Asianet News HindiAsianet News Hindi

HC ने क्रिश्चियन मिशेल की याचिका पर CBI से दो हफ्तों में जवाब मांगा

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर मामले में कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल जेम्स की जमानत याचिका पर केंद्रीय जांच ब्यूरो को अपना जवाब दाखिल करने के लिए दो और हफ्ते का समय दिया गया।
 

AgustaWestland case: HC gives two weeks time to CBI on Christian James' bail plea
Author
New Delhi, First Published Nov 13, 2019, 7:24 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. दिल्ली उच्च न्यायालय ने अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर मामले में बुधवार को कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल जेम्स की जमानत याचिका पर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को अपना जवाब दाखिल करने के लिए दो और हफ्ते का समय दिया। एजेंसी ने अदालत से कहा कि वह मामले में एक आरोप पत्र दाखिल करने वाली है ।

AgustaWestland case: HC gives two weeks time to CBI on Christian James' bail plea

 

सीबीआई आरोप पत्र दाखिल करेगी

न्यायमूर्ति अनु मल्होत्रा ने सीबीआई से सुनवाई की अगली तारीख 29 नवंबर तक अपना जवाब दाखिल करने को कहा। इससे पहले एजेंसी ने कहा कि वह भ्रष्टाचार मामले में एक आरोप पत्र दाखिल करने वाली है और इसमें लोकसेवकों और नौकरशाहों के नाम होंगे । सीबीआई ने मामले में अपने आरोपपत्र दाखिल किए जाने की तारीख के आसपास ही जवाब दाखिल करने की मोहलत मांगी ।

AgustaWestland case: HC gives two weeks time to CBI on Christian James' bail plea

 

राहत देने से इंकार

इसके बाद अदालत ने सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के मामलों में मिशेल की जमानत याचिकाओं को 29 नवंबर को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया। मिशेल इस साल पांच जनवरी से न्यायिक हिरासत में है। निचली अदालत दोनों मामले में उसे राहत देने से मना कर चुकी है। इसके बाद उसने निचली अदालत के फैसले के खिलाफ उच्च न्यायालय का रुख किया।

AgustaWestland case: HC gives two weeks time to CBI on Christian James' bail plea

 

मिशेल की दलील 

सीबीआई भ्रष्टाचार के जिस मामले में जांच कर रही है, उस मामले में नियमित जमानत के लिए मिशेल ने दलील दी है कि पूरा मामला उन सबूतों पर आधारित है जो पहले ही जांच एजेंसी जुटा चुकी है और विशेष अदालत के सामने भी इसे प्रस्तुत किया जा चुका है। जमानत याचिका में दलील दी गयी है कि प्राथमिकी में नामजद सारे आरोपी जमानत पर हैं और उसके द्वारा किसी भी लेन-देन के संबंध में किसी दूसरे लोकसेवक को गिरफ्तार नहीं किया गया ।

 

 

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios