Asianet News HindiAsianet News Hindi

मध्यप्रदेश में भारी बारिश: 6 जिलों में बंद किए गए स्कूल, नर्मदा खतरे के निशान से ऊपर, कई बांधों के गेट खुले

राज्य में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार, प्रदेश में आने वाले दो दिनों में भारी बारिश हो सकती है। भोपाल, मालवा और विंध्य समेत प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश हो रही है।  

MP weather update Heavy rain alert in 24 hours schools closed in Narmadapuram and Bhopal pwt
Author
Bhopal, First Published Aug 16, 2022, 10:52 AM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश के कारण बाढ़ के हालात बने हुए हैं। बीते दो दिनों से राज्य के कई जिलों में जोरदार बारिश हो रही है। राजधानी भोपाल में एक बार फिर से मानसून एक्टिव हो गया है। भोपाल, रीवा और नर्मदापुरम संभाग समेत कई जगहों में बीते दो दिनों से लगातार बारिश हो रही है। भारी बारिश के कारण पांच जिलों के स्कूल में छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं। लगातार बारिश के कारण शहरों की स्थिति भी खराब है। सड़कों में जलभराव हो गया है। राज्य के कई नदी और नाले ऊफान पर हैं। भोपाल में लगातार बरसात के बाद भदभदा डैम के गेट खोल दिए गए हैं। 

यहां बंद किए गए स्कूल
भोपाल में भारी बारिश के कारण कलेक्टर अविनाश लावनिया ने सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को बंद करने का निर्देश जारी किया है। वहीं, दूसरी तरफ धार जिले के कारम बांध में लीकेज के मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जांच के निर्देश दिए हैं। प्रशासन ने भोपाल, सीहोर, बैतूल, होशंगाबाद, रायसेन और नर्मदापुरम जिले में बारिश को देखते हुए स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी है। 

नर्मदा नदी में उफान
भारी बारिश के कारण नर्मदापुरम जिले में नर्मदा नदी में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। जिले में नर्मदा नदी खतरे के निशान के ऊपर से बह रही है। बारिश और नर्मदा नदी के जलस्तर को देखते हुए निचले हिस्से में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम तैनात कर दी गई है।

भारी बारिश का अलर्ट 
राज्य में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार, प्रदेश में आने वाले दो दिनों में भारी बारिश हो सकती है। राज्य के कई जिलों में भारी बारिश को लेकर येलो औऱ ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 

शिवपुरी में खोले गए डैम के गेट
शिवपुरी जिले में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण सड़कों में पानी भर गया है। वहीं, दूसरी तरफ मड़ीखेड़ा डैम के गेट खोल दिए गए हैं। जानकरी के अनुसार, अभी डैम के 4 गेट खोले गए हैं। जिसके माध्यम से करीब 500 से 1000 क्यूमेक्स जल नदी में छोड़ा जाएगा।

इसे भी पढ़ें-  मध्य प्रदेश में भारी बारिश से मचा हाहाकार: घरों में भरने लगा पानी तो हाइवे हुए बंद, देखिए जलप्रलय की तस्वीरें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios