Asianet News Hindi

MP में फिर ऑक्सीजन की कमी से 5 मरीजों की मौत, अस्पताल छोड़कर भागे डॉक्टर और स्टाफ

 यह शर्मनाक घटना गैलेक्सी अस्पताल में गुरुवार आधी रात को सामने आई है। जहां ऑक्सीजन की कमी से 5 कोविड मरीजों की जान चली गई, मरीज चीखते रहे और डॉक्टर अपने घर जाकर चैन की नींद सो गए। मोर्चा संभालने रात तीन बजे कई थानों की पुलिस पहुंची।

madhya pradesh corona cases today jabalpur news 5 died corona patient of oxygen end in  jabalpur galaxy hospital kpr
Author
Jabalpur, First Published Apr 23, 2021, 4:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जबलपुर, मध्य प्रदेश में कोरोना अपने चरम पर पहुंच चुका है। रोज ऑक्सीजन की कमी से लोगों की मौत हो रही हैं। लोग एक-एक सिलेंडर के इंतजार में दम तोड़ते जा रहे हैं। राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा चुकी है। जबलपुर में फिर ऑक्सीजन की कमी से 5 कोविड मरीजों की जान चली गई। हद तो तब हो गई जब यहां ऑक्सीजन सप्लाई बंद हो गई त ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर और अस्पताल का अन्य स्टाफ मरीजों को तड़पते हुए भाग खड़े हुए।

मरीजों की मौत के बाद डॉक्टर सोए चैन की नींद
दरअसल, यह शर्मनाक घटना गैलेक्सी अस्पताल में गुरुवार आधी रात को सामने आई। जहां के डॉक्टरों ने इस तरह जानवरों की तरह रवैया अपनाया। मरीज चीखते रहे और वह अपने घर जाकर चैन की नींद सो गए। जब गुस्साए परिजनों ने हंगामा किया तो आनन-फानन में पुलिस ने मौके पर पहुंचे जिसके बाद कहीं से तुरंत कुछ सिलेंडर की व्यवस्था कराई गई। लेकिन तब तब 5 मरीजों की सांसे थम चुकी थीं। हैरानी की बात यह है कि जिस अस्पताल में दर्जनों मरीज भर्ती हैं वहां के डॉक्टरों ने ऑक्सीजन का कोई बैकअप नहीं रखा था।

रात तीन बजे कई थानों की बुलानी पड़ी पुलिस 
हंगामा बढ़ा तो CSP दीपक मिश्रा समेत कोतवाली, लार्डगंज, विजय नगर, मदनमहल, अधारताल समेत कई थाने की पुलिस बल मौके पर बुलाना पड़ा। बताया जाता है कि मृतकों के परिजनों का साथ देने के लिए  NSUI के कार्यकर्ता भी पहुंच गए थे। परिजन अस्पताल प्रबंधन और ड्यूटी पर तैनात डॉक्टरों के खिलाफ FIR दर्ज कराने की मांग पर अड़े हुए थे। किसी तरह पुलिस की काफी कोशिशों के बाद मामले को शांत कराया गया।

15 दिन में 62  लोगों की मौत ऑक्सीजन की कमी से हुई
बता दें कि जबलपुर में इससे पहले भी पांच लोगों की ऑक्सीजन की कमी से 5 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं तीन पहले राजधानी भोपाल के पीपुल्स मेडिकल कॉलेज में  ऑक्सीजन की कमी के चलते 10 कोरोना मरीजों की मौत हुई थी।  5 दिन पहले शहडोल में 12 लोगों लोगों ने ऑक्सीजन नहीं होने से दम तोड़ा था।  दैनिक भास्कर की खबर के मुताबकि, मध्य प्रदेश में पिछले 15 दिन में 62  लोगों की मौत सिर्फ ऑक्सीजन की कमी से हुई है।

ये खबरें भी पढ़ें... 

कोरोना मरीजों के लिए बना कोविड केयर सेंटर, योग-IPL मैच देखने समेत मिलेंगी कई सुविधाएं

कोरोना: नर्स ने मरीज को छूने से किया मना...तो खुद ही अपनों का इलाज करने लगे परिजन

कोरोना: मरीजों की जान बचाने के लिए यहां शुरू हुआ ऑक्सीजन लंगर

वेंटिलेटर पर शख्स के मुंह में लगी ऑक्सीजन फिर भी तंबाकू मलते नजर आया

कोरोना से बचने इस गांव के लोगों ने किए बड़े काम, संक्रमण का एक भी केस नहीं आया

कोरोना में डॉक्टर के पास जाना है मुश्किल, इन फोन नंबर्स पर घर बैठे मिलेगी सलाह

संकट के समय फ्री में ऑक्सीजन सप्लाई कर रहे हैं ये बिजनेसमैन

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios