालखंड में विदेशी शासन के खिलाफ खासी-गारो आंदोलन, मिजो आंदोलन, कोल आंदोलन समेत कई संग्राम हुए।

2:38 PM IST:

मोदी ने कहा कि आज जब हम राष्ट्रीय मंचों से, राष्ट्र निर्माण में जनजातीय समाज के योगदान की चर्चा करते हैं, तो कुछ लोगों को हैरानी होती है। ऐसे लोगों को विश्वास ही नहीं होता कि जनजातीय समाज का भारत की संस्कृति को मजबूत करने में कितना बड़ा योगदान रहा है। मोदी ने कहा कि इसकी वजह ये है कि जनजातीय समाज के योगदान के बारे में या तो देश को बताया ही नहीं गया और अगर बताया भी गया तो बहुत ही सीमित दायरे में जानकारी दी गई। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि आजादी के बाद दशकों तक जिन्होंने देश में सरकार चलाई, उन्होंने अपनी स्वार्थ भरी राजनीति को ही प्राथमिकता दी। ‘पद्म विभूषण’ बाबासाहेब पुरंदरे जी ने छत्रपति शिवाजी महाराज के जीवन को, उनके इतिहास को सामान्य जन तक पहुंचाने में जो योगदान दिया है, वो अमूल्य है।

2:35 PM IST:

मोदी बोले- मुझे खुशी है कि मध्य प्रदेश में जनजातीय परिवारों में तेजी से टीकाकरण हो रहा है।  हमारे आदिवासी भाई-बहन टीकाकरण के महत्व को समझते भी हैं, स्वीकारता भी हैं और देश को बचाने में अपनी भूमिका निभा रहे हैं, इससे बड़ी समझदारी क्या हो सकती है। आजादी की लड़ाई में जनजातीय नायक-नायिकाओं की वीर गाथाओं को देश के सामने लाना, उसे नई पीढ़ी से परिचित कराना, हमारा कर्तव्य है। गुलामी के कालखंड में विदेशी शासन के खिलाफ खासी-गारो आंदोलन, मिजो आंदोलन, कोल आंदोलन समेत कई संग्राम हुए। जनजातीय भाई-बहनों के कल्याण के लिए शिवराज जी की सरकार ने कई योजनाएं शुरू की हैं। मुझे संतोष है कि 'राशन आपके ग्राम' योजना से आपको राशन भी मिलेगा और समय भी बचेगा।
 

2:34 PM IST:

मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने इतिहास ठीक से नहीं बताया। या तो दबा दिया। आदिवासी समाज को गुमराह किया। गोंड महारानी वीर दुर्गावती का शौर्य हो या फिर रानी कमलापति का बलिदान, देश इन्हें भूल नहीं सकता। वीर महाराणा प्रताप के संघर्ष की कल्पना उन बहादुर भीलों के बिना नहीं की जा सकती जिन्होंने कंधे से कंधा मिलाकर लड़ाई लड़ी और बलिदान दिया। 

2:49 PM IST:

मोदी ने कहा कि जनजातीय कलाकारों ने जो प्रस्तुति दी उसमें जीवन का आदर्श, रहस्य समाहित है, जो हमें कर्तव्य पथ पर आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। जीवन के विभिन्न दौर को जीते हुए हमें अपने अंत समय में पछताना पड़े, ऐसा कोई कार्य नहीं करना चाहिए। मोदी ने पंक्तियां पढ़कर सुनाईं और कहा- धरती खेत खलिहान किसी के नहीं हैं, अपने मन में गुमान करना व्यर्थ है। ये धन, दौलत कोई काम के नहीं हैं। इसे यहीं छोड़कर जाना है। आप देखिए, आदिवासी के संगीत में नृत्य में जो शब्द कहे गए हैं, वो जीवन का उत्तम तत्वज्ञान मेरे आदिवासी भाई-बहनों ने आत्मसात किया है।

2:27 PM IST:

मोदी ने कहा- मेरा ये अनुभव रहा है कि जीवन के महत्वपूर्ण कालखंड को मैंने आदिवासियों के बीच बिताया है। जीवन जीने का कारण, जीवन जीने के इरादे को आदिवासी परंपरा बखूबी प्रस्तुत करती है।
 

2:24 PM IST:

इससे पहले प्रधानमंत्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राशन आपके ग्राम योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने इस योजना में गांव तक राशन ले जाने वाले युवाओं को प्रतीकात्मक रूप से वाहनों की चाबी प्रदान की। यह युवा जनजातीय समुदाय से ही हैं।

2:24 PM IST:

मोदी ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार आदिवासी समाज की कला, संस्कृति और स्वतंत्रता संग्राम और राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को गर्व से याद और सम्मानित किया जा रहा है। ये पूरे देश के लिए गौरव की बात है।
 

2:17 PM IST:

मोदी ने कहा कि आज का दिन पूरे देश के लिए पूरे जनजातीय समाज के लिए बहुत बड़ा दिन है। आज भारत अपना पहला जनजातीय गौरव दिवस मना रहा है। आप सभी को भगवान बिरसा मुंडा के जन्मदिन पर बहुत-बहुत शुभकामनाएं। 

2:26 PM IST:

मंच पर मोदी ने जनजातीय अंदाज में लोगों का स्वागत और अभिवादन किया। मोदी ने कहा- हूं तमारो स्वागत करूं...। इसके बाद आदिवासी समाज से राम-राम भी कहा।

2:10 PM IST:

मुख्यमंत्री शिवराज ने पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को घेरा। उन्होंने कहा कि दो-दो पूर्व मुख्यमंत्री हम पर हमला कर रहे हैं। जो कहते थे बीजेपी आदिवासी विरोधी है, आज वही कह रहे हैं कि जनजातीय सम्मेलन फिजूलखर्ची है। वे आईफा (IIFA) जैसे आयोजनों पर हीरो-हीरोइनों पर करोड़ों खर्च करते हैं। उन्होंने कहा कि पेसा कानून चरणबद्ध तरीके से पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। आबकारी नीति ऐसी बनाई जाएगी, जो आपकी परंपराओं का पालन करे। जनजातीय भाइयों का कर्जा माफ करवाया जाएगा। हर गांव में आदिवासी भाई-बहनों को ट्रेंड कर रोजगार दिया जाएगा।

2:01 PM IST:

शिवराज ने कहा कि सामाजिक समरसता को कायम करते हुए मध्य प्रदेश में पेसा कानून लागू किया जाएगा, जिससे हमारे जनजातीय भाई-बहनों के अधिकारों की रक्षा हो सके। पीएम मोदीजी ने कोरोना की दोनों लहर के दौरान मध्य प्रदेश को 9,857 करोड़ रुपये का मुफ्त राशन दिया। आज प्रधानमंत्रीजी 'राशन आपके ग्राम' योजना का शुभारंभ कर आपके जीवन को और सरल बनाने का मार्ग प्रशस्त करेंगे।

2:00 PM IST:

कांग्रेस आरोप लगाती है कि हम जनजातीय गौरव के नाम पर पैसे की बर्बादी कर रहे हैं। कांग्रेस ने तो कभी जनजातीय भाई-बहनों के लिए कुछ किया नहीं, हम मोदीजी के नेतृत्व में काम कर रहे हैं तो उन्हें तकलीफ हो रही है।
 

1:59 PM IST:

शिवराज का कहना था कि हमारे जनजातीय नायकों ने देश की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व बलिदान दिया। गोंड वंश की रानी कमलापति के साथ मोहम्मद अफगानी ने धोखा दिया, लेकिन उन्होंने मान सम्मान की रक्षा के लिए जल समाधि ले ली। मोदीजी ने कोरोना से बचाव के लिए पूरे देश को वैक्सीन की सुरक्षा दी। पहले जहां जीवन रक्षक दवाइयां विदेश से आती थीं, वहीं टीकाकरण के लिए दवा भारत में ही बनवाई। हमारे जनजातीय भाई-बहनों राशन के लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है। राशन गांवों तक पहुंचेगा और इसे पहुंचाने का काम जनजातीय युवा ही करेंगे, जिससे उन्हें रोजगार मिलेगा।
 

1:53 PM IST:

रानी कमलापति को भुला दिया गया था। ना तो अंग्रेजों ने और न ही कांग्रेस ने उन्हें इतिहास में उचित स्थान दिया। लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी ने हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम रानी कमलापति के नाम पर रखा।

 

1:50 PM IST:

शिवराज ने कहा कि मैं भगवान बिरसा मुंडा के चरणों में प्रणाम करता हूं। उन्होंने अंग्रेजों के अत्याचार से मुक्ति और जल, जंगल, जमीन एवं संस्कृति तथा परंपराओं की रक्षा के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। उन्होंने ये भी कहा कि मोदीजी ने भगवान बिरसा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस घोषित कर देश के जनजातीय नायकों का देश पर कर्ज उतार दिया है। हम सभी प्रधानमंत्री जी का आभार व्यक्त करते हैं।

1:48 PM IST:

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनजातीय गौरव दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और कहा कि मैं प्रधानमंत्री जी को धन्यवाद देता हूं कि आपने रानी कमलापति के नाम पर हबीबगंज स्टेशन का नाम किया।

 

1:46 PM IST:

प्रधानमंत्री मोदी का लोक नृत्य से स्वागत किया गया। इससे पहले उन्होंने मंच पर भगवान बिरसा मुंडा को नमन किया। मंच पर रानी कमलापति की मूर्ति भी रखी गई है। मोदी ने आदिवासी कला पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। समाज के लोगों को सम्मानित किया।

 

1:33 PM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जंबूरी मैदान में कार्यक्रम स्थल के मंच पर पहुंच गए हैं। उन्होंने हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन किया। मोदी का मंच पर आदिवासी पारंपरिक अंदाज में स्वागत किया गया। उन्हें झाबुआ की जैकेट और डिंडोरी  पहनाई गई। तीर धनुष भी दिया गया।

 

 

1:35 PM IST:

प्रधानमंत्री जंबूरी मैदान में आदिवासी समाज के महानायकों की प्रदर्शन देख रहे हैं। उनके साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत अन्य भाजपा नेता मौजूद हैं। ये रानी दुर्गावती की जीवनी पर आधारित प्रदर्शनी है।

12:53 PM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भोपाल पहुंच गए हैं। स्टेट हैंगर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल मंगूभाई पटेल ने उनकी अगवानी की। इसके बाद जंबूरी मैदान में कार्यक्रम में शामिल होने हेलीकाप्टर से पहुंचे।

12:35 PM IST:

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत बीजेपी के कई नेता भोपाल के जंबूरी मैदान पहुंच गए। कार्यक्रम स्थल पूरी तरह लोक रंग में रंगा हुआ है। वहीं, प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल मंगूभाई पटेल स्टेट हैंगर पहुंच गए। वे यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगवानी करेंगे।

 

12:27 PM IST:

प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत में जंबूरी मैदान पर लोक नृत्य में कई जनजातियों के कलाकार गुदुम समेत अन्य नृत्य पेश कर रहे हैं। गुदुम बाजा, टिमकी, ढफ, मंजीरा और शहनाई जैसे वाद्य यंत्रों के साथ किया जाता है, इसमें हस्त-पद संचालन के माध्यम से विभिन्न नृत्य मुद्राएं और पिरामिड बनाते हैं।

12:21 PM IST:

भोपाल के जंबूरी मैदान में जनजातीय गौरव दिवस पर आदिवासी समाज के लोग प्रस्तुतियां दे रहे हैं।

 

12:17 PM IST:

रानी कमलापति रेलवे स्टेशन के आसपास की सभी दुकानें बंद हैं। हबीबगंज अंडरब्रिज से आगे का रास्ता बंद कर दिया गया है। गोविंदपुरा भेल से अवधपुरी चौराहा और बोर्ड ऑफिस से रानी कमलापति स्टेशन तक का रास्ता बंद है। रानी कमलापति (पुराना नाम हबीबगंज) रेलवे स्टेशन पर भी तगड़ी सुरक्षा है। बसों का रूट बदल जाने से यात्रियों को परेशानी हो रही है। ऑटोवाले दोगुना किराया ले रहे हैं। ज्यादातर लोग पैदल ही रास्ता तय कर रहे हैं।

1:06 PM IST:

जंबूरी मैदान में भाजपा समर्थकों और आदिवासियों के आने से मैदान में बड़ी संख्या में भीड़ देखी जा रही है। आदिवासियों में जबरदस्त उत्साह है। वे डांस करते हुए जंबूरी मैदान आ रहे हैं। कई मंत्री भी आ चुके हैं। सांसद सुमेर सिंह सोलंकी पारंपरिक वेशभूषा में आए हैं। सुमेर ने आदिवासियों को संबोधित किया। झाबुआ से आए आदिवासियों ने भगोरिया नृत्य किया।


 

1:18 PM IST:

पीएम मोदी के भोपाल में स्वागत के लिए जंबूरी मैदान पर अभी से लोक नृत्य शुरू हो गए हैं। वहीं समारोह के दौरान कई जनजातियों के कलाकार गुदुम सहित कई नृत्य पेश करेंगे। जो कि गुदुम बाजा, टिमकी, ढफ, मंजीरा और शहनाई जैसे वाद्य यंत्रों के साथ किए जाएंगे।

 

1:38 PM IST:
  • पीएम मध्य प्रदेश सिकल सेल (हीमोग्लोबिन पैथी) मिशन के शुभारंभ करेंगे और लाभार्थियों को आनुवंशिक परामर्श कार्ड भी सौंपेंगे। इसके साथ ही मोदी आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, त्रिपुरा और दादरा और नगर हवेली और दमन दीव समेत विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 50 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों की आधारशिला रखेंगे।
  • मोदी आदिवासी स्वयं सहायता समूहों के बनाए गए उत्पादों की प्रदर्शनी और एमपी के आदिवासी समुदाय के शहीदों और स्वतंत्रता संग्राम के नायकों की फोटो प्रदर्शनी का भी अवलोकन कर सकते हैं। पीएम करीब 3 बजे भोपाल के पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का उद्घाटन करेंगे और एमपी में रेलवे की कई अन्य सुविधाओं का ऑनलाइन शुभारंभ करेंगे।
  • इनमें उज्जैन-चंद्रावतीगंज ब्रॉड गेज खंड, भोपाल-बरखेड़ा खंड में तीसरी लाइन, मथेला-निमाड़ खेड़ी ब्रॉड गेज खंड और गुना-ग्वालियर विद्युतीकरण खंड शामिल हैं। इसके साथ ही पीएम उज्जैन-इंदौर और इंदौर-उज्जैन रेल मार्ग पर दो नई मेमू ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाएंगे।

PM Modi करेंगे World class station का उद्घाटन, देखिए अंदर से कैसा दिखता है Rani Kamlapati Railway Station 

 

11:19 AM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को देश के पहले वर्ल्ड क्लास स्टेशन रानी कमलापति रेलवे स्टेशन (पहले हबीबगंज नाम ) का लोकार्पण करेंगे। इस स्टेशन को पूरी तरह एयरपोर्ट की तर्ज पर बनाया गया है, इसे सार्वजनिक-निजी भागीदारी से विकसित किया गया है। इसका मैंटेनेंस भी प्राइवेट कंपनी ही करेगी। यहां लोगों के लिए शानदार वेटिंग लाउंज, सूचना के लिए बड़ी-बड़ी स्क्रीन्स, फूड जोन सहित कई खास बातें होंगी। जानिए...

  • वर्ल्ड क्लास कमलापति रेलवे स्टेशन पर एयरपोर्ट की तरह ही शॉपिंग, शॉप्स, कैफेटेरिया और एयर कॉन्कोर्स है।
  • प्लेटफॉर्म पर 2000 ट्रैवलर्स ट्रेनों का इंतजार कर सकते हैं। एयर कॉन्कोर्स में 900 पैसेंजर्स बैठ सकते हैं, इसे इस तरह से डिजाइन किया गया है कि इंतजार कर रहे लोग परेशान न हों।
  • यहां 2 सब-वे भी बनाए हैं, इसमें से करीब 1500 लोग गुजर सकते हैं, इसलिए भीड़भाड़ में भी परेशानी नहीं होगी। लोग बिना टकराए और बिना धक्का-मुक्की के आसानी से गुजरेंगे।
  • एंट्री अलग और एग्जिट गेट अलग होगा। ट्रेन से उतरकर बाहर आने वाले लोग सब-वे का इस्तेमाल करेंगे और सीधे रेलवे स्टेशन से बाहर आ जाएंगे, जबकि ट्रेन पकड़ने वाले एयर कॉन्कोर का इस्तेमाल कर सीधे ट्रेन पकड़ लेंगे।
  • स्टेशन को 450 करोड़ रुपए में बनाया गया है, इसका एयर कॉन्कोर्स 84 मीटर लंबा और 36 मीटर चौड़ा है, इसलिए लोग आपस में नहीं टकराएंगे।
  • एयरपोर्ट की तरह ही वेटिंग लाउंज तैयार किए गए हैं। ट्रेन की जानकारी देने के लिए बड़ी-बड़ी एलईडी स्क्रीन्स लगाई गई हैं। लोग वेटिंग लाउंज में बोर न हों, इसके लिए उन्हें प्रदेश के टूरिज्म स्पॉट्स और हिस्ट्री की जानकारी दी जाएगी।
  • ये देश का पहला 5 स्टार जीईएम रेंटिंग वाला स्टेशन है। इसे लाइट से जगमग करने के लिए सोलर एनर्जी का इस्तेमाल किया जाएगा।
  • ये देश का पहला ग्रीन स्टेशन भी है। यह देश का पहला रेलवे स्टेशन है जो एनएफपीए (राष्ट्रीय अग्नि सुरक्षा अधिनियम) का ध्यान रख रहा है।
  • यात्रियों की आवाजाही को लेकर भी इस तरीके से व्यवस्थाएं की गई हैं कि इमरजेंसी में 4 मिनट के अंदर पूरा स्टेशन खाली हो सकेगा और यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया जाएगा।
  • यहां 150 से ज्यादा पावर के हाई रिजॉल्यूशन सीसीटीवी कैमरा लगाए हैं। स्टेशन के अंदर दाखिल होने वाली गाड़ी के नंबर से लेकर आने-जाने वाली सवारियों पर भी नजर रखी जाएगी।

मुंबई, दिल्ली, पुणे और बेंगलुरु को भी हबीबगंज स्टेशन ने छोड़ा पीछा, फाइव स्टार होटल से कम नहीं है फैसेलिटी.. 

11:11 AM IST:

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं भगवान बिरसा मुंडा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने के निर्णय के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद देता हूं। यह हमारे आदिवासी योद्धाओं की वीरता का उचित सम्मान है। अंग्रेजों और कांग्रेस ने गलत इतिहास पढ़ाया। स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास को एक परिवार का इतिहास बनाया गया।

11:06 AM IST:

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भोपाल में  नए भारत का नया अध्याय लिखने आ रहे हैं। उनका स्वागत करते हैं। 

 

10:57 AM IST:

पीएम मोदी का भोपाल में मेगा रोड शो होगा। आधे किलोमीटर में इस मेगा रोड शो के लिए करीब 30 मंच बनाए गए हैं। इन मंच पर आदिवासी लोक नृत्य होंगे। मंच के पास ही बीजेपी नेता और कार्यकर्ता कतार में खड़े होंगे और पीएम का स्वागत करेंगे। इस दौरान पीएम पर फूलों की बारिश भी की जाएगी।
 

 

10:49 AM IST:

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल एयरपोर्ट पहुंचे। यहां शिवराज सरकार के मंत्रियों और भाजपा नेताओं ने उनका स्वागत किया। सिंधिया ने कहा कि आदिवासियों के लिए जो पिछली सरकारों ने नहीं किया, वो आज प्रधानमंत्री मोदी करने जा रहे हैं।
 

10:39 AM IST:

रांची में बिरसा मुंडा जनजातीय संग्रहालय के उद्घाटन पर पीएम मोदी ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी की दृढ़ इच्छाशक्ति के कारण झारखंड अस्तित्व में आया। उन्होंने ही अलग जनजातीय मामलों का मंत्रालय बनाया था और जनजातीय हितों को राष्ट्र की नीतियों से जोड़ा था। आज झारखंड स्थापना दिवस पर मैं भी अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देता हूं। मोदी ने कहा कि मैंने अपने जीवन का एक बड़ा हिस्सा आदिवासी भाइयों और बहनों और बच्चों के साथ बिताया है। मैं उनके सुख-दुख, दैनिक जीवन और उनके जीवन की आवश्यकताओं का साक्षी रहा हूं। इसलिए, आज का दिन मेरे लिए व्यक्तिगत रूप से भी एक भावनात्मक दिन है।

Ranchi: PM Modi ने बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान का वर्चुअल उद्घाटन किया, कहा- आज का दिन ऐतिहासिक

10:27 AM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रांची में बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान (Birsa Munda Memorial Garden cum Museum) का ऑनलाइन उद्घाटन किया है। पीएम ने कहा कि 15 नवंबर की ये तारीख कई मायनों में ऐतहासिक है। आज भगवान बिरसा मुंडा की जन्मजयंती, झारखंड के स्थापना दिवस और देश की आजादी के अमृत महोत्सव का कालखंड है। ये अवसर हमारी राष्ट्रीय आस्था का अवसर है, भारत की पुरातन आदिवासी संस्कृति के गौरवगान का अवसर है। 
 

 

9:53 AM IST:

राशन आपके ग्राम योजना: दो चालकों को राशन वाहन की चाबी सौंपी जाएगी। शॉर्ट मूवी दिखाई जाएगी। 
सिकल सेल मिशन: 2 व्यक्तियों को जेनेटिक काउंसलिंग कार्ड सौंपकर प्रोजेक्ट की शुरुआत होगी।
20 नवनियुक्त पीवीटीजी (पर्टिकुलरली वल्नरेवल ट्राइबल ग्रुप): 3 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देकर योजना शुरू होगी।
एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय: 50 एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों का वर्चुअली भूमिपूजन होगा।
मध्य प्रदेश सिकल सेल मिशन: लघु फिल्म का दिखाई जाएगी। तीन व्यक्तियों को जेनेटिक काउंसलिंग कार्ड देकर प्रोजेक्ट का शुभारंभ होगा।
प्रदेश में टीकाकरण उपलब्धि और शत-प्रतिशत कोरोना का टीका लगवाने की उपलब्धि वाले जनजातीय बहुल गांव नरसिंह अरोड़ा, जिला झाबुआ पर आधारित लघु फिल्म का प्रदर्शन।

10:29 AM IST:

कार्यक्रम स्थल पर हर जगह पर आदिवासी संस्कृति की झलक दिख रही है। मैदान में चारों तरफ आदिवासी योद्धाओं के कटआउट्स लगे हैं। हर जगह एलईडी टीवी लगाए गए हैं। दर्शक दीर्घा में बैठे लोग पीएम का भाषण आसानी से देख और सुन सकते हैं। आदिवासी योद्धाओं की वीर गाथा की झलक भी मैदान में देखने को मिल रही है।
 

 

9:35 AM IST:

पीएम के लिए खाने का भी इंतजाम किया गया है। खाने की जिम्मेदारी पर्यटन विभाग के अफसरों को दी गई है। मोदी के लिए नारियल पानी, मसाला चाय, मौसमी जूस, लौकी जूस और हरी सब्जियों का इंतजाम है।
 

10:34 AM IST:

मंच पर मोदी के साथ उनकी कैबिनेट के 8 मंत्री मौजूद रहेंगे। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, नरेंद्र सिंह तोमर, धर्मेंद्र प्रधान, ज्योतिरादित्य सिंधिया, वीरेंद्र खटीक, एल मुरुगन, फग्गन सिंह कुलस्ते और प्रहलाद पटेल मौजूद रहेंगे। इस पहली पंक्ति में राज्यपाल, मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष के अलावा शिवराज कैबिनेट के सदस्य व मीना सिंह, बिसाहूलाल सिंह, विजय शाह और प्रेम सिंह पटेल बैठेंगे। दूसरी पंक्ति में आदिवासी नेता व सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, संपतिया उईके, गजेंद्र सिंह पटेल, दुर्गादास उईके और गुमान सिंह डामोर बैठेंगे।

PM Modi In Bhopal : भोपाल में ट्रैफिक रूट में किए गए बदलाव, घर से निकलने से पहले जान लें रास्ते

9:14 AM IST:

जनजातीय सम्मेलन के मंच पर पीएम मोदी का स्वागत करने वालों की सूची में बीजेपी प्रदेश प्रभारी पी मुरलीधर राव, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय समेत सभी मंत्री शामिल हैं। इनमें आदिवासी नेताओं को तरजीह दी जाएगी। 

9:00 AM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश के आदिवासी मंत्रियों, सांसदों और विधायकों से एयरपोर्ट पर मुलाकात करेंगे। केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते समेत 20 से ज्यादा नेता यहां मौजूद रहेंगे। मोदी इन नेताओं से बातचीत भी कर सकते हैं।
 

8:34 AM IST:

बता दें कि जनजाति से ताल्लुक रखने वाले बिरसा मुंडा का जन्म 15 नवंबर 1875 को हुआ था। वे आदिवासी नेता और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे। 19वीं सदी के अंत में भारत में ब्रिटिश शासन के खिलाफ एक मजबूत विरोध के रूप में बिरसा को याद किया जाता है। वे बिहार और झारखंड के आदिवासी इलाकों में जन्मे और पले-बढ़े। उन्होंने 25 साल की उम्र से पहले ही ये उपलब्धियां हासिल कर ली थीं। राष्ट्रीय आंदोलन पर उनके प्रभाव को देखते हुए 2000 में उनकी जयंती (15 नवंबर) पर झारखंड राज्य बनाया गया था। 9 जून, 1900 को रांची जेल में उनकी मृत्यु हो गई। 

 

8:32 AM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आदिवासी स्वतंत्रता सेनानी बिरसा मुंडा को याद किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। मोदी ने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन को तेज धार देने और आदिवासी समाज के हितों की रक्षा के लिए संघर्ष करने में योगदान महत्वपूर्ण है। उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी। आज उनकी जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। देश के लिए उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा। प्रधानमंत्री जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भोपाल आ रहे हैं। वे यहां कई जनजातीय समुदाय के कल्याण के लिए कई योजनाओं का ऐलान कर सकते हैं। इसके अलावा, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रांची में भगवान बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान का उद्घाटन करेंगे।

 

8:18 AM IST:

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री को अमृत माटी कलश भेंट किया जाएगा। इसमें आजादी के लिए बलिदान देने वाले महापुरूषों की जन्मभूमि, बलिदान भूमि और उनके जीवन से जुड़े 75 स्थानों की मिट्‌टी होगी। प्रधानमंत्री के सामने 46 जनजातियों के 700 से ज्यादा कलाकार जनजातीय समुदाय की कला, संस्कृति और धरोहर के विविध स्वरूप को प्रदर्शित करने वाली प्रस्तुति देंगे।

8:12 AM IST:

जंबूरी मैदान में पीएम मोदी बीजेपी के वयोवृद्ध नेता लक्ष्मी नारायण गुप्ता का सम्मान करेंगे। इसके अलावा, पीएम को आदिवासी कलाकार भूरी बाई और भज्जू सिंह श्याम अपनी पेंटिंग भेंट करेंगे। पीएम के कार्यक्रम से पहले फिल्म गायक कैलाश खेर और चेन्नई पारंपरिक मांदल पर शिवमणि की प्रस्तुति भी होगी। 
 

8:11 AM IST:

कार्यक्रम स्थल पर स्व सहायता समूह के उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई गई है। प्रधानमंत्री  इसका अवलोकन भी करेंगे। इसके बाद दोपहर 2 बजे से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भाषण होगा। 2.15 बजे से पीएम का भाषण शुरू होगा, जो करीब 25 से 30 मिनट तक चलेगा। मोदी 3.10 बजे रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे और लोकार्पण के बाद स्टेशन का अवलोकन करेंगे। यहां भी मोदी का संबोधन होगा। यहीं से वे एयरपोर्ट के लिए रवाना हो जाएंगे।

8:05 AM IST:

भोपाल में बिरसा मुंडा की जंयती पर जंबूरी मैदान में आयोजित महासम्मेलन में प्रदेशभर के 37 जिलों के करीब 2 लाख आदिवासियों के शामिल होने का दावा किया गया है। मंच पर प्रधानमंत्री के अलावा राज्यपाल मंगूभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर समेत 8 केंद्रीय मंत्री, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और प्रदेश के आदिवासी नेता रहेंगे।
 

8:04 AM IST:

पीएम मोदी 3 साल बाद भोपाल आ रहे हैं। ये उनका भोपाल में छठवां दौरा है। इससे पहले वे सितंबर 2018 में भोपाल आए थे। तब यहां कार्यकर्ता महाकुंभ कार्यक्रम को संबोधित किया था। इससे पहले मई 2017 में नर्मदा संरक्षण यात्रा के समापन कार्यक्रम में अमरकंटक गए थे।
 

7:59 AM IST:

शिवपुरी जिले के बदरवास की महिला स्व सहायता समूह प्रगति ने ‘मोदी जैकेट’ तैयार की है। ये समूह इसे भोपाल लेकर आया है। महिला समूह ये जैकेट प्रधानमंत्री को भेंट करेगा। बदरवास में 2500 महिलाएं खादी से जैकेट बनाने का काम करती हैं। इन्होंने की खुद मोदी के लिए विशेष जैकेट बनाई है। जनजातीय गौरव दिवस के कार्यक्रम में प्रदर्शनी लगाई गई है, जिसमें 24 प्रोडक्ट हैं, जिनका अवलोकन पीएम मोदी करेंगे।
 

10:33 AM IST:

पीएम मोदी को आदिवासियों के हाथों से बनी कलाकृतियां भेंट की जाएंगी। इसमें झाबुआ से कोटि (जैकेट) मंगवाई गई है, इसे भीलों ने तैयार किया है। साफा और बीरन माला डिंडौरी के बैगाओं ने तैयार की है। जबकि जोबट के भीलों ने धनुष-वाण बनाकर भेजा है। 

PM Modi के लिए झाबुआ की जैकेट, डिंडोरी की साफा-माला और जोबट से आया धनुष-बाण

7:52 AM IST:
  • दोपहर 12.35 बजे भोपाल एयरपोर्ट पहुंचेंगे।
  • दोपहर 1 बजे बीयू हेलीपैड पहुंचेंगे।
  • दोपहर 1.10 बजे जंबूरी मैदान पहुंचेंगे। 
  • यहां पीएम जनजातीय सम्मेलन में शामिल होंगे।
  • दोपहर 3.20 बजे हबीबगंज रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे।
  • शाम 4.20 बजे हबीबगंज से दिल्ली के लिए निकलेंगे।
  • शाम 5.35 बजे दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरेंगे प्रधानमंत्री।
     

7:26 AM IST:

ये संग्रहालय विभिन्न राज्यों और क्षेत्रों के जनजातीय स्वतंत्रता सेनानियों की यादों को संजो कर रखेंगे। भगवान बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान सह स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालय झारखंड राज्य सरकार के सहयोग से रांची के पुराने केंद्रीय कारावास में बनाया गया है, जहां भगवान बिरसा मुंडा ने अपने प्राणों की आहुति दी थी। यह राष्ट्र और जनजातीय समुदायों के लिए उनके बलिदान को श्रद्धांजलि होगी।

7:25 AM IST:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 9:45 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए रांची में भगवान बिरसा मुंडा स्मृति उद्यान सह स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालय का उद्घाटन करेंगे। बता दें कि जनजातीय कार्य मंत्रालय ने अब तक 10 आदिवासी स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालयों के निर्माण को मंजूरी दी है। 

भोपाल : PM नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)ने सोमवार को वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन रानी कमलापति रेलवे स्टेशन (Rani Kamalapati) का लोकार्पण किया। इसी के साथ ही इंदौर (Indore) से उज्जैन (Ujjain) आने-जाने वाले यात्रियों के लिए प्रधानमंत्री ने बड़ी सौगात दी है। उन्होंने उज्जैन-इंदौर और इंदौर-उज्जैन के बीच मेमू ट्रैन का लोकार्पण किया। यह ट्रेन शुरू होने से रेल यात्रियों को बड़ी राहत मिलेगी। पीएम ने भोपाल-बरखेड़ा की तीसरी रेल लाइन शाहिद अन्य गांव का भी लोकार्पण किया। इस दौरान अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि आज के दिन को भोपाल, मध्यप्रदेश और देश के लिए अहम बताया। एक समय था जब लोगों ने रेलवे की सुविधाओं में सुधार की उम्मीद छोड़ दी थी, लेकिन हम उन उम्मीदों को पूरा करने का काम कर रहे हैं।