Asianet News HindiAsianet News Hindi

वीर सावरकर के पोते ने शिवसेना पर जताया भरोसा, बोले- उम्मीद है उद्धव हिंदुत्व नहीं छोड़ेंगे

क्रांतिकारी वीर सावरकर के पौत्र रंजीत सावरकर ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पर उनकी विचारधारा के साथ समझौता न करने का भरोसा जताया है। रंजीत ने उद्धव पर विश्वास जताते हुए कहा कि मुझे भरोसा है कि उद्धव ठाकरे कभी हिंदुत्व की अपनी विचारधारा से समझौता नहीं करेंगे।

Veer Savarkar's grandson expressed confidence in Shiv Sena, said - Hope Uddhav will not give up Hindutva
Author
Mumbai, First Published Nov 15, 2019, 10:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


मुंबई. क्रांतिकारी वीर सावरकर के पौत्र रंजीत सावरकर ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पर उनकी विचारधारा के साथ समझौता न करने का भरोसा जताया है। रंजीत ने उद्धव पर विश्वास जताते हुए कहा कि मुझे भरोसा है कि उद्धव ठाकरे कभी हिंदुत्व की अपनी विचारधारा से समझौता नहीं करेंगे। रंजीत सावरकर ने कहा कि उद्धव ठाकरे सावरकर को भारत रत्न दिए जाने की अपनी मांग से पीछे नहीं हटेंगे।

महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने को लेकर वीर सावरकर के पौत्र ने अपनी बात रखी है। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि शिवसेना हिंदुत्व को लेकर कांग्रेस के स्टैंड को बदलने में सफल होगी। शिवसेना ने महाराष्ट्र का चुनाव बीजेपी के साथ मिलकर लड़ा था और दोनों पार्टियों ने जनता से वीर सावरकर को भारत रत्न दिलाने का वादा किया था। अब शिवसेना भाजपा से अलग होकर कांग्रेस और NCP के साथ सरकार बनाने की कोशिश कर रही है। ऐसे में शिवसेना के लिए जनता से किया अपना वादा पूरा करना मुश्किल होगा। 

क्रांतिकारी वीर सावरकर हिंदू महासभा से जुड़े थे और हिंदुत्व पर उनके विचार हमेशा ही चर्चा का विषय रहे हैं। पूरे महाराष्ट्र में वीर सावरकार का नाम आदर के साथ लिया जाता है। शिवसेना जैसे राजनीतिक दल जिनका एजेंडा मुख्य रूप से हिंदुत्व पर केन्द्रित रहता है, ऐसे दल हमेशा से ही वीर सावरकर को अपना आदर्श मानते रहे हैं।  

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios