Asianet News HindiAsianet News Hindi

महाराष्ट्र में ऑफलाइन परीक्षा रद्द करने की मांग, छात्रों ने शिक्षा मंत्री के घर के बाहर किया प्रदर्शन

महाराष्ट्र में सोमवार को छात्रों ने 10वीं और 12वीं की ऑफलाइन परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर उग्र विरोध प्रदर्शन किया। छात्र ऑनलाइन परीक्षा कराए जाने की मांग कर रहे थे। 

Demand to cancel offline exams in Maharashtra students protest outside Education Minister house
Author
Mumbai, First Published Feb 1, 2022, 1:18 AM IST

मुंबई। महाराष्ट्र में सोमवार को छात्रों ने 10वीं और 12वीं की ऑफलाइन परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर उग्र विरोध प्रदर्शन किया। छात्र ऑनलाइन परीक्षा कराए जाने की मांग कर रहे थे। हजारों छात्रों ने शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ के घर के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। मंत्री के घर के बाहर से छात्रों को हटाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। 

धारावी के अशोक मिल नाका में यह विरोध प्रदर्शन किया गया। स्थानीय पुलिस के अनुसार हजारों छात्र मंत्री के आवास की तरफ बढ़ रहे थे, इसलिए उन्हें रोकने के लिए हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि लाठीचार्च में किसी छात्र को गंभीर चोट नहीं पहुंची है। कुछ छात्रों को पकड़कर थाने लाया गया, लेकिन उन्हें जल्द ही छोड़ दिया गयाा। 

स्वास्थ्य मंत्री ने छात्रों से की सहयोग की अपील
ऑफलाइन परीक्षा आयोजित करने के राज्य सरकार के फैसले का बचाव करते हुए स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि सावधानीपूर्वक विचार करने के बाद यह कदम उठाया गया है। परीक्षा आयोजित करते समय सामाजिक दूरी, सेनेटाइजेशन, मास्क पहनने समेत यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि छात्र-छात्राओं को कोरोना टीका की दोहरी खुराक दी गई है या नहीं। 

स्वास्थ्य मंत्री ने प्रदर्शन कर रहे छात्रों से परीक्षा आयोजित करने में सरकार का सहयोग करने की अपील की। इस बीच मुंबई पुलिस ने कहा कि वे एक यूट्यूबर के खिलाफ कार्रवाई करेंगे, क्योंकि यह पता चला है कि इसने छात्रों को विरोध के लिए मंत्री गायकवाड़ के आवास के पास एकत्र होने के लिए कहा था। पुलिस उपायुक्त प्रणय अशोक ने कहा, ''छात्रों को उकसाने के लिए जिम्मेदार व्यक्ति के खिलाफ कानून के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।'' 

यह है मामला
पिछले दो साल से मुंबई समेत पूरे महाराष्ट्र में स्कूल और कॉलेज बंद थे। इस दौरान 10वीं और 12वीं के छात्रों की परीक्षाएं ऑनलाइन हुई थीं। छात्रों को ऑनलाइन परीक्षा इस कदर रास आ रही है कि वे अब ऑफलाइन एग्जाम नहीं देना चाहते हैं। कोरोना की तीसरी लहर थमने के कारण महाराष्ट्र सरकार ने कॉलेज में परीक्षाएं आयोजित करने का सुझाव दिया है। इसका मुंबई, पुणे, औरंगाबाद और नागपुर समेत राज्य के कई शहरों में छात्रों द्वारा विरोध किया जा रहा है।

 

ये भी पढ़ें

मध्य भारत के पांच राज्यों में बनेंगे 16 नए हवाई अड्डे, उत्तर प्रदेश को मिलेंगे 9 Airport

UP Election 2022: BSP ने 61 नामों की सूची जारी की, 19 ब्राह्मण, 10 दलित और 9 मुस्लिम को मैदान में उतारा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios