बेंगलुरू में बेलगाम ट्रैफिक जाम की समस्या से निजात के लिए एक और पहल, स्कूल बसों के लिए टाइमिंग फिक्स

| Dec 03 2022, 05:56 PM IST

बेंगलुरू में बेलगाम ट्रैफिक जाम की समस्या से निजात के लिए एक और पहल, स्कूल बसों के लिए टाइमिंग फिक्स

सार

ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि बेंगलुरू की यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए स्कूल मैनेजमेंट्स से स्कूलों को जल्द से शुरू करने का निर्देश दिया गया है। साथ ही यह भी कहा गया है कि अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल या पार्क में छोड़ने के बाद गाड़ियों को सड़क के आसपास न पार्क करें।

Bengaluru Traffic: बेंगलुरू में बेलगाम होती ट्रैफिक जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए नए-नए उपाय किए जा रहे हैं। शहर की यातायात को सही करने के लिए अब सुबह साढे़ आठ बजे तक ही स्कूलों की बसों को चलाया जाएगा। इसके बाद अगर स्कूल बसें सड़कों पर दिखेंगी तो उन पर जुर्माना लगाया जाएगा। नवनियुक्त ट्रैफिक कमिश्नर आईपीएस एम ए सलीम ने आदेश दिया है कि सुबह 8.15 बजे के बाद छात्रों को स्कूल छोड़ने और स्कूलों के पास पार्क करने वाली स्कूल बसों पर जुर्माना लगाया जाए।

यातायात सुधारने के लिए स्कूलों को पहले खोलने का आदेश

Subscribe to get breaking news alerts

ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि बेंगलुरू की यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए स्कूल मैनेजमेंट्स से स्कूलों को जल्द से शुरू करने का निर्देश दिया गया है। साथ ही यह भी कहा गया है कि अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल या पार्क में छोड़ने के बाद गाड़ियों को सड़क के आसपास न पार्क करें। पहले यह देखा गया कि स्कूल बसें अपने संबंधित स्कूलों के बाहर पूरे दिन तब तक खड़ी रहती हैं जब तक कि छात्रों को घर छोड़ने का समय नहीं हो जाता है और इस तरह सड़क का एक हिस्सा जाम रहता है। इससे यात्रियों को बड़ी परेशानी होती थी। रेजीडेंसी रोड, रिचमंड रोड फ्लाईओवर से ब्रिगेड रोड, एचएसआर लेआउट आदि क्षेत्रों में इन समस्याओं से लोग रूबरू होते रहे हैं।

ट्रेवेल टाइम में आई है कमी

टेक सिटी बेंगलुरू में पिछले दस दिनों में सुबह के पीक आवर्स के दौरान जाम से 50 प्रतिशत निजात मिली है। यानी बेंगलुरू में जाम में फंसने की वजह से लोगों का जो समय बर्बाद होता था उसमें आधी कमी हुई है। जिसकी वजह से ट्रेवेल टाइम में पचास प्रतिशत की कमी आई है। बेंगलुरू ट्रैफिक पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 10 दिनों में सुबह के पीक आवर्स के दौरान शहर के नौ प्रमुख ट्रैफिक कॉरिडोर में यात्रा का समय लगभग 50 प्रतिशत कम हो गया है। पढ़े इस खबर को पूरी...

यह भी पढ़ें:

कांग्रेस छोड़ने वाले दिग्गजों को बीजेपी ने दी बड़ी जिम्मेदारी, देखिए किसको मिला कौन सा पद

सुनंदा पुष्कर केस: शशि थरूर को बरी किए जाने के 15 महीने बाद HC पहुंची पुलिस, कहा-देरी के लिए माफी योर ऑनर

Digi Yatra App: इन 3 एयरपोर्ट पर अब नहीं दिखाना होगा डॉक्यूमेंट, चेहरे से स्कैन हो जाएगी पूरी कुंडली