Asianet News HindiAsianet News Hindi

MP में नहीं थम रही बारिश से तबाही, CM शिवराज ने सुनाया ऐसा फरमान कि कलेक्टर-SP को पड़ गए लेने के देने

मध्य प्रदेश के विंध्य और ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में भारी बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। बाढ़ ने ऐसी तबाही मचाकर रखी हुई है कि हालात बेकाबू हो गए हैं, लोगों का जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है।

madhya pradesh heavy rains and flood sheopur collector sp transferred by cm shivraj singh chouhan
Author
Sheopur, First Published Aug 8, 2021, 2:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

श्योपुर. मध्य प्रदेश के विंध्य और ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में भारी बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। बाढ़ ने ऐसी तबाही मचाकर रखी हुई है कि हालात बेकाबू हो गए हैं, लोगों का जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। हजारों लोग बेघर हो गए हैं और करोंड़ों की फसल बर्बाद हो चुकी है। लेकिन फिर भी प्रशासन राहत कार्यों में हुई लापरवाही बरत रहा है। इन सबको देखते हुए सीएम शिवराज एक्शन में आ गए और संबंधित अफसरों को जिले से हटा दिया है।

सीएम ने कहा-ऐसी तबाही मैंने कभी नहीं देखी
दरअसल, भारी बारिश से सबसे ज्यादा बुरे हालात श्योपुर जिल के हैं। जहां बाढ़ पीड़ितों अपने जिले के अफसरों पर लापरवाही बरते के आरोप लगाए। इसका परिणाम यह हुआ कि रविवार को सीएम शिवराज ने जिले के कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक बदल दिए। क्योंकि मुख्यमंत्री जब जायजा करने के लिए मौक पर पहुंचे थे तो उन्होंने कहा कि था कि ऐसी आपदा प्रदेश में उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी में नहीं देखी।

बदले गए जिले के सभी बड़े अफसर
बाढ़ में लापरवाही की गाज जिले के अफसरों पर गिरी और श्योपुर कलेक्टर राकेश श्रीवास्तव को हटाकर उन्हीं की जगह पर शिवम वर्मा को चार्ज दिया है। अपर कलेक्टर रूपेश कुमार भी हटाए गए गए हैं, उनके स्थान पर त्रिभुवन नारायण सिंह नए अपर कलेक्टर होंगे। साथ ही एसपी संपत उपाध्याय को हटाकर अनुराग सुजानिया को पदस्थ कर दिया है। इनके अलावा और भी कई अधिकारियों को तबादला कर दिया है।

धसने लगीं सड़कें..डूबे हजारों मकान
बता दें कि भारी बारिश की वजह से शिवपुरी-श्योपुर, गुना और अशोकनगर जिलों में सिंध नदी का जलस्तर लगातार बढ़ा हुआ है। पानी खतरे के निशान कहीं ज्यादा ऊपर बहने लगा है। हजारों घर पानी में डूब चुके हैं। रोजाना जलप्रलय की डरवानी तस्वीरें सामने आ रही हैं। आलम यह हो गया है कि सड़कें धसने लगी हैं। अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 1200 के करीब गांव बाढ़ प्रभावित हैं।

यह भी पढ़ें-MP बारिश की अब तक की सबसे मार्मिक तस्वीर,जब कलेक्टर-SP ने 1 माह की मासूम को गोद में उठाया तो आ गए आंसू

               MP में प्रचंड बारिश: सड़कों पर आया सैलाब, देखिए जलप्रलय की सबसे ज्यादा चर्चित और डरावनी तस्वीरें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios