Asianet News Hindi

कृषि विधेयकों पर अभिनेता अनुपम खेर ने किया सरकार का समर्थन, कहा - बदल गए किसानों के दिन

बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर भी कृषि से जुड़े विधेयकों को लेकर केंद्र सरकार के समर्थन में आ गए हैं। अनुपम ने सोमवार को उनकी एक फिल्म का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि पहले फूड इंस्पेक्टर किसानों को शोषण करते थे। अब इन विधेयकों से किसानों को ही फायदा होगा जो उन्हें सालों से नहीं मिला था। अब किसानों के दिन बदल गए हैं।

Actor Anupam Kher supported the government on agricultural ordinances, said - the days of farmers have changed
Author
Mumbai, First Published Sep 21, 2020, 1:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. कृषि से जुड़े विधेयकों को लेकर अब बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर भी सरकार के समर्थन में आ गए हैं। अनुपम ने सोमवार को उनकी एक फिल्म का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि पहले फूड इंस्पेक्टर किसानों को शोषण करते थे। इन विधेयकों से किसानों को ही फायदा मिलेगा जो उन्हें सालों से नहीं मिला था। अब किसानों के दिन बदल गए हैं।

एक और जहां देश भर के किसान संगठन और विपक्षी दल इन विधेयकों का विरोध कर रहे हैं वहीं बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर ने इसपर सरकार का समर्थन करते हुए एक वीडियो ट्वीट किया। साल 1990 में राजेश सेठी के निर्देशन में बनी फिल्म 'जीने दो' के एक वीडियो को शेयर करते हुए अनुपम ने लिखा कि सालों से किसानों का अधिकारियों और व्यापारियों द्वारा शोषण किया जा रहा था लेकिन अब इन विधेयकों से किसानों के दिन बदल गए हैं और अब सिर्फ किसानों को ही इनसे फायदा होगा। बता दें कि अनुपम चंडीगढ़ से भाजपा सांसद किरण खेर के पति हैं।


राज्यसभा में ध्वनिमत से पास हुए थे अध्यादेश

दरअसल केंद्र सरकार ने कृषि से संबंधित विधेयकों को रविवार को संसद के उच्च सदन राज्यसभा में ध्वनि मत से पास कर दिया। इस दौरान संसद में काफी हंगामा हुआ और उपसभापति हरिवंश के साथ कुछ विपक्षी सांसदों ने अमर्यादित व्यावहार भी किया था। कांग्रेस समेत कुछ दलों ने तो उपसभापति पर कृषि विधेयकों को पारित करने के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव तक पेश कर दिया था। हालांकि प्रस्ताव को राज्यसभा सभापति एम. वेंकैया नायडू ने सोमवार को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि इसका प्रारूप अनुचित है। बता दें कि सरकार इन विधेयकों को लोकसभा से पहले ही पास कर चुकी है।

किसानों को मिली आजादी - प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने विधेयकों के संसद से पास होने पर कहा कि नए कृषि सुधारों ने देश के हर किसान को आजादी दी है कि वो किसी को भी, कहीं पर भी अपनी फसल और फल-सब्जियां बेच सकता है। अब यदि किसान को मंडी में ज्यादा लाभ मिलेगा, तो वहां अपनी फसल बेच सकेगा। मंडी के अलावा कहीं और से ज्यादा लाभ मिल रहा होगा, तो वहां बेचने पर भी किसान को कोई मनाही नहीं होगी।

 

अनुपम ने सोमवार को उनकी एक फिल्म का वीडियो शेयर किया

"

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios