Asianet News Hindi

योगी सरकार के 'मिशन शक्ति' में शामिल होंगी यूपी की अपर्णा, 1 लाख बेटियों को दे चुकीं हैं आत्मरक्षा की ट्रेनिंग

बालिकाओं को आत्मरक्षा के गुर सिखाने वाली अपर्णा रजावत अब योगी सरकार के 'मिशन शक्ति और ऑपरेशन' में शामिल होने जा रही हैं। योगी आदित्यनाथ के मिशन शक्ति के तहत शहर से गांव तक बेटियों को शिक्षा, सेहत, सुरक्षा और अधिकार से जुड़े मामलों पर जागरूक किया जाएगा। अबतक अपर्णा 1.48 लाख बेटियों को सेल्‍फ डिफेंस प्रशिक्षण दे चुकी हैं।

Aparna will join Yogi government's 'Mission Shakti', has given self-defense training to 1 lakh daughters of UP so far
Author
Lucknow, First Published Oct 16, 2020, 9:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. एनजीओ पिंक बेल्ट मिशन के माध्यम से बालिकाओं को आत्मरक्षा के गुर सिखाने वाली अपर्णा रजावत अब योगी सरकार के 'मिशन शक्ति और ऑपरेशन' में शामिल होने जा रही हैं। इसकी जानकारी खुद अर्पणा ने दी है। उन्‍होंने बताया कि प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ  की इस मुहिम को आगे बढ़ाते हुए पिंक बेल्‍ट की टीम आगरा में सेल्‍फ डिफेंस ट्रेनिंग देंगी। पिंक बेल्‍ट से जुड़ी बालिकाओं को ट्रेनिंग देकर उनको मास्‍टर ट्रेनर बनाया जाएगा जिससे भविष्‍य में वो बेटियां तमाम अन्‍य बेटियों को महिला सशक्तिकरण का पाठ पढ़ा सकेंगी।

शहरों से लेकर गांव तक मिशन शक्ति को देंगे बढ़ावा

उन्होंने बताया कि योगी आदित्यनाथ के मिशन शक्ति के तहत शहर से गांव तक बेटियों को शिक्षा, सेहत, सुरक्षा और अधिकार से जुड़े मामलों पर जागरूक करेंगे जिससे मिशन शक्ति को शहरों से लेकर गांवों तक बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि सीएम योगी के मिशन और ऑपरेशन शक्ति मुहिम से यूपी की धरा शक्ति को मजबूती मिलेगी। 

1.48 लाख बेटियों को दे चुकी हैं सेल्‍फ डिफेंस प्रशिक्षण

आगरा की रहने वाली पिंक बेल्‍ट मिशन की फाउंडर अंतरराष्‍ट्रीय मार्शल आर्ट चैपिंयन अपर्णा राजवत ने साल 2018 को आगरा से मुहिम को शुरूवात की। यूपी के मथुरा, फिरोजाबाद, बरेली, गोरखपुर, बस्‍ती, वाराणसी, मऊ,  आगरा, नोएडा, मैनपुरी, अलीगढ़, कुशीनगर, मेरठ समेत लखनऊ में आत्मनिर्भर पंखों से महिलाओं और बेटियों में ऊर्जा का संचार कर रही हैं। उन्होंने अभी तक यूपी पुलिस और वुमेन पावर हेल्पलाइन 1090 के साथ काम करके यूपी में 1.48 लाख बेटियों को सेल्फे डिफेंस का प्रशिक्षण है। उ

कौन हैं अर्पणा?

अपर्णा जूडो-कराटे की अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी रही हैं। उन्होंने कईं राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पदक जीते हैं लेकिन एक सड़क हादसे के बाद उन्हें यह खेल छोड़ना पड़ा। साल 2015 में दिल्ली में हुए निर्भया कांड के बाद उन्होंने पिंक बेल्ट मिशन की शुरुआत की। इसका मकसद है बालिकाओं को शारीरिक और मानसिक रूप से आत्मरक्षा के लिए तैयार करना।

क्या है 'मिशन शक्ति और ऑपरेशन'?

दरअसल, महिलाओं को जागरूक और उनकी आवाज और हौसलों को बुलंद करने के लिए योगी सरकार ने हाल ही में “मिशन और ऑपरेशन शक्ति” अभियान शुरू किया है। यह अभियान शारदीय नवरात्र से बासंतिक नवरात्र के राम नवमी त्योंहार तक चलेगा। इस विशेष अभियान से राज्य की कईं संस्‍थाओं और महिला संगठनों में खुशी की लहर है।

विदेशों में भी काउंसलिंग कर चुकी हैं अपर्णा

पिंक बेल्ट मिशन के तहत अपर्णा राज्य की बेटियों को मानसिक, शारीरिक, भावनात्मक, कानूनी और डिजिटल सेफ्टी के बारे में जागरूक कर रही हैं। उन्होंने लंदन तक यूपी का परचम लहराया है। उन्होंने बताया कि वे टूर डायरेक्टर के तौर पर विदेशों में महिला सशक्तिकरण, लिंग भेद और मानसिक तौर पर तनावग्रस्त महिलाओं की काउंसलिंग कर चुकी हैं। महिलाओं से जुड़े मुद्दों पर उन्होंने बतौर गेस्ट स्पीकर लॉस एंजेल्स , शिकागो, रोम में महिलाओं को सशक्तिकरण से जुड़े मामलों पर संबोधित किया है।


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios