Asianet News HindiAsianet News Hindi

नितिन गड़करी ने मध्य प्रदेश में भरे मंच से मांगी जनता से माफी, तालियां बजाते रहे लोग, ये थी वजह

मध्य प्रदेश में बनाई जा रही खराब सड़क पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भरे मंच से माफी मांगी। उन्होंने कहा कि अगर गलती हुई है तो इसके लिए माफी भी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बरेला से मंडला तक 400 करोड़ रुपये की लागत से 63 किलोमीटर का टू लेन रोड बन रहा है, इससे मैं संतुष्ट नहीं हूं।

Nitin Gadkari apologized to the public from the stage filled in mp people kept clapping uja
Author
First Published Nov 9, 2022, 2:55 PM IST

भोपाल(Madhya Pradesh). मध्य प्रदेश में बनाई जा रही खराब सड़क पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भरे मंच से माफी मांगी। उन्होंने कहा कि अगर गलती हुई है तो इसके लिए माफी भी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बरेला से मंडला तक 400 करोड़ रुपये की लागत से 63 किलोमीटर का टू लेन रोड बन रहा है, इससे मैं संतुष्ट नहीं हूं। इसलिए मै जनता से इस असुविधा के लिए माफी मांग रहा हूं। केंद्रीय मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि सड़क का जितना काम बाकी है, उसे सस्पेंड कर दो। 

गौरतलब है कि जबलपुर-मंडला सड़क निर्माण में लापरवाही की शिकायत केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी तक पहुंच गई थी। उन्होंने मंडला में सड़कों के भूमि पूजन कार्यक्रम के दौरान भरे मंच से माफी मांगी। गडकरी ने निर्माण के बचे काम को सस्पेंड करने का भी निर्देश दिया। नितिन गडकरी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जल्दी ये रोड अच्छा और पूरा करके दो। मंत्री के कड़े तेवर को देखते हुए अधिकारियों की नींद उड़ गई है। अब आनन-फानन में सड़क सही करने व दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की कवायद शुरू कर दी गई है। 

नए सिरे से टेंडर जारी करने के निर्देश 
नितिन गडकरी ने अधिकारियों को वर्तमान फर्म का बाकी काम सस्पेंड करने और नए सिरे से टेंडर जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने इस संदर्भ में केंद्रीय राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते की शिकायत का भी जिक्र किया। गडकरी ने इसी कड़ी में जबलपुर में भी नवनिर्मित सड़क के लोकार्पण और 4,054 करोड़ रुपये की सात सड़क परियोजनाओं की आधारशिला रखने के लिए आयोजित एक अन्य कार्यक्रम को संबोधित किया।

सीएम शिवराज सिंह ने भी अफसरों को लगाई थी फटकार 
प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हाल ही में खराब सड़को को लेकर अधिकारियों पर जमकर बरसे थे। भोपाल की सड़कों के हालात की समीक्षा करते हुए उन्होंने अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा था कि जब राजधानी में ये हाल है तो और जगहों की क्या हालत होगी। उन्होंने अधिकारियों को चेताया था कि जल्द ही अगर सड़कों की हालत ठीक नहीं हुई तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios