Asianet News HindiAsianet News Hindi

MP में क्रूरता: 7 साल की बच्ची से रेप के बाद हत्या, सगे फूफा ने की दरिंदगी. फिर पुलिस को भी खुद ने बुलाया

बच्चियों के साथ  हैवानियत की घटनाओं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। मध्य प्रदेश के नर्मदापुरम जिले से ऐसी ही खबर सामने आई है। जहां सगे फूफा ने अपनी सात साल की भतीजी की रेप के बाद हत्या कर दी। इसके बाद शव जंगल में फेंक दिया। हैरानी की बात है कि आरोपी ने खुद पुलिस बुलाई।

shocking crime narmadapuram news real uncle  7 year old girl murdered after rape  then threw the dead body in forest kpr
Author
First Published Nov 19, 2022, 11:33 AM IST

नर्मदापुरम. मध्य प्रदेश में महिलाओं के साथ आपराधिक मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अक्सर देखा है कि रेप और हत्या के घटनाओं को पीड़िताओं के परिचित ही अंजाम दे रहे हैं। प्रदेश के नर्मदापुरम जिले से एक ऐसा ही रूह कंपा देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक शख्स के सिर पर ऐसा हैवान सवार हुआ कि उसने अपनी 7 साल की भतीजी का रेप के बाद हत्या कर दी। मासूम फूफा-फूफा चीखती रही और उसने बच्ची का गला घोंटकर शव जंगल में फेंक दिया। हालांकि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

माता-पिता मजूदरी करने के लिए गए...तभी आ धमका फूफा
दरअसल, यह हैवानियत की घटना नर्मदापुर जिले के ब्लॉक केसला की है। जहां शुक्रवार को बच्ची के माता-पिता मजूदरी करने के लिए गए हुए थे। घर पर बच्ची अकेली थी, इसी बीच फूफा आया और उसके साथ दरिंदगी की। इसके बाद पता चलने के डर से उसकी हत्या कर दी। बच्ची के परिजन जब शाम को घर लौटे तो मासूम नहीं दिखी, इसके बाद उन्होंने पुलिस के पास जाकर गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई।

पुलिस ने ऐसे आरोपी को किया गिरफ्तार
मामले की जांच कर रहे केसला थाना प्रभारी गौरब बुंदेला ने बताया कि पुलिस ने बच्ची की तलाश करते हुए आसपास के लोगों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि आखिरी समय बच्ची अपने फूफा के साथ अकेले घर में देखी गई थी। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को  हिरासत में लिया और उससे पूछताछ की, शुरूआत में तो उसने झूठी कहानी बनाने की कोशिश की, लेकिन जब कड़ाई से छानबीन की तो अपना गुनाह कबूल कर लिया। खुद बयां कर दिया की उसने रेप के बाद उसे मार डाला।

बेटी का शव गोद में रख पिता घंटों बिलखते रहे
बच्ची के शव को गोद में रख पिता घंटों बिलखते रहे, कहा बेटी घर में बड़ी थी, उससे छोटा भाई है। वह चौथी क्लास पढ़ती थी। हमें अगर पता होता कि उसके साथ ऐसा हो जाएगा तो उसे अकेला नहीं छोड़ते। मैं उस दिन पत्नी के साथ मजदूरी करने के लिए चला गया था। शाम को जब लौटा तो वह घर पर नहीं थी। इसके बाद फूफा से पूछा तो वह कहने लगा कि उसने बच्ची को चॉकलेट दिलाकर दुकान पर ही छोड़ दिया था। इसके बाद कहां गई, नहीं पता। फिर हमने मिलकर उसे गांव में तलाशना शुरू किया। इतना ही नहीं खुद फूफा ने डायल 100 करके पुलिस को बुलाया। हमें क्या पता था कि हम जिसके भरोसे बच्ची को छोड़कर गए थे, वह ही उसे मार डालेगा।

यह भी पढ़ें-राजस्थान में ऑनर किलिंग: निर्वस्त्र मिला शिक्षक और युवती का शव, प्राइवेट पार्ट काटकर कर दिया था अलग

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios