Asianet News HindiAsianet News Hindi

सोशल मीडिया पर Taliban के सपोर्ट में पोस्ट करना पड़ा भारी; असम पुलिस ने 14 को किया अरेस्ट

डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल (DIG) वॉयलेट बरुआ ने बताया कि सोशल मीडिया पर तालिबान के समर्थन में कमेंट करने वालों पर असम पुलिस कार्रवाई कर रही है।

Assam Police arrested 14 people who supported Taliban in social media
Author
Guwahati, First Published Aug 21, 2021, 3:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गुवाहाटी. तलिबान (Taliban)  ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया है। भारत में कुछ लोग तलिबान का समर्थन कर रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। असम पुलिस ने सोशल मीडिया पर तालिबान के सपोर्ट में पोस्ट लिखने वाले 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। ये गिरफ्तारियां राज्य के अलग-अलग इलाकों से हुई हैं। पुलिस के अनुसार, तलिबान का सपोर्ट करने वालों के खिलाफ IT एक्ट के अलावा CrPC के तहत केस दर्ज किया गया है।

इसे भी पढे़ं- 8 तस्वीरें बताती हैं इंसान नहीं राक्षस हैं तालिबानीः किसी की नाक काटी-किसी की आंख निकाल ली

कहां-कहां से हुई गिरफ्तारियां
असम पुलिस ने बयान जारी कर बताया कि कामरूप, बारपेटा, धुबरी, करीमगंज से 2-2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा दरांग, कछार, हैलाकांडी, सलमारा दक्षिण, गोलपारा और होजाई जिले से 1-1 व्यक्ति की गिरफ्तारी हुई है। डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल (DIG) वॉयलेट बरुआ ने बताया कि सोशल मीडिया पर तालिबान के समर्थन में कमेंट करने वालों पर असम पुलिस कार्रवाई कर रही है। इसे राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा मानते हुए कमेंट करने वालों के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज किया जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम ऐसे लोगों के सोशल मीडिया में लगातार नजर रख रहे हैं।

इसे भी पढे़ं- मैं शायर बदनाम: Taliban की 'वाहवाही' पर राणा की फजीहत, FIR दर्ज; twitter पर कमेंट्स-मेरे हिस्से तालिबान आया
 

सपा सांसद ने भी किया था समर्थन
इससे पहले यूपी के संभल से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क (Shafiqur Rahman Barq) ने का तालिबान के समर्थन में बयान दिया था। सपा सांसद ने तालिबानियों की तुलना भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों से करके सनसनी फैला दी थी। जिसके बाद पुलिस ने सांसद के खिलाफ धारा 124ए (देशद्रोह), 153ए, 295 आईपीसी के तहत प्राथमिकी दर्ज किया था।

इसे भी पढे़ं- Taliban की वापसी पर खुशी जताने वाले सपा MP पर देशद्रोह का केस, अब मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने छेड़ा विवाद

शायर  मुनव्वर राणा  ने कहा था बदल गया है तलिबान
देश के मशहूर शायर मुनव्वर राणा  राणा ने भी तलिबान के समर्थन में बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि तालिबानी पहले से बदल चुके हैं। अब पहले जैसा माहौल नहीं है। तालिबानी बुरे लोग नहीं हैं। हालात ने उन्हें ऐसा बनाया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios