Asianet News Hindi

ममता ने तोड़ा TMC का रूलः 6 साल के लिए मुकुल रॉय को पार्टी से किया था बाहर, 4 साल में करा दी वापसी

पश्चिम बंगाल तीसरी बार सत्ता में वापसी करने वालीं ममता बनर्जी और मोदी के बीच जारी राजनीति लड़ाई चरम पर है। विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने TMC के कई विधायकों और नेताओं को अपने खेमे में शामिल किया था। अब मुकुल रॉय वापस TMC लौट आए हैं। वे 2017 में ममता बनर्जी से बगावत करके भाजपा में शामिल हुए थे। हालांकि पिछले कई दिनों से उनकी घर वापसी की खबरें चल रही थीं। 

BJP National Vice President Mukul Roy will return to Trinamool Congress kpa
Author
Kolkata, First Published Jun 11, 2021, 1:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकाता, पश्चिम बंगाल. भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय वापस तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं। यह फैसला कोलकाता स्थित TMC भवन में चल रही महत्वपूर्ण बैठक में लिया गया। बैठक में मुकुल रॉय के साथ ममता बनर्जी भी मौजूद रहीं। इसकी अब घोषणा होना बाकी है। मुकुल रॉय की घर वापसी के पीछे उनकी शुभेंदु अधिकारी से पटरी नहीं बैठना माना जा रहा। जब से भाजपा ने शुभेंदु अधिकारी को बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष बनाया है, तब से मुकुल रॉय खफा चल रहे हैं। इसी मनमुटाव के बीच मुकुल रॉय की पत्नी कोरोना पॉजिटिव हो गईं, लेकिन पार्टी ने उनकी तबीयत तक नहीं पूछी। मुकुल रॉय के बेटे ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि राजनीति में कुछ भी संभव है। उनके बेटे भी TMC में शामिल हो सकते हैं। मुकुल रॉय कृष्णा नगर से विधायक हैं।

भाजपा की मीटिंग में नहीं हुए थे शामिल
पिछले दिनों कोलकाता में हुई भाजपा की मीटिंग में मुकुल रॉय शामिल नहीं हुए थे। जबकि अभिषेक बनर्जी मुकुल रॉय की पत्नी की तबीयत जानने अस्पताल पहुंचे थे। तब से मुकुल रॉय की नाराजगी सार्वजनिक हो गई थी। TMC दावा कर रही है कि भाजपा के 35 विधायक उसके संपर्क में है।

2017 में भाजपा का दामन थामा था
मुकुल रॉय बंगाल की राजनीति का जाना-माना चेहरा हैं। उन्होंने कांग्रेस के साथ अपना राजनीति करियर शुरू किया था। वे तृणमूल कांग्रेस के संस्थापक सदस्यों में से एक हैं। 2006 में वे राज्यसभा भेजे गए थे। 2012 में दूसरी बार राज्यसभा सांसद बने। वे मनमोहन सिंह सरकार में जहाजरानी मंत्री और फिर रेल मंत्री बनाए गए।

2017 में जब वे भाजपा नेताओं से मिले, तो ममता बनर्जी ने उन्हें पार्टी से निकाल दिया था। मुकुल राॅय को 2017 में टीएमसी से छह साल के लिए सस्पेंड कर दिया गया था। पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाकर मुकुल को ममता बनर्जी ने बाहर का रास्ता दिखाया था। इसके बाद वे भाजपा में चले गए। 2019 के लोकसभा चुनाव में मुकुल रॉय का पश्चिम बंगाल का संयोजक बनाया गया था। पिछले साल उन्हें भाजपा में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष का पद दिया गया था। अभी चार भी नहीं बीते और मुकुल राॅय को फिर से TMC पार्टी में वापसी कराई जा रही है। 

यह भी पढ़ें
असम CM हेमंत बिस्वा का बड़ा बयानः गरीबी कम करना है तो जनसंख्या कंट्रोल करें मुस्लिम, परिवार नियोजन अपनाएं
अनुराग ठाकुर का केजरीवाल से सवाल- वन नेशन वन राशन कार्ड लागू ना करके प्रवासी मजदूरों का हक क्यों छीन रहे
जितिन के BJP में शामिल होने पर बोले सिब्बल- लीडरशिप को अब सुनना होगा, नहीं तो बुरे दिन शुरू हो जाएंगे

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios