Asianet News Hindi

नागरिकता कानून के विरोध में होनी थी ओवैसी की रैली, बीच में आई पुलिस फिर...

डीसीपी (जोन II) राजकुमार शिंदे ने बताया, ‘‘देश में मौजूदा स्थिति पर गौर करते हुए पुलिस ने आयोजकों को पत्र भेजकर उनसे जनसभा को टालने का अनुरोध किया था और आयोजक इस अनुरोध पर राजी हो गए।’’

Owaisi's rally was to be held against the citizenship law, the police came in the middle again ... kpm
Author
Thane, First Published Feb 27, 2020, 5:35 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ठाणे (महाराष्ट्र). महाराष्ट्र के ठाणे जिले में बृहस्पतिवार शाम एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में सार्वजनिक रैली को संबोधित करने वाले थे लेकिन पुलिस के अनुरोध पर इसे टाल दिया गया है।

देश में मौजूदा हालात को देखते हुए रद्द की गई रैली- पुलिस

एक अधिकारी ने बताया कि देश में मौजूदा हालात को देखते हुए पुलिस ने आयोजकों से रैली रद्द करने का अनुरोध किया था। ओवैसी भिवंडी के धोबी तलाव इलाके में परशुराम तावड़े स्टेडियम में शाम छह बजे के बाद रैली को संबोधित करने वाले थे। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) की स्थानीय इकाई इस रैली की आयोजक थी। हालांकि भोईवाड़ा पुलिस थाना ने बुधवार को पार्टी की स्थानीय इकाई को पत्र भेजकर कार्यक्रम रद्द करने का अनुरोध किया था।

पुलिस ने आयोजक से पत्र लिखकर जनसभा टालने का किया था अनुरोध

डीसीपी (जोन II) राजकुमार शिंदे ने बताया, ‘‘देश में मौजूदा स्थिति पर गौर करते हुए पुलिस ने आयोजकों को पत्र भेजकर उनसे जनसभा को टालने का अनुरोध किया था और आयोजक इस अनुरोध पर राजी हो गए।’’ औरंगाबाद से एआईएमआईएम के सांसद इम्तियाज जलील ने ट्वीट किया, ‘‘एआईएमआईएम प्रमुख सांसद असदुद्दीन ओवैसी मुंबई के भिवंडी में बृहस्पतिवार शाम को जनसभा को संबोधित करने वाले थे लेकिन पुलिस के इसकी इजाजत नहीं देने और इसे बाद में आयोजित करने के अनुरोध के बाद इसे टाल दिया गया है। हम आश्वस्त करते हैं कि यही कार्यक्रम खालिद गुड्डू की अगुवाई में मार्च के दूसरे हफ्ते में आयोजित होगा।’’

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios