Asianet News HindiAsianet News Hindi

अंकिता भंडारी की हत्या से दुखी लोगों के जख्मों पर नेता का आपत्तिजनक कमेंट, पीछे पड़ी पुलिस

अंकिता भंडारी की हत्या (Ankita Bhandari Murder Case) को लेकर एक स्थानीय नेता विपिन कर्णवाल ने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है। पुलिस ने कर्णवाल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Ankita Bhandari Murder Case RSS leader made objectionable remarks on social media vva
Author
First Published Sep 29, 2022, 11:18 AM IST

देहरादून। उत्तराखंड के ऋषिकेश के वनतारा रिसॉर्ट में काम करने वाली अंकिता भंडारी की हत्या (Ankita Bhandari Murder Case) से दुखी परिजनों और राज्य के लोगों के जख्मों पर एक स्थानीय नेता ने आपत्तिजनक कमेंट कर नमक डाला है। 

इसका नाम विपिन कर्णवाल है। उसने सोशल मीडिया पर अंकिता हत्याकांड को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट किया। इस पोस्ट को लेकर लोग आक्रोशित हो गए। मामले ने तूल पकड़ा तो पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। पुलिस विपिन की तलाश कर रही है। वह गिरफ्तारी से बचने के लिए भागा फिर रहा है। 

इस संबंध में ऋषिकेश सीओ डीसी ढौंडियाल ने बताया कि विपिन कर्णवाल के खिलाफ देहरादून के रायवाला थाना पुलिस ने केस दर्ज किया है। उसपर समाज में तनाव फैलाने और महिला का अपमान करने संबंधी धाराएं लगाई गईं हैं। विपिन की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।

उलझती जा रही रिसॉर्ट पर बुलडोजर चलाने की गुत्थी
अंकिता हत्याकांड में रिसॉर्ट पर आनन-फानन में कार्रवाई करते हुए बुलडोजर चलाया गया था। परिजनों ने आरोप लगाया था कि सबूत मिटाने के लिए रिसॉर्ट को तोड़ा गया। इस मामले में गुत्थी उलझती जा रही है और संदेह पैदा हो रहा है। पौड़ी के एसएसपी ने कहा कि यह उनके क्षेत्राधिकार में नहीं है। उन्हें बुलडोजर के बारे में जानकारी नहीं है। PWD के असिस्टेंट इंजीनियर अनुज कुमार ने बताया कि बुलडोजर को लेकर लिखित या मौखिक आदेश नहीं आया था। वहीं, स्थानीय विधायक द्वारा बुलडोजर चलवाने के लिए दबाव डालने की बात भी सामने आ रही है। 

चीला नहर से मिला था शव
गौरतलब है कि अंकिता भंडारी पौड़ी जिले के यमकेश्वर में स्थित वनतारा रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के रूप में काम करती थी। यह रिसॉर्ट भाजपा नेता रहे विनोद आर्या के बेटे पुलकित आर्या का है। 18 सितंबर की रात से अंकिता गायब थी। उसका शव 24 सितंबर को चीला नहर से बरामद किया गया था। इस केस में पुलकित आर्य के साथ ही रिसॉर्ट के मैनेजर सौरभ भास्कर और असिस्टेंट मैनेजर अंकित गुप्ता आरोपी है। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। आरोप है कि पुलकित ने अंकिता पर रिसॉर्ट आने वाले वीआईपी गेस्ट को स्पेशल सर्विस देने के लिए दबाव डाला था। इससे इनकार करने पर अंकिता के साथ मारपीट की गई और उसे नहर में फेंक दिया गया।

यह भी पढ़ें- अंकिता मर्डर केस : वनंतरा रिसॉर्ट में होने वाली पार्टियों में परोसा जाता था हिरण का मांस, मिला एक बड़ा पिंजरा!

पूछताछ में पता चला कि अंकिता 17 सितंबर की रात करीब 8 बजे पुलकित आर्य, उसके रिसॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर और अंकित के साथ ऋषिकेश गई थी। लौटते वक्त तीनों आरोपियों ने चीला रोड के किनारे शराब पी। इस दौरान अंकिता ने रिसॉर्ट में अनैतिक गतिविधियों का विरोध किया। इसी बात से नाराज पुलकित और उसके साथियों ने अंकिता को नहर में धकेल दिया।

यह भी पढ़ें- पत्नी ने कुल्हाड़ी से काटकर पति को उतारा मौत के घाट, प्राइवेट पार्ट के किए टुकड़े, इस ताने के चलते थी नाराज

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios