Asianet News HindiAsianet News Hindi

Parliament Winter Session: नागालैंड फायरिंग को लेकर सदन में विपक्ष आक्रामक-सरकार जवाब दे, ऐसा क्यों हुआ?

संसद के शीतकालीन सत्र ((Parliament Winter Session) में 6 दिसंबर को नागालैंड फायरिंग(Nagaland Firing) को लेकर विपक्ष आक्रामक रहा। वहीं, राज्यसभा से 12 MPs के निलंबन का मामला भी गर्माया हुआ है। नागालैंड घटना को लेकर विपक्ष आक्रामक हो गया है। विपक्ष ने गृहमंत्री अमित शाह के इस्तीफे तक की मांग उठा रखी है।

Parliament Winter Session, Politics of opposition on the issue of Nagaland firing KPA
Author
New Delhi, First Published Dec 6, 2021, 9:31 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली.संसद के शीतकालीन सत्र (Parliament Winter Session) में हंगामा थमने का नाम नहीं ले रहा है। पहले संसद के मानसून सत्र (Parliament Monsoon Session) के दौरान हंगामा करने वाले 12 राज्यसभा सदस्यों को शीतकालीन सत्र(Parliament Winter Session) में निलंबित करने का मामला गर्माया हुआ था, अब 4 दिसंबर को नागालैंड फायरिंग(Nagaland Firing) को लेकर विपक्ष आक्रामक है। बता दें कि शनिवार शाम करीब चार बजे मोन में करीब 500 युवाओं की गुस्साई भीड़ सुरक्षाबलों के शिविर में घुस गई थी। सुरक्षा बलों ने भीड़ को समझाने की बहुत कोशिश की, लेकिन भीड़ में शामिल लोग शिविर में तोड़फोड़ करने लगे और आग लगा दी। इसके बाद भी सैनिकों ने बल प्रयोग नहीं किया। जब भीड़ ने हथियारों के साथ सैनिकों पर हमला शुरू किया तब आत्मरक्षा में सैनिकों ने गोलियां चला दी। इसमें 17 लोगों की मौत हो गई। नागा स्टूडेंट्स फेडरेशन (NSF) ने प्रदेश में पांच दिनों के शोक का ऐलान किया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह संसद ने नागालैंड फायरिंग की घटना पर बयान दिया।

जानिए ताजा UPDATE

नागालैंड में 14 लोगों की सेना फायरिंग में हुई मौत के बाद सोमवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने संसद में बयान दिया। राज्यसभा में शाह ने बताया कि सेना को ओटिंग, सोम में चरमपंथियों की गतिविधि की सूचना मिली थी। इसी आधार पर 21 कमांडो ने संदिग्ध इलाके में घात लगाकर हमला किया। एक वाहन वहां पहुंचा, उसे रुकने का इशारा किया लेकिन उसने भागने की कोशिश की। चरमपंथियों को ले जा रहे वाहन के संदेह में, उस पर गोली चलाई गई।

पहले यह भी जानें-नागालैंड की घटना पर मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो ने कहा-गृह मंत्री अमित शाह इस मामले को गंभीरता से ले रहे हैं, हमने घटना में प्रभावित लोगों को सहायता राशि दी है। हम केंद्र सरकार से कह रहे हैं कि नागालैंड से AFSPA को हटाया जाए क्योंकि इस कानून ने हमारे देश की छवि धूमिल कर दी है।

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने नागालैंड फायरिंग का मुद्दा उठाते हु कहा कि वे मांग करते हैं कि संसद के दोनों सदनों में केन्द्रीय गृह मंत्री घटना में बारे में विस्तृत जानकारी दें। यह एक बेहद ही संवेदनशील मुद्दा है। क्यों ऐसा हुआ है? उन्हें जवाब देना चाहिए।

दूसरी तरह प्रश्नकाल में लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने मुद्दा उठाते हुए इसे दुखद और शर्मनाक घटना बताया। उन्होंने कहा कि इसमें बेगुनाहों की जान गई।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह संसद के दोनों सदनों में नागालैंड फायरिंग की घटना पर बयान देंगे।

नागालैंड में फायरिंग की घटना पर चर्चा की मांग को लेकर कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने लोकसभा में दिया स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया।

नागालैंड में हुई गोलीबारी की घटना पर चर्चा की मांग को लेकर कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने लोकसभा में नोटिस दिया है।

केंद्रीय कानून मंत्री किरेन रिजिजू लोकसभा में उच्च न्यायालय और सर्वोच्च न्यायालय न्यायाधीश (वेतन और सेवा की शर्तें) संशोधन विधेयक, 2021 पेश करेंगे।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया लोकसभा में राष्ट्रीय औषधि शिक्षा और अनुसंधान संस्थान (संशोधन) विधेयक, 2021 को पारित करने के लिए पेश करेंगे। 

नागालैंड फायरिंग पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक tweet किया-यह हृदय विदारक है। भारत सरकार को वास्तविक जवाब देना चाहिए। गृह मंत्रालय वास्तव में क्या कर रहा है जब न तो नागरिक और न ही सुरक्षाकर्मी हमारी ही भूमि में सुरक्षित हैं?

पहले हफ्ते Rajya Sabha का 52% समय बर्बाद
शीतकालीन सत्र के पहले सप्ताह में, दो विधेयक- कृषि कानून निरसन विधेयक और बांध सुरक्षा विधेयक, राज्यसभा में पास किया गया। जबकि 67 सूचीबद्ध तारांकित प्रश्नों में से 23 का जवाब मौखिक रूप से दिया है। वहीं, 8 सूचीबद्ध प्रश्नों को हटा दिया गया क्योंकि वे प्रश्न निलंबित सांसदों द्वारा पूछे गए थे। पहले हफ्ते में राज्यसभा (Rajya Sabha) की कार्यवाही के लिए तय समय का 52 प्रतिशत बर्बाद गया। कार्यवाही के लिए तय समय का सिर्फ 47.70 फीसदी ही इस्तेमाल हो पाया।

अंबेडकर को पुष्पांजलि
इधर, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने 66वें महापरिनिर्वाण दिवस पर संसद भवन में डॉ. भीमराव आंबेडकर को पुष्पांजलि अर्पित की।

pic.twitter.com/e3ieIbG4Me

यह भी पढ़ें
AAP सांसद Bhagwant Mann का दावा: BJP से मिला पैसे व केंद्रीय मंत्री का ऑफर, ज्वाइन करिए मनचाहा मंत्रालय लीजिए
प्रियंका चतुर्वेदी ने राज्यसभा के टीवी शो का एंकर पद छोड़ा, उपसभापति वेंकैया नायडू को पत्र लिखकर कही ये बात...
Parliament Winter Session: पहले हफ्ते Rajya Sabha का 52% समय बर्बाद, 2 bill हुए पास, 22 प्राइवेट बिल पेश
Nagaland Firing: सेना ने कहा- हमला कर रहे थे भीड़ में शामिल लोग, सैनिकों ने आत्मरक्षा में चलाई गोली

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios