Asianet News HindiAsianet News Hindi

जब ट्रैफिक चेकिंग में बगैर हेलमेट पकड़ी गईं GIRLS, पनिशमेंट में लिखना पड़ा 100 शब्दों का निबंध

ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करने वालों को सबक सिखाने भोपाल पुलिस ने एक अनूठा आइडिया निकाला है। बगैर हेलमेट या कागजात के गाड़ियां चलाने वालों से निबंध लिखने को कहा जा रहा है।

Road Safety Week in Bhopal: Girls caught in traffic checking, written essay in 100 words kpa
Author
Bhopal, First Published Jan 16, 2020, 7:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल, मध्य प्रदेश. ट्रैफिक नियमों के प्रति लोगों को जागरूक करने प्रशासन समय-समय पर कैम्पेन चलाता है। बावजूद ज्यादातर लोग एक कान से सुनकर दूसरे कान से बात निकाल देते हैं। दूसरा, ट्रैफिक चेकिंग के दौरान पकड़े जाने पर बहस करते हैं। कभी-कभार झगड़ा करने लगते हैं या धौंस दिखाते हैं। इसे देखते हुए भोपाल पुलिस ने एक अनूठा कैम्पेन शुरू किया है। इसके तहत नियमों का उल्लंघन करने वालों से 100 शब्दों में ट्रैफिक नियमों पर एक निबंध लिखवाया जा रहा है। बेशक यह शब्द कम हैं, लेकिन ज्यादातर लोगों को इसे लिखने में पसीना छूट गया।

निबंध प्रतियोगिता के जरिये संदेश..
भोपाल यातायात पुलिस ने 31वें सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत यह अनूठा कैम्पेन शुरू किया है। यह 17 जनवरी तक चलेगा। इसके तहत निबंध प्रतियोगिता कराई जा रही है। इसमें उन लोगों को बैठाया जा रहा है, जो बगैर हेलमेट या कागजात के गाड़ी चलाते पकड़े गए।

यूं की बहानेबाजी
 गुरुवार को जब कुछ लड़कियों को निबंध लिखवाने बैठाया गया, तो उनकी हालत पतली हो गई। 100 शब्दों का निबंध लिखने में उनका दिमाग भन्ना गया। इनमें से ज्यादातर बहानेबाजी करने लगीं। किसी ने कहा कि सॉरी सर, हेलमेट घर पर भूल आई। किसी ने कहा कि आगे से ऐसा नहीं होगा। बहरहाल, निबंध का विषय है-दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट क्यों नहीं पहना था? निबंध प्रतियोगिता के विजेता को पुरस्कार में हेलमेट ही दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पिछले साल भोपाल में 242 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios