Asianet News Hindi

मिलिए अल्लाह के इस नेक बंदे से, जिसे ईद के दिन सड़क पर मिला लाखों रपए से भरा बैग..पेश की एक नई मिसाल

शेखू खान ने बारीकी से परवेज की पूरी बात सुनी और ईमानदारी का परिचय देते हुए रुपयों से भरा थैला लेकर लॉर्डगंज थाना पहुंच गए। जहां उन्होंने पुलिस को इन रुपयों को सौंपकर पूरी कहानी बताई। पुलिस ने आसपास के इलाकों में पता लगाना शुरू कर दिया कि आखिर यह रुपए किसके हैं।
Madhya Pradesh News, Muslim man found bag filled with lakhs of rupees on the road on Eid and returned it to his owner kpr
Author
Jabalpur, First Published Jul 21, 2021, 7:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जबलपुर (मध्य प्रदेश). कलयुग में पैसे को देख अच्छे-अच्छों की नीयत बिगड़ जाती है। अगर किसी को गलती से रास्ते में हजार दो हजार रुपए पड़े मिल जाएं तो वह चुपचाप उनके रख लेता है। लेकिन आज ईद के दिन अल्हा के एक बंदे ने मानवता और ईमानदारी की मिसाल पेश की है। जिसे बीच सड़क पर लाखों रुपए से भरा बैग मिला, लेकिन उसकी नीयत नहीं बिगड़ी और किसी तरह उन रुपयों को मालिक तक पहुचा दिए।

घर जाकर बैग खोला तो पैरों तले जमीन खिसक गई
दरअसल, यह मामला जबलपुर शहर के लार्डगंज थाना इलाके में बुधवार को देखने को मिला। यहां के रहने वाले नवीन जैन नाम के युवक बैंक से अपने खाते से निकालकर 5 लाख रुपए निकाल कर ला रहे थे। लेकिन हड़बड़ी में ढाई लाख रुपयों की एक थैली बैग से कहीं रास्ते में गिर गई। जब उन्होंने घर पहुंचकर बैग खोला तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। क्योंकि उसमें से आधे रुपए गायब थे। अंत में वह थक हार के वो अपने घर लौट, उनको उम्मीद नहीं थी कि अब उनके पैसे मिलेंगे।

पूरा रास्ता  चप्पा-चप्पा छाना, लेकिन नहीं मिले रुपए से भरा थैला
पैसे गिरनs के बाद नवीन जैन तुरंत घर से भागते हुए उसी रास्ते से चप्पा-चप्पा छानते हुए बैंक तक गए, लेकिन उन्हें कहीं कोई रुपए नहीं मिले। इसी दौरान परवेज नाम का युवक वहां से गुजरा और उसे रुपयों से भरा थैला मिला। वह बड़ी रकम देखकर हैरान था, लेकिन उसकी नीयत नहीं बिगड़ी। पैसों को लेकर वह अपने  फुटवियर की दुकान के मालिक शेखू खान के पास पहुचा और पैसे मिलने की सारी बात बताई। 

पुलिस ने भी परेवज की ईमनादारी को किया सैल्यूट
शेखू खान ने बारीकी से परवेज की पूरी बात सुनी और ईमानदारी का परिचय देते हुए रुपयों से भरा थैला लेकर लॉर्डगंज थाना पहुंच गए। जहां उन्होंने पुलिस को इन रुपयों को सौंपकर पूरी कहानी बताई। पुलिस ने आसपास के इलाकों में पता लगाना शुरू कर दिया कि आखिर यह रुपए किसके हैं। जैसे ही नवीन जैन को इसके बारे में पता चला तो वह थाने पहुंचे । वहीं परवेज और शेखू खान की ईमानदारी देखर उनके कायल हो गए। कहने लगे कि आज वास्तव में तुमने मुझे ईदी दी है। दोनों को नवीन ने गले लगाकर धन्यवाद दिया। वहीं पुलिस ने भी इनकी मानवता को सलाम किया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios