Asianet News HindiAsianet News Hindi

दुनिया के तीसरे बड़े अमीर से एक बड़ा प्रॉमिस लेकर गई हैं बांग्लादेश की PM शेख हसीना, विजिट के 10 बड़े फैक्ट्स

बांग्लादेश की प्रधान मंत्री शेख हसीना भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर 5-8 सितंबर 2022 तक भारत की राजकीय यात्रा पर रहीं। यात्रा के आखिरी दिन शेख हसीना राजस्थान के अजमेर में ख्वाजा गरीब नवाज दरगाह शरीफ पहुंचीं।  इससे पहले वे गौतम अडानी सहित कई लोगों से मिलीं।

Big facts related to Bangladesh Prime Minister Sheikh Hasina visit to India kpa
Author
First Published Sep 8, 2022, 12:29 PM IST

नई दिल्ली. बांग्लादेश जनवादी गणराज्य की सरकार(People’s Republic of Bangladesh) की प्रधान मंत्री शेख हसीना(Prime Minister Sheikh Hasina) भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर 5-8 सितंबर 2022 तक भारत की राजकीय यात्रा(State Visit to India) पर रहीं। यात्रा के आखिरी दिन शेख हसीना राजस्थान के अजमेर में ख्वाजा गरीब नवाज दरगाह शरीफ पहुंचीं। प्रधान मंत्री के प्रेस सचिव एहसानुल करीम ने बताया कि हसीना ने देश, उसके लोगों और पूरे मुस्लिम समुदाय के विकास, समृद्धि और कल्याण के लिए नमाज पढ़ी। 

जानिए पूरी यात्रा में क्या हुआ...
1.
यात्रा के दौरान शेख हसीना ने मोदी के अलावा, भारत की राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू के अलावा तमाम नेताओं से मुलाकात की। लेकिन वे दुनिया के तीसरे नंबर अमीर गौतम अडानी से मिलना नहीं भूलीं। गौतम अडानी ने पिछले दिनों ये फोटो tweet करते हुए लिखा था-"दिल्ली में बांग्लादेश की माननीय प्रधानमंत्री शेख हसीना से मिलना सम्मान की बात है। बांग्लादेश के लिए उनका दृष्टिकोण प्रेरणादायक और आश्चर्यजनक रूप से साहसिक है। हम अपनी 1600 मेगावाट की गोड्डा पावर प्रोजेक्ट और बांग्लादेश को समर्पित ट्रांसमिशन लाइन 16 दिसंबर, 2022 बिजॉय दिबोश(Victory Day ) को चालू करने के लिए कमिटेड हैं।"

फोर्ब्स के रियल टाइम (Forbes Real Time) बिलेनियर्स इंडेक्स के मुताबिक, अडानी समूह (Adani Group) के चेयरमैन गौतम अडानी की कुल नेटवर्थ (Gautam Adani Networth) बढ़कर 149.3 अरब डॉलर हो गई है। इसके साथ ही वो इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर हैं। गौतम अडानी से आगे सिर्फ दो लोग हैं, जिनमें दूसरे नंबर पर फ्रांस के अरबपति बर्नार्ड अर्नाल्ट (154.1 अरब डॉलर) और पहले नंबर पर टेस्ला के सीईओ एलन मस्क (253.4 अरब डॉलर) हैं।

2. शेख हसीना भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, भारत के उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़,विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर और पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास मंत्री जी किशन रेड्डी से मिलीं। शेख हसीना के कार्यक्रम में 1971 में बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम के दौरान शहीद और गंभीर रूप से घायल भारतीय सशस्त्र बलों के जवानों के 200 वंशजों के लिए बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान स्टूडेंट स्कॉलरशिप का शुभारंभ भी शामिल रहा। उन्होंने 7 सितंबर को इंडियन और बांग्लादेश की बिजनेस कम्युनिटीज द्वारा ज्वाइंटली आयोजित एक बिजनेस ईवेंट को भी संबोधित किया। 

3. इससे पहले 6 सितंबर को शेख हसीना और मोदी ने एक स्पेशल मीटिंग में विभिन्न गंभीर मुद्दो पर एक-दूसरे से बात की। इसके बाद प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता हुई। इन बैठकों में बहुत गर्मजोशी और सौहार्द्र का माहौल रहा। 

4. दोनों नेताओं ने बांग्लादेश की स्वतंत्रता की स्वर्ण जयंती, राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की जन्म शताब्दी और राजनयिक संबंधों की स्थापना के 50 साल के समारोह में शामिल होने के लिए मार्च 2021 में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की राजकीय यात्रा को याद किया। 

5. दोनों प्रधानमंत्रियों ने राजनीतिक और सुरक्षा सहयोग, रक्षा, सीमा प्रबंधन, व्यापार और संपर्क, जल संसाधन, बिजली और ऊर्जा, विकास सहयोग, सांस्कृतिक और लोगों से लोगों के बीच संबंधों सहित द्विपक्षीय सहयोग के सभी पहलुओं पर चर्चा की। वे पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन, साइबर सुरक्षा, आईसीटी, अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, हरित ऊर्जा और ब्लू इकोनॉमी(समुद्री बिजनेस-जैसे मछली आदि) जैसे सहयोग के नए क्षेत्रों में सहयोग करने पर भी सहमत हुए।

6. दोनों प्रधानमंत्रियों ने संतोष जाहिर किया कि बॉर्डर पर घटनाओं के कारण होने वाली मौतों की संख्या में काफी कमी आई है। दोनों पक्षों ने इस संख्या को शून्य पर लाने की दिशा में काम करने पर सहमति व्यक्त की। दोनों पक्षों ने हथियारों, नशीले पदार्थों और नकली नोटों की तस्करी के खिलाफ और विशेष रूप से महिलाओं और बच्चों की तस्करी को रोकने के लिए दोनों सीमा सुरक्षा बलों द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की। दोनों नेताओं ने आतंकवाद के सभी रूपों और अभिव्यक्तियों को खत्म करने के लिए अपनी मजबूत प्रतिबद्धता दोहराई और इस क्षेत्र और उससे आगे आतंकवाद, हिंसक उग्रवाद और कट्टरपंथ के प्रसार को रोकने और रोकने के लिए अपने सहयोग को और मजबूत करने का निर्णय लिया।

7. भारतीय पक्ष ने त्रिपुरा राज्य की तत्काल सिंचाई आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए फेनी नदी पर अंतरिम जल बंटवारा समझौते पर शीघ्र हस्ताक्षर करने का अनुरोध किया। 

8. उप-क्षेत्रीय सहयोग बढ़ाने की भावना में दोनों नेताओं ने कटिहार (बिहार) से बोरनगर (असम) तक प्रस्तावित उच्च क्षमता वाली 765 केवी ट्रांसमिशन लाइन सहित दोनों देशों के पावर ग्रिड को समकालिक रूप से जोड़ने के लिए परियोजनाओं को तेजी से लागू करने पर सहमति व्यक्त की।

9. बांग्लादेश पक्ष ने भारत के माध्यम से नेपाल और भूटान से बिजली के आयात का अनुरोध किया। भारतीय पक्ष ने बताया कि इसके लिए दिशा-निर्देश भारत में पहले से ही मौजूद हैं।

10. शेख हसीना ने नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी से भी मुलाकात की थी। यह मुलाकात नई दिल्ली में होटल आईटीसी मौर्य में हुई थी।
Big facts related to Bangladesh Prime Minister Sheikh Hasina visit to India kpa

यह भी पढ़ें
Central Vista Avenue: ये हैं कर्तव्यपथ की वो 10 खास बातें, जिनसे आपका दिल जीत लेगी दिलवालों की ये दिल्ली
जय हिंद: 28 फीट ऊंची-6 फीट चौड़ी बोस की ग्रेनाइट मूर्ति ने बदला 'इंडिया गेट' का इतिहास, Interesting Facts

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios