Asianet News HindiAsianet News Hindi

5 राज्यों के विस चुनाव पर सर्वेः UP, UK में फिर आ सकती है BJP, जानिए गोवा, पंजाब और मणिपुर के नतीजे

यूपी (UP), पंजाब (Punjab) समेत देश के पांच राज्यों में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव (Assembly elections 2022) होने हैं। चुनावी राज्यों में राजनीतिक दल गुणा-भाग करने में लग गए हैं। इस बीच, C VOTER ने एक सर्वे किया है। इसमें चौंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं। सर्वे के आंकड़ों के मुताबिक, 2022 के विधानसभा चुनाव में यूपी, उत्तराखंड और गोवा में बीजेपी बहुमत के करीब है। सर्वे में 98 हजार से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया। ये सर्वे  4 सितंबर 2021 से 4 अक्टूबर के बीच किया गया है। इसमें मार्जिन ऑफ एरर प्लस माइनस तीन से प्लस माइनस पांच फीसदी है।

Abp C Voter Survey Assembly elections 2022 Opinion Poll BJP May Form Government in Up Uttarakhand And Goa Know About Punjab And Manipur
Author
New Delhi, First Published Oct 9, 2021, 6:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा, मणिपुर में अगले साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। इन चुनावी राज्यों में राजनीतिक पारा गरम है। सभी राजनीतिक दलों ने अभी से चुनावी तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस बीच, सी-वोटर (C-voter Survey) की तरफ से सर्वे किया गया है। इसमें जनता से मूड को भांपने की कोशिश की गई है। जानिए किस राज्य में किस पार्टी को कितनी सीटें मिल सकती हैं और किसकी ताजपोशी होने जा रही है...

जानिए यूपी के हाल,  योगी खेलेंगे दूसरी पारी या अखिलेश और मायावती की होगी वापसी?
उत्तर प्रदेश में 403 विधानसभा चुनाव सीटें हैं। सी-वोटर सर्वे के अनुसार, बीजेपी के खाते में 241 से 249 सीटें जा सकती हैं। जबकि समाजवादी पार्टी के हिस्से में 130 से 138 सीटें आ सकती हैं। इसी तरह बसपा 15 से 19 के बीच और कांग्रेस 3 से 7 सीटों के बीच सिमट सकती है। सर्वे में साफ नजर आ रहा है कि उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से बीजेपी सत्ता में वापसी कर सकती है। हालांकि 2017 के मुकाबले बीजेपी को सीटों का नुकसान जरूर झेलना पड़ सकता है। सर्वे की मानें तो बीजेपी की सीटें जरूर कम होती दिख रही हैं। 

यूपी में बीजेपी 41 फीसदी वोट हासिल कर सकती
सर्वे के मुताबिक, यूपी में बीजेपी को 41 फीसदी वोट हासिल हो सकता है। जबकि समाजवादी पार्टी के खाते में 32 फीसदी, बहुजन समाज पार्टी के खाते में 15 फीसदी, कांग्रेस को 6 फीसदी और अन्य के खाते में 6 फीसदी वोट जा सकते हैं। सी-वोटर सर्वे में जब जनता से यह सवाल किया गया कि किसान आंदोलन को लेकर सही कौन है? इसके जवाब में 59 फीसदी ने कहा कि किसान सही हैं, जबकि 41 फीसदी ने सरकार को सही बताया है। सर्वे में जब जनता से यह पूछा गया कि क्या यूपी में कानून-व्यवस्था पिछले कुछ दिनों में खराब हुई है? इसके जवाब में 63 ने हां कहा, जबकि 37 फीसदी ने नहीं में जवाब दिया है। वहीं, लखीमपुर केस में 60 फीसदी लोगों ने कहा कि बीजेपी को नुकसान पहुंचा है। जबकि 40 फीसदी ने कहा कि इसका कोई नुकसान नहीं हुआ है।

पंजाब में किसकी सरकार:कौन CM की पहली पसंद,सर्वे में सिद्धू-कैप्टन भी पीछे, जानिए पंसदीदा मुख्यमंत्री

उत्तराखंड: जानिए मुख्यमंत्री पद के लिए कौन है पहली पसंद?
उत्तराखंड में 70 विधानसभा सीटें हैं। कांग्रेस को 21 से 25 सीटें मिल सकती हैं। जबकि भाजपा को 42 से 46 सीटें और आम आदमी पार्टी को 0 से 4 सीटें मिलने का अनुमान है। अन्य को 0 से 2 सीटें मिल सकती है। सर्वे में यह निकलकर आया कि कांग्रेस को 34 फीसदी, बीजेपी को 45 फीसदी, आम आदमी पार्टी को 15 फीसदी और अन्य को 6 फीसदी वोट मिल सकते हैं। राज्य में मुख्यमंत्री के लिए 37 फीसदी लोगों ने हरीश रावत को पसंद किया। जबकि पुष्कर सिंह धामी को 24 फीसदी पंसद कर रहे हैं। कर्नल कोठियाल को 10 फीसदी, सतपाल महाराज को 1 फीसदी और अन्य को 9 फीसदी पसंद कर रहे हैं। जमीन कानून लाए जाने पर क्या फर्क पड़ेगा? सर्वे में पचास फीसदी ने हां और 50 फीसदी ने नहीं में जवाब दिया। राज्य में अगले साल चुनाव होने जा रहे हैं। सर्वे में पूछा गया कि क्या बार-बार मुख्यमंत्री बदलने से पार्टी को फायदा होगा? इसके जवाब में 33 फीसदी लोगों ने हां और 67 फीसदी लोगों ने नहीं में जवाब दिया।

Asianet News Mood of Voters Survey: गोरक्ष में BJP को 63% ब्राम्हण का आर्शीवाद, कृषि लॉ का डेटा चौंकाने वाला

पंजाब में ‘आप’ सबसे बड़ी पार्टी बनने जा रही है...
पंजाब में 117 विधानसभा सीटों हैं। राज्य में इस बार आप सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर सकती है। सर्वे में आप को 49-55 सीटें मिलती नजर आ रही हैं। जबकि कांग्रेस  को 39-47 सीटें और अकाली दल को 17-25 सीटें, बीजेपी को 0-1 सीटें और अन्य को 0-1 सीटें मिल सकती हैं। कांग्रेस ने मुख्यमंत्री को बदल दिया है। पंजाब में वोट प्रतिशत के मामले में आम आदमी पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है। सर्वे में आप को 36 फीसदी वोट मिले। कांग्रेस को 32 फीसदी, अकाली दल को 22%, बीजेपी को 4 फीसदी और अन्य को 6% वोट मिलते नजर आ रहे हैं। सर्वे में पूछा गया कि सीएम बदलने से क्या फायदा होगा? इस पर 54 फीसदी लोगों ने हां कहा है। यानी कांग्रेस को कैप्टन अमरिंदर सिंह को हटाने का फायदा होगा। जबकि 46 फीसदी लोगों का मानना है कि कोई फायदा नहीं होगा। 

कैप्टन को हटाने से कांग्रेस को क्या फायदा होगा?
वहीं, पंजाब में सीएम के लिए चरणजीत सिंह चन्नी सही पसंद हैं ? इस सवाल पर 60 फीसदी लोगों ने सर्वे में हां में जवाब दिया जबकि 40 फीसदी लोगों ने कहा कि चन्नी सही पसंद नहीं हैं। इसके अलावा, क्या पंजाब में सीएम बदलकर कांग्रेस ने सही किया? इस सवाल पर 59 फीसदी लोगों ने हां में जवाब दिया, जबकि 41 फीसदी लोगों का मानना था कि सीएम बदलने का कांग्रेस का फैसला सही नहीं था।

ABP Cvoter Survey:यूपी में BJP को 62 सीट का नुकसान, 70% लोग मोदी के काम से खुश, जानें 4 अन्य स्टेट का हाल

गोवा में किसकी बनेगी सरकार? किसे मिलेंगी कितनी सीटें?
गोवा विधानसभा में बीजेपी सबसे ज्यादा सीटों के साथ राज्य में एक बार फिर से अपनी सरकार बना सकती है। पिछली बार राज्य में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी, लेकिन वह राज्य में सरकार नहीं बना पाई थी। इस बार कांग्रेस के पक्ष में मतदाताओं का मूड नहीं देखा जा रहा है। राज्य में 40 विधानसभा सीटें हैं। सी वोटर सर्वे में बीजेपी 24 से 28 सीटें, कांग्रेस के खाते में 1 से 5 सीटें, आम आदमी पार्टी के खाते में 3 से 7 सीट और अन्य के पास 4 से 8 सीटें जा सकती है। यानी बीजेपी को 38 फीसदी, कांग्रेस के खाते में 18 फीसदी, आम आदमी पार्टी को 23 फीसदी और अन्य को 21 फीसदी वोट मिल सकते हैं। 

मणिपुर में किसे कितने वोट मिल सकते और किसकी बनेगी सरकार?
मणिपुर में त्रिशंकु विधानसभा के आसार बन सकते हैं। राज्य में कुल 60 विधानसभा की सीटें हैं। सरकार बनाने के लिए कम से कम 31 सीटों की जरूरत होगी। सी वोटर सर्वे के मुताबिक, बीजेपी को 21-25 सीटें, कांग्रेस को 18 से 22 सीटें, एनपीएफ को 4 से 8 सीटें और अन्य को 1 से 5 सीटें मिल सकती है। यानी बीजेपी को 36 फीसदी, कांग्रेस को 34 फीसदी, एनपीएफ को 9 फीसदी और अन्य के खाते में 21 फीसदी वोट जा सकते हैं।

उत्तराखंड चुनाव पूर्व सर्वे: बीजेपी की सरकार बनाने के पक्ष में 45 प्रतिशत, क्यों हरीश रावत हैं पसंदीदा चेहरा
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios