Asianet News HindiAsianet News Hindi

Bengal Post Poll Violence: भाजपा कार्यकर्ता अभिजीत के हत्यारोपियों पर CBI ने घोषित किया 50-50 हजार का ईनाम

2 मई 2021 को पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव परिणाम घोषित हुए थे। इसके कुछ घंटों बाद भाजपा कार्यकर्ता अभिजीत सरकार पर भीड़ ने हमला कर दिया था। इसमें अभिजीत गंभीर रूप से जख्मी हुए थे। बाद में उनकी मौत हो गई थी। अभिजीत का अंतिम संस्कार उनकी मौत के 4 महीने बाद किया गया था। 

CBI announces cash reward for info on accused in BJP worker's murder
Author
Kolkata, First Published Jan 28, 2022, 2:44 PM IST

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद हिंसा (West Bengal Post Poll Violence) के मामलों की जांच कर रही सीबीआई (CBI) ने भाजपा कार्यकर्ता (BJP worker's Murder) की हत्या के मामले में फरार 5 आरोपियों पर इनाम घोषित किया है। हर आरोपी पर 50,000 रुपए का नकद इनाम रखा गया है। सीबीआई ने कहा है कि आरोपियों की जानकारी देने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा। आरोपियों में एक महिला भी शामिल है। 

चुनाव नतीजे आते ही हुई थी हत्या 
गौरतलब है कि 2 मई 2021 को पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव परिणाम घोषित हुए थे। इसके कुछ घंटों बाद भाजपा कार्यकर्ता अभिजीत सरकार पर भीड़ ने हमला कर दिया था। इसमें अभिजीत गंभीर रूप से जख्मी हुए थे। बाद में उनकी मौत हो गई थी। अभिजीत का अंतिम संस्कार उनकी मौत के 4 महीने बाद किया गया था। कलकत्ता हाईकोर्ट के निर्देशानुसार दो बार उनका पोस्टमॉर्टम हुआ। इस मामले में सियालहाद की एक अदालत ने आरोपी अमित दास, तुंपा दास, अरूप दास, संजय बारिक और पापिया बारिक को भगोड़ा घोषित कर दिया था। 

यह भी पढ़ें WB post poll violence: हिंसा का तांडव करने वालों पर CBI कसता जा रहा शिकंजा, 2 और FIR; अब तक 37 केस दर्ज

हत्या और सबूत मिटाने का आरोप 
CBI का कहना है कि इस मामले में हत्या और सबूत मिटाने संबंधी जैसे गंभीर आपराधिक धाराओं के तहत कुल 14 धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। इन पांचों ने जांच में सहयोग नहीं किया और फरार हो गए। काफी प्रयास के बाद भी ये लोग पेश नहीं हुए तो सियालदह की विशेष अदालत में इन लोगों के खिलाफ जानकारी दी। इसके आधार पर कोर्ट ने इन सभी को भगोड़ा घोषित कर दिया। 

इन नंबरों पर दें सूचना
इन पांचों के बारे में जानकारी देने के लिए सीबीआई की विशेष अपराध शाखा कोलकाता के मोबाइल नंबर 9433044837 और लैंडलाइन नंबर 033-23348713 पर सूचना दी जा सकती है। सीबीआई के मुताबिक अब ऐसे भगोड़े आरोपियों के खिलाफ अन्य मामलों में भी कार्रवाई शुरू की जाएगी मामले की जांच जारी है।

यह भी पढ़ें बंगाल में चुनाव बाद हिंसा मामले में सीबीआई की पहली चार्जशीट समिट, जानिए कौन-कौन बनाए गए आरोपी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios