Asianet News Hindi

मध्य प्रदेश में बड़ा हादसाः गंजबासौदा में 15 से अधिक लोग कुएं में गिरे, रेस्क्यू की निगरानी कर रहे सीएम शिवराज

राज्य की राजधानी से एनडीआरएफ टीम व अन्य बचाव टीम को भेज दिया गया है। सीएम शिवराज सिंह चौहान खुद इसकी मानिटरिंग कर रहे हैं। राज्य सरकार के एक मंत्री को भी मौके पर रवाना कर दिया गया है। 

Big Accident in Madhya pradesh Vidisha district, more than dozen people fall in a well in Ganjbasoda DHA
Author
Vidisha, First Published Jul 15, 2021, 11:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

विदिशा। मध्य प्रदेश के विदिशा (Vidisha) में गुरुवार को एक बड़ा हादसा हो गया। एक कुएं की छत धंसने से 15 से अधिक लोग गिर गए। गंजबसौदा (Ganjbasoda) में यह हादसा एक बच्चे को बचाने के दौरान हुआ. खबर लिखे जाने तक बचाव कार्य जारी था.

राज्य की राजधानी से एनडीआरएफ टीम (NDRF) व अन्य बचाव टीम को भेज दिया गया है। सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) खुद इसकी मानिटरिंग कर रहे हैं। मुख्यमंत्री भी आज विदिशा में ही थे. राज्य सरकार के एक मंत्री को भी मौके पर रवाना कर दिया गया है। 

"

बताया जा रहा है कि विदिशा जिले के गंजबसौदा के ग्राम पंचायत मांगोर के लाल पठार गांव में गुरूवार की रात में एक बच्चा कुएं में गिर गया.बच्चे को बचाने के लिए गांव के लोग एकत्र हो गए. बहुत सारे लोग घटना की खबर पाकर वहां पहुंच गए.

कुएं की छत पर अधिक भार पड़ने से उसकी छत भरभराकर गिर गई. इस हादसे में 15 से अधिक लोग कुएं में गिर गए. हर ओर कोहराम मच गया. लोग चीख पुकार करने लगे. बचाने के लिए लोग मेहनत करने लगे.

जिला प्रशासन को सूचना मिलते ही कलक्टर और एसपी भी मौके पर पहुंच गए. 

"

हादसे के समय सीएम शिवराज सिंह चौहान भी विदिशा में ही थे. वह अपनी गोद ली बेटियों का कन्यादान करने यहां पहुंचे थे. हादसे की जानकारी मिलते ही सीएम शिवराज सिंह चौहान ने तत्काल भोपाल से बचाव दल रवाना करने का आदेश दिया. उन्होंने जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग को भी रवाना किया.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि वह स्वयं मॉनिटरिंग कर रहे हैं. बचाव दल भेजा गया है. प्रभारी मंत्री भी मौके पर पहुंच रहे हैं.

यह भी पढ़ें: 

Road to Tokyo 2020 ओलंपिक क्विज़ में हिस्सा लें और हर दिन भारतीय टीम की जर्सी जीतने का मौका पाएं

जमानत के बाद दोषियों को रिहा करने में की जा रही देरी, सुप्रीम कोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान, कल होगी सुनवाई

NHRC रिपोर्ट में बंगाल का सचः 29 मर्डर, 12 रेप, 940 आगजनी, कोई अस्मत बचाने चीखता रहा-कोई आशियाना

राजद्रोह पर SC की तल्ख टिप्पणी- अंग्रेजों ने महात्मा गांधी को चुप कराने इसका इस्तेमाल किया था

NHRC की रिपोर्ट: बंगाल में 'कानून का राज' नहीं 'शासक का कानून' चल रहा, चुनाव बाद हिंसा की जांच CBI करे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios