Asianet News Hindi

लॉकडाउन में मजदूर पति-पत्नी ने पेश की अनूठी मिसाल, गजब है इनकी 'दशरथ मांझी' वाली कहानी

लॉकडाउन में लोग अपने घरों में बैठे-बैठे बोर होने लगे हैं। वह चाहकर भी बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र में मजदूर पति-पत्नी ने घर में रहकर ऐसी मिसाल पेश की है, जहां लोग उनकी तुलना दशरथ मांझी से कर रहे हैं।

maharashtra coronavirus husband wife digs 25 feet well in lockdown kpr
Author
Mumbai, First Published Apr 21, 2020, 12:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिम (महाराष्ट्र).. लॉकडाउन में लोग अपने घरों में बैठे-बैठे बोर होने लगे हैं। वह चाहकर भी बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र में मजदूर पति-पत्नी ने घर में रहकर ऐसी मिसाल पेश की है, जहां लोग उनकी तुलना दशरथ मांझी से कर रहे हैं।

पति-पत्नी के जज्बे को सलाम कर रहे लोग
दरअसल, लॉकडाउन के चलते वाशिम जिले के कारखेड़ां गांव में रहने वाले मजदूर पति-पत्नी ने घर में रहकर कुछ करने का सोचा। जहां दोनों ने मिलकर अपने आंगन में 21 दिन की मेहनत से 25 फीट गहरा कुआं खोद दिया। ग्रामीण उनकी इस पहल को देखकर हैरान हैं, वह उनके इस जज्बे को सलाम कर रहे हैं।

पहले दिन गांववालों ने उड़ाया था मजाक
बता दें कि गजानन पकमोड़े मजदूरी कर अपने घर का खर्चा चलाते हैं। ऐसे में पति-पत्नी ने लॉकडाउन के इस खाली समय का सही उपयोग करने के लिए कुआं खोदने की ठाना। गांववालों ने उनका जमकर मजाक उड़ाया। कहने लगे कि दो लोगों से कभी कोई कुआं खुदा है जो यह खोद पाएंगे। लेकिन, पति-पत्नी ग्रामीणों की बात को अनसुना करके खुदाई करने में लग गए। आखिर में दोनों की मेहनत रंग लाई और  25 फुट कुआं खोद डाला, जिसमें पानी भी निकल आया।

दोनों की जमकर हो रही तराीफ
जो लोग कल तक पति-पत्नी का मजाक उड़ा रहे थे, अब वही उनकी मेहनत की तारीफ कर कह रहे हैं- यह तो दशरथ मांझी की जोड़ी है। दोनों ने कहा-हमारे गांव की नल योजना भी बंद है। कुएं से अब राहत मिलेगी। इससे पुशओं और लोगों को पर्याप्त मात्रा में पानी पीने के लिए मिल सकेगा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios