Asianet News HindiAsianet News Hindi

अंकिता मर्डर केस : हत्या के 9 दिन बाद भी नहीं मिले इन 6 सवालों के जवाब

उत्तराखंड में 19 साल की अंकिता भंडारी की हत्या को 9 दिन बीत चुके हैं। अंकिता की हत्या में शामिल मास्टरमाइंड पुलकित आर्य समेत तीन आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं। हालांकि, बावजूद इसके इस केस से जुड़े अब भी ऐसे कई सवाल हैं, जिनका जवाब नहीं मिल पाया है।

Ankita Bhandari Murder case,  answers to these questions were not found even after 9 days of Murder kpg
Author
First Published Sep 27, 2022, 5:30 PM IST

Ankita Bhandari Murder: उत्तराखंड में 19 साल की अंकिता भंडारी की हत्या को 9 दिन बीत चुके हैं। अंकिता की हत्या में शामिल मास्टरमाइंड पुलकित आर्य समेत तीन आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं। हालांकि, बावजूद इसके इस केस से जुड़े अब भी ऐसे कई सवाल हैं, जिनका जवाब नहीं मिल पाया है। अंकिता की हत्या से जुड़े हर एक घटनाक्रम में भाजपा की महिला विधायक रेणु बिष्ट काफी एक्टिव थीं। इसके अलावा भी कई सवाल हैं, जो इस पूरे केस को संदिग्ध बनाते हैं। आइए जानते हैं ऐसे ही सवालों के बारे में।  

सवाल नंबर 1- कौन है वो VIP, जिसे खुश करने अंकिता पर बनाया गया दबाव?
अंकिता ने अपनी दोस्त को चैट में बताया था कि कोई VIP गेस्ट आने वाला है। रिसॉर्ट मालिक पुलकित आर्य उस पर दबाव बना रहा है कि प्रमोशन चाहिए तो गेस्ट को ‘एक्स्ट्रा सर्विस’ देनी होगी। इसके बदले 10 हजार रुपए मिलेंगे। हालांकि, अंकिता ने इससे साफ मना कर दिया था। पुलिस जांच में अब तक इस बात का पता नहीं चल पाया है कि आखिर वो VIP गेस्ट कौन था? अंकिता ने अपनी फ्रेंड को बताया था कि वो गेस्ट पहले भी कई बार रिसॉर्ट में आता था। 

सवाल नंबर 2- आखिर किसने दिया रिसॉर्ट को तोड़ने का आदेश?
अंकिता के पिता वीरेंद्र भंडारी के मुताबिक, प्रशासन ने ये सब जानबूझकर सबूत मिटाने के लिए किया है। वहीं, इस संबंध में DM विवेक जोगदंडे का कहना है कि रिसॉर्ट पर बुलडोजर चलाने का आदेश किसने दिया, हम इसकी जांच कर रहे हैं।

सवाल नंबर 3 - VIP के लिए बुक कमरे में सबसे पहले आग क्यों?
अंकिता की हत्या से नाराज लोग जब लोग रिसॉर्ट के बाहर प्रदर्शन कर रहे थे, तब भाजपा विधायक रेणु बिष्ट वहां मौजूद थीं। इसी बीच पता चला कि किसी ने रिसॉर्ट में आग लगा दी। आग सबसे पहले उस कमरे में लगाई गई, जो VIP गेस्ट के लिए बुक किया गया था। आखिर किसने आग लगाई, इसका पता अब तक नहीं चल पाया। 

सवाल नंबर 4- आखिर क्यों रिलीज नहीं की गई अंकिता की डिटेल PM रिपोर्ट?
अंकिता भंडारी के पिता ने कहा था कि जब तक मेरी बेटी के पोस्टमॉर्टम की डिटेल्ड रिपोर्ट नहीं मिल जाती, तब तक हम उसका अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। इस पर जिलाधिकारी ने कहा था कि हम पता कर रहे हैं कि डिटेल्ड पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आखिर क्यों रिलीज नहीं की गई। हालांकि, बाद में पुलिस-प्रशासन के समझाने के बाद अंकिता के घरवाले अंतिम संस्कार के लिए मान गए थे। 

सवाल नंबर 5 - जिस मोर्चुरी में अंकिता का शव था, वहां विधायक रेणु विष्ट क्या कर रही थीं?
अंकिता भंडारी की हत्या के बाद जिस मोर्चुरी में उसका शव रखा गया था, वहां भाजपा विधायक रेणु बिष्ट पहले ही पहुंच गई थीं। शव 24 सितंबर को बरामद हुआ था, जिसे ऋषिकेश AIIMS की मॉर्चुरी में रखवाया गया था। सूचना मिलने के बाद जब अंकिता के घरवाले वहां पहुंचे तो विधायक रेणु बिष्ट पहले से मौजूद थीं। बाद में लोगों के विरोध के बाद उनकी कार में तोड़फोड़ भी हुई थी।  

सवाल नंबर 6- पुलकित के रिसॉर्ट को आखिर कैसे मिला लाइसेंस? 
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अंकिता मर्डर केस की जांच के लिए SIT बनाई थी। इसकी इंचार्ज DIG पी रेणुका देवी के मुताबिक, आरोपी पुलकित आर्य के रिसॉर्ट में काम करने वाले सभी लोगों से कड़ी पूछताछ की जा रही है। हम इस बात की भी जांच कर रहे हैं कि पुलकित के रिसॉर्ट को लाइसेंस कैसे मिला? 

ये भी देखें : 

Ankita Murder Case: अपनी ही गढ़ी झूठी कहानी में फंस गए अंकिता के कातिल, ऐसे हुआ तीनों का पर्दाफाश

Ankita Bhandari Murder: अंकिता के पिता को मारने खड़ा हो गया था पुलकित, अब बेटी के हत्यारों के लिए मांगी फांसी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios