Asianet News HindiAsianet News Hindi

BJP Parliamentary Party meeting: संसद से रफूचक्कर होने वाले MPs को PM की समझाइश-बच्चों की तरह बर्ताव न करें

बीजेपी संसदीय दल की बैठक(BJP Parliamentary Party meeting) अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में हुई। इसमें कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। साथ ही 15 नवंबर(बिरसा मुंडा के जन्मदिन) का जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सम्मान किया गया।

BJP Parliamentary Party meeting, PM Narendra Modi honored KPA
Author
New Delhi, First Published Dec 7, 2021, 9:52 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. बीजेपी संसदीय दल की बैठक(BJP Parliamentary Party meeting) 7 दिसंबर को अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में हुई। पहले यह बैठक संसद भवन परिसर में प्रस्तावित थी। ऑडिटोरियम में इस समय मरम्मत का कार्य चल रहा है। इसलिए बैठक स्थल बदलना पड़ा। जिस जगह यह बैठक हुई, उसका अपना महत्व है। यह केंद्र बीआर अंबेडकर के नाम पर है, जिनकी 6 दिसंबर को पुण्यतिथि थी। संसद सत्र के दौरान आमतौर पर हर मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक होती है। लेकिन पिछले हफ्ते यह नहीं हो सकी थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 15 नवंबर (बिरसा मुंडा के जन्मदिन) को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने की घोषणा के लिए भाजपा संसदीय दल की बैठक में सम्मानित किया।

PM मोदी ने दी नसीहत

मीटिंग में PM मोदी ने भाजपा सांसदों को नसीहत देते हुए कहा कि वे सदन में मौजूद रहें। मोदी ने कहा कि वे लोगों के हित में काम करें। मोदी ने संसद से गायब रहने वाले सांसदों को फटकार भी लगाई। केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बताया-पीएम मोदी ने आज की बैठक में संसद खेल स्पर्धा, तंदरुस्त बाल स्पर्धा और सूर्यानमस्कार स्पर्धा आयोजन करने के लिए आवाहन दिया है। इसके साथ ही जिन्हें पद्म अवार्ड मिला है उनके साथ एक लाइव कार्यक्रम करने का आह्वान भी किया है। मोदी ने कहा कि अनुशासन में रहें, समय से आएं और अपनी बारी होने पर ही बोलें। बच्चों की तरह बर्ताव न करें।

pic.twitter.com/fd5GObWgbM

कांग्रेस की 8 दिसंबर को होगी मीटिंग
कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 8 दिसंबर को कांग्रेस संसदीय दल की सामान्य सभा की बैठक बुलाई है। यह बैठक सुबह 9.30 बजे संसद के केंद्रीय कक्ष में होगी। बैठक में सोनिया गांधी अगली राजनीति रणनीति पर चर्चा करेंगी।

अंबेडकर केंद्र इसलिए महत्वपूर्ण है
'आज़ादी का अमृत महोत्सव' के प्रमुख स्मरणोत्सव के हिस्से के रूप में पूरे देश के साथ भारत सरकार ने 6 दिसम्‍बर, 2021 को महापरिनिर्वाण दिवस मनाया। डॉ. बी.आर. अम्‍बेडकर की 66वीं पुण्यतिथि के अवसर पर राष्ट्रपति और भारत के प्रधानमंत्री ने मंत्रियों और विभिन्न मंत्रालयों के प्रमुख गणमान्य व्यक्तियों के साथ संसद भवन में बाबा साहब की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद बौद्ध भिक्षुओं द्वारा धम्म पूजा की गई। तत्पश्चात सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के गीत एवं नाटक प्रभाग ने डॉ. अम्बेडकर की स्मृति में विशेष गीत प्रस्तुत किए।

केन्‍द्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री, डॉ. वीरेंद्र कुमार ने डॉ. अम्बेडकर राष्ट्रीय स्मारक, नई दिल्ली का दौरा किया और डॉ. अम्बेडकर की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की, जहां बौद्ध भिक्षुओं ने धम्म पूजा की। डॉ. अंबेडकर फाउंडेशन ने भी इस अवसर पर डॉ. अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर, नई दिल्ली परिसर में एक पूरे दिन का कार्यक्रम आयोजित किया। केन्‍द्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेंद्र कुमार इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे और केन्‍द्रीय आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री कौशल किशोर विशिष्ट अतिथि थे। सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय में सचिव आर. सुब्रमण्यम, सचिव और यूजीसी के अध्यक्ष प्रो. डी.पी. सिंह भी अन्य प्रमुख गणमान्य व्यक्तियों के साथ उपस्थित थे।

अगले 5 वर्षों में, मंत्रालय ने लगभग 300 करोड़ रुपये की मदद से अनुसूचित जाति के 24800  मेधावी छात्रों को सहायता देने का निर्णय लिया है, जिससे शैक्षिक रूप से पिछड़े जिलों और राष्ट्रीय औसत पर अनुसूचित जाति समुदाय की आबादी वाले जिलों में नीति आयोग द्वारा चिन्हित आकांक्षी जिलों के प्रतिष्ठित निजी आवासीय विद्यालयों में कक्षा 9वीं से 12वीं तक गुणवत्तापूर्ण आवासीय शिक्षा प्रदान की जाएगी।

यह भी पढ़ें
जब Parliament में शराब का बोतल लेकर पहुंचे BJP के युवा MP, जानिए क्यों सरकार पर लगाया आरोप
Nagaland Firing : संसद में अमित शाह बोले- उग्रवादियों का इनपुट था, वाहन नहीं रुकने पर सेना ने गोलियां चलाईं
Parliament Winter Session: नागालैंड फायरिंग को लेकर सदन में विपक्ष आक्रामक-सरकार जवाब दे, ऐसा क्यों हुआ?

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios