रातलाम (मध्य प्रदेश). हमारे देश में भगवान श्रीगणेश के अनेक मंदिर हैं, लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो चमत्कार और अनोखी वजह से भक्तों में लोकप्रिय हैं। हम आपको आज ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां गणेशोत्सव के दौरान 1 दिन मुस्लिम समाज के लोग आरती करते हैं और वही भोग लगाते हैं।

मुस्लिम समाज के लोग करते हैं बप्पा की आरती
देश में यह अनोखा मंदिर मध्य प्रदेश के रतलाम शहर में है, जिसे नित्य चिंताहरण गणेश मंदिर के नाम से जाना जाता है। इस मंदिर में प्राचीन मूर्ति स्थापित हैं। यहां हर साल इस दौरान साम्प्रदायिक सदभाव देखने को मिलता है। गणेशोत्सव के समय एक दिन ऐसा होता है जब मुस्लिम समाज के लोग बप्पा की महाआरती करते हैं। साथ उन्हीं की तरफ से भोग भी लगाया जाता है।

यहां चिट्टी लिखकर मांगी जाती है मन्नत
गणेशोत्सव के दौरान यहां दूर-दूर से लोग आते हैं। स्थानीय लोगों के मुताबिक, बप्पा के दरबार में जो भी आता उसकी सारी मनोकानाएं पूरी होती हैं। नित्य चिंताहरण गणेश मंदिर में मन्नत मांगने का अनूठा तरीका है। भक्त चिट्ठी लिखकर बप्पा से मन्नत मांगते हैं। गणेशजी भी भक्तों की चिट्टी में लिखी हुई मनोकामना को जल्द पूरा कर देते हैं और आपकी जो भी चिंता होती उसे भी खत्म कर देते हैं।