Asianet News Hindi

अफगानी राजदूत ने भारत से रिश्तों पर शेयर की इमोशनल बात, पीएम मोदी ने कहा यह है रिश्तों की खुशबू की महक

डाॅक्टर्स डे पर अफगानिस्तान के भारत में राजदूत फरीद मामुन्दजई ने अपनी एक आपबीती शेयर की है। राजदूत और राजस्थान के हरीपुरा गांव के बलकार सिंह ढिल्लो के ट्वीट्स को पढ़ने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि मेरे भारत के एक डाॅक्टर के साथ आपने अपना अनुभव शेयर किया है, वो भारत-अफगानिस्तान के रिश्तों की खुशबू की एक महक है। 

Afganistan Ambassador to India shared emotional moment with Indian Doctor, PM Modi beautifully retweeted DHA
Author
New Delhi, First Published Jul 1, 2021, 5:46 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। भारत-अफगानिस्तान के रिश्ते हर दौर में भाईचारा वाले ही बने रहे हैं। अफगानिस्तान के भारत में राजदूत फरीद मामुन्दजई ने डाॅक्टर्स डे पर यहां के अपने अनुभव को साझा कर इन रिश्तों की खूबसूरती को बयां किया है। रिश्तों को मजबूती देने वाली इस जीवंत कहानी को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शेयर करते हुए अफगानिस्तान के राजदूत को गुजरात के हरिपुरा गांव के बारे में बताते हुए वहां जाने की सलाह दी है। उधर, पीएम मोदी के रिट्वीट पर राजदूत ने शायराना अंदाज में ट्वीट कर धन्यवाद दिया है।

 

दरअसल, डाॅक्टर्स डे पर अफगानिस्तान के भारत में राजदूत फरीद मामुन्दजई ने अपनी एक आपबीती शेयर की है। उन्होंने ट्वीट कर बताया कि कुछ दिनों पहले भारत के एक डाॅक्टर के पास वह इलाज के लिए गए। डाॅक्टर ने जब जाना कि वह भारत में अफगानिस्तान के राजदूत हैं तो डाॅक्टर ने कोई भी भुगतान लेने से मना कर दिया। फरीद ने लिखा कि जब मैंने कारण पूछा तो मैं अफगानिस्तान के लिए यह कर रहा क्योंकि एक भाई के लिए चार्ज नहीं किया जाता। अफगानी राजदूत ने लिखा कि मेरे पास आभार व्यक्त करने के लिए शब्द नहीं थे। यह भारत में ही संभव है जहां प्यार, सम्मान, मूल्य और करुणा है। उन्होंने भारतीयों के लिए लिखा है कि आपके कारण ही मेरे दोस्त, अफगान थोड़ा कम रोते हैं, थोड़ा औश्र मुस्कुराते हैं और बहुत अच्छा महसूस करते हैं। 

 

राजदूत ने बताया अफगानिस्तान राजस्थान का रिश्ता

अफगानी राजदूत के ट्वीट के बाद भारतीयों ने काफी बेहतरीन तरीके से कमेंट किए। एक यूजर बलकार सिंह ढिल्लो ने राजदूत को हरिपुरा गांव में आने का निमंत्रण दे दिया। इस पर उन्होंने रिप्लाई करते हुए पूछा कि गुजरात के सूरत का हरिपुरा गांव? तो यूजर ने बताया कि गुजरात का हरिपुरा गांव नहीं बल्कि राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले का हरिपुरा गांव। यह पंजाब से सटा हुआ गांव है। फिर राजदूत फरीद मामुन्दजई ने बताया कि अफगानिस्तान और राजस्थान के बीच एक लंबा इतिहास रहा है। आश्वस्त किया कि एक दिन वह राजस्थान जरूर जाएंगे और राजस्थान की पगड़ी अपने दोस्तों से जरूर चाहेंगे। इस पर यूजर ने बहुत ही खूबसूरत जवाब दिया। बलकार सिंह ने कहा कि आपको राजस्थानी पगड़ी के साथ पंजाबी पगड़ी और साफा भी भेंट करेंगे। 

 

दो देशों के संबंधों पर ट्वीट को पढ़ते ही पीएम मोदी ने भी किया रिट्वीट

राजदूत फरीद मामुन्दजई और राजस्थान के हरीपुरा गांव के बलकार सिंह ढिल्लो के ट्वीट्स को पढ़ने के बाद पीएम मोदी ने राजदूत के स्थान वाला कंफ्यूजन दूर करने के साथ दोनों जगह घूमकर आने का आमंत्रण दिया। पीएम ने कहा कि आप बलकार ढिल्लो के हरिपुरा भी जाइए और गुजरात के हरिपुरा भी जाइए। वह भी अपने आप में इतिहास समेटे हुए है। पीएम ने कहा कि मेरे भारत के एक डाॅक्टर के साथ आपने अपना अनुभव शेयर किया है, वो भारत-अफगानिस्तान के रिश्तों की खुशबू की एक महक है। 

यह भी पढ़ेंः 

केंद्र ने वैक्सीन फ्री दिया तो आई वैक्सीनेशन में तेजी, राज्य सरकारों के पास प्लानिंग की कमीः डाॅ.हर्षवर्धन

जम्मू-कश्मीर में बौखलाए आतंकवादी: लगातार तीसरे दिन फिर दिखे संदिग्ध ड्रोन, सेना हाई अलर्ट पर

शिवसेना बोली-बीजेपी के साथ गठबंधन संभव नहीं, पीएम मोदी से रिश्तों पर संजय राउत का बेबाक जवाब

ड्रोन की आसान उपलब्धता से खतरे की आशंका अधिक लेकिन भारतीय सेना निपटने में सक्षमः आर्मी चीफ

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios