Asianet News HindiAsianet News Hindi

नवाब मलिक के दामाद की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, जमानत के खिलाफ याचिका दाखिल करेगी NCB

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) के दामाद समीर खान (Sameer Khan) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।  नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) उनकी जमानत के खिलाफ याचिका दाखिल करने की तैयारी में है। समीर को एनसीबी ने 200 किलो ड्रग्स मामले में गिरफ्तार किया था। आरोप है कि समीर के ड्रग मामले (Druges Case) में एक आरोपी के साथ 20 हजार रुपए के लेन-देन के सबूत मिले थे। हालांकि, मलिक परिवार ने दावा किया कि वह 'हर्बल तंबाकू' था। मलिक लगातार NCB और वानखेड़े पर हमला बोल रहे हैं।

NCB file petition court against bail Sameer Khan son in law of minister Nawab Malik Maharashtra government UDT
Author
Mumbai, First Published Nov 6, 2021, 3:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) के दामाद समीर खान (Sameer Khan) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। एनसीबी अब समीर की जमानत के खिलाफ याचिका दायर करेगी। एनसीबी ने शुक्रवार को ही इस केस को NCB के मुंबई के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) से वापस ले लिया था। फिलहाल, ये केस अब NCB दिल्ली की ऑपरेशनल यूनिट के पास है, जिसके इंचार्ज डीडीजी ज्ञानेश्वर सिंह (Gyaneshwar Singh) हैं। सूत्रों की मानें तो एसआईटी (SIT) अब मलिक के दामाद समीर खान को दी गई जमानत को रद्द करने के लिए कोर्ट का रुख कर सकती है। माना जा रहा है कि NCB के इस कदम से राजनीतिक विवाद हो सकता है। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक महीनेभर से NCB के खिलाफ लगातार हमलावर हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कोर्ट में जमानत को चुनौती देने का फैसला पिछले महीने की शुरुआत में ही कर लिया गया था।

NCB को समीर खान के एक ड्रग मामले में आरोपी के साथ 20 हजार रुपए के लेन-देन के सबूत मिले थे। इसलिए उन्हें जनवरी में गिरफ्तार किया गया था। NCB ने दावा किया था कि उन्हें 200 किलोग्राम ड्रग के साथ गिरफ्तार किया था। हालांकि मलिक परिवार ने दावा किया कि वह ‘हर्बल तंबाकू’ था। समीर का केस तब अचानक सुर्खियों में आया, जब एनसीबी ने पिछले महीने बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान (Shahrukh Khan) के बेटे आर्यन खान को क्रूज ड्रग्स मामले (Aryan Khan Drugs Case) में गिरफ्तार किया था। इसके बाद समीर के ससुर और मंत्री नवाब मलिक ने एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर बॉलीवुड इंडस्ट्री से जबरन वसूली, फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनाने और शाहरुख को फंसाने के लिए फर्जी केस बनाने का आरोप लगाया था। मंत्री ने एनसीबी पर बॉलीवुड और महाराष्ट्र की छवि खराब करने की कोशिश करने का भी आरोप लगाया है।

एनसीबी को समीर के ड्रग सिंडिकेट में शामिल होने का शक
एनसीबी की जांच में पता चला था कि समीर ड्रग पेडलर करण सजनानी ट्रक सिंडिकेट में बतौर एक्टिव मेंबर के तौर पर काम करता था। जांच में यह भी सामने आया था कि समीर करण को फंडिंग करता था। एनसीबी ने समीर का मोबाइल जब्त किया था और उसे फॉरेंसिक जांच के लिए भी भेजा था। एनसीबी ने इस मामले में पहले ही राहिला फर्नीचरवाला, करण सजनानी, शाहिस्ता फर्नीचर वाला और रामकुमार तिवारी को गिरफ्तार किया था।

देखते हैं कौन वानखेड़े की कोठरी से कंकाल निकालता है...
शुक्रवार को ही वानखेड़े से केस वापस लिए जाने के बाद मलिक ने कहा था कि NCB अधिकारी को मामले से हटाना ‘अभी शुरुआत है।’ उन्होंने कहा था- ‘आर्यन खान केस समेत पांच मामलों से समीर वानखेड़े को हटाया गया है। कुल 26 मामले हैं जिनकी जांच की जरूरत है। ये तो बस शुरुआत है। सिस्टम को साफ करने के लिए अभी बहुत कुछ करना है और हम करेंगे।’ इसके बाद शनिवार सुबह भी ट्वीट कर समीर वानखेड़े पर निशाना साधा और कहा- मैंने समीर वानखेड़े पर आर्यन खान के अपहरण और फिरौती मांगने के आरोप में एसआईटी जांच की मांग की थी। अब केंद्र और राज्य द्वारा दो एसआईटी का गठन किया है। देखते हैं कौन वानखेड़े की कोठरी से कंकाल निकालता है और उन्हें और उनकी नापाक निजी सेना को बेनकाब करता है।

Malik Vs Wankhede: मलिक बोले- देखते हैं कौन वानखेड़े की कोठरी से कंकाल निकालता है, निजी सेना को बेनकाब करेगा

Aryan Khan Drugs Case: कौन हैं क्रूज पार्टी के ऑर्गेनाइजर काशिफ खान?, नवाब मलिक के आरोपों पर क्या खुलकर बोले

Malik vs Wankhede: खुला दाढ़ी वाले का राज, नवाब बोले- क्रूज पर था फैशन टीवी का हेड कासिफ, सेक्स रैकेट भी चलाता

Aryan Khan Drugs Case: नवाब मलिक ने पूछा- NCB ने ड्रग माफिया और उसकी पिस्तौल वाली गर्लफ्रेंड को क्यों छोड़ा?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios