भारत जोड़ो यात्रा लेकर राहुल पहुंचे राजस्थान: अशोक गहलोत और सचिन पायलट का हाथ पकड़ मंच पर खूब किया डांस

| Dec 05 2022, 12:24 AM IST

भारत जोड़ो यात्रा लेकर राहुल पहुंचे राजस्थान: अशोक गहलोत और सचिन पायलट का हाथ पकड़ मंच पर खूब किया डांस

सार

राजस्थान के झालावाड़ शहर से करीब 40 किलोमीटर दूर चांवली में भारत जोड़ो यात्रा के भव्य स्वागत के बाद राहुल गांधी ने लोगों को संबोधित भी किया। मंच से उन्होंने कहा कि न तो वह बीजेपी से नफरत करते हैं न ही आरएसएस से।

Bharat Jodo Yatra in Rajasthan: राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा रविवार को राजस्थान में प्रवेश की है। मध्य प्रदेश के बाद राजस्थान पहुंची यात्रा का चांवली चौराहा पर पारंपरिक राजस्थानी शैली में स्वागत किया गया। यहां सीएम अशोक गहलोत, पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट, प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा मौजूद रहे। स्वागत के दौरान पारंपरिक नृत्य प्रस्तुत कर रहे कलाकारों के साथ राहुल गांधी ने डांस किया। राहुल ने गहलोत, पायलट और डोटासरा का हाथ पकड़कर नृत्य किया।

राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा की पहली सभा

Subscribe to get breaking news alerts

राजस्थान के झालावाड़ शहर से करीब 40 किलोमीटर दूर चांवली में भारत जोड़ो यात्रा के भव्य स्वागत के बाद राहुल गांधी ने लोगों को संबोधित भी किया। मंच से उन्होंने कहा कि न तो वह बीजेपी से नफरत करते हैं न ही आरएसएस से। लेकिन वह किसी भी सूरत में बीजेपी या आरएसएस को देश में नफरत भी फैलाने नहीं देंगे। बीजेपी नफरत और डर की राजनीति कर रही है। वह लोगों के मन-मस्तिष्क में बैठे डर को निकालने के लिए निकले हैं। उन्होंने कहा कि इस यात्रा से उनको काफी कुछ सीखने को मिला है। हवाई जहाज या हेलीकॉप्टर या किसी दूसरी लग्जरी गाड़ियों में यात्रा करके वह नहीं सीख या समझ पाएंगे जितना पैदल चलकर सीखने को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि देश की पूंजी इस सरकार ने तीन-चार उद्योगपतियों के हवाले कर दिया है। किसान बर्बाद है। युवाओं में बेरोजगारी है, व्यापारी का व्यवसाय ठप हो गया है। 

कांग्रेस का हर कार्यकर्ता अब सुबह से शाम तक होगा सड़क पर

राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के राजस्थान में प्रवेश करने के बाद कहा कि कांग्रेस लोगों के हित में काम करती है। डर या नफरत से राजनीति नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वह लोगों के दिलों में बैठे डर और नफरत को दूर करने आए हैं। राजस्थान में हर कांग्रेस कार्यकर्ता सुबह 6 बजे के बजाय सुबह 5 बजे सड़कों पर दिखाई देगा। यह महात्मा गांधी की पार्टी है न कि सावरकर और नाथूराम गोडसे की। हम तपस्या करना जानते हैं। राहुल ने कहा कि इस यात्रा का हर जगह जोरदार स्नेह, प्रेम और समर्थन मिल रहा है। राजस्थान की जनता भी उम्मीद है ऐसा ही करेगी। 

12 दिन मध्य प्रदेश में रही यात्रा अब करीब 17 दिनों तक राजस्थान में

भारत जोड़ो यात्रा पिछले 12 दिनों से मध्य प्रदेश में थी। रविवार को आगर मालवा क्षेत्र से होकर राजस्थान में प्रवेश किया। रविवार की शाम को यात्रा ने चंवाली नदी पर बने पुल को पार करते हुए राजस्थान में प्रवेश किया। मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ समेत तमाम दिग्गज नेता उनके साथ इस दौरान रहे। यहां चंवली में उनका मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सचिन पायलट, गोविंद सिंह डोटासरा सहित राज्य के तमाम दिग्गज कांग्रेसियों ने स्वागत किया।

राजस्थान से हरियाणा में प्रवेश करेगी यात्रा

बीते 8 सितंबर को भारत जोड़ो यात्रा का शुभारंभ कन्याकुमारी से किया गया था। करीब 3570 किलोमीटर की यह यात्रा देश के एक दर्जन से अधिक राज्यों को कवर करेगी। मध्य प्रदेश से राजस्थान में प्रवेश करने वाली यह यात्रा यहां 17 दिनों के बाद हरियाणा में प्रवेश करेगी। राजस्थान में यह यात्रा झालावाड़, कोटा, बूंदी, सवाई माधोपुर, दौसा व अलवर जिले से गुजरते हुए हरियाणा में 21 दिसंबर को प्रवेश करेगी। राजस्थान में सोमवार को यह यात्रा सुबह छह बजे काली तलाई से बाली बोरदा चौराहा पहुंचेगी। सुबह दस बजे पहुंचने के बाद यहीं दोपहर का भोजन होगा। इसके बाद फिर साढ़े तीन बजे से नाहरडी से यात्रा शुरू होकर चंद्रभागा चौराहा पहुंचेगी। यहां राहुल गांधी एक नुक्कड़ सभा करेंगे। झालावाड़ में यात्रा एक स्पोर्ट्स कैंपस में रात्रि विश्राम करेगी। राजस्थान में 15 दिसंबर को दौसा के लालसोट में किसानों के साथ राहुल गांधी का संवाद है तो 19 दिसंबर को अलवर के मालाखेड़ा में जनसभा को संबोधित करेंगे।

यह भी पढ़ें:

भारत-नेपाल बार्डर पर पथराव के बाद तनाव, काली नदी पर तटबंध निर्माण कर रहे मजदूरों पर की गई पत्थरबाजी

बिना हिजाब वाली महिला को बैंकिंग सर्विस देने पर बैंक मैनेजर की नौकरी गई, गवर्नर के आदेश के बाद हुआ बर्खास्त

महिलाओं के कपड़ों पर निगाह रखती थी ईरान की मॉरल पुलिस, टाइट या छोटे कपड़े पहनने, सिर न ढकने पर ढाती थी जुल्म

अब गाड़ी Park करने और पेमेंट से मुक्ति, देश के दो राज्यों में ऐप से पार्किंग प्लेस खोजने से लेकर भुगतान तक

 

Related Stories