Asianet News HindiAsianet News Hindi

Bulli Bai APP कंट्रोवर्सी: दिल्ली पुलिस ने twitter से मांगी पहली पोस्ट करने वाले यूजर की जानकारी

100 से अधिक प्रभावशाली मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड करके उनके बारे में आपत्तिजनक कंटेंट पोस्ट करने के मामले में Bulli Bai ऐप मुसीबत में घिरता जा रहा है। इस मामले में दिल्ली पुलिस ने सबसे पहले tweet करने वाले यूजर के बारे में जानकारी मांगी है।
 

Dehli Police has sought information from Twitter about the account that first tweeted about Bulli Bai app KPA
Author
New Delhi, First Published Jan 3, 2022, 10:39 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली.  दिल्ली पुलिस ने twitter से उस अकाउंट के बारे में जानकारी मांगी है, जिसने पहले 'बुली बाई' ऐप के बारे में ट्वीट किया। पुलिस से विवाद से संबंधित आपत्तिजनक सामग्री को हटाने के लिए कहा। इसने GitHub प्लेटफॉर्म से 'बुली बाई' ऐप डेवलपर के बारे में भी जानकारी मांगी है। बात दें कि 100 से अधिक प्रभावशाली मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड करके उनके बारे में आपत्तिजनक कंटेंट पोस्ट करने के मामले में  Bulli Bai ऐप मुसीबत में घिरता जा रहा है। मुंबई साइबर पुलिस ने Bulli Bai ऐप को बढ़ावा देने पर twitter हैंडल के खिलाफ FIR दर्ज की है। इसमें धारा 354-डी (महिलाओं का पीछा करना), 500 (मानहानि के लिए सजा) और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की अन्य धाराओं के तहत शनिवार को दर्ज किया गया है।

APP बनाने वालों पर मामला दर्ज
यह मामला राजनीति तौर पर तूल पकड़ गया है। शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने शनिवार को एक tweet करके मुंबई पुलिस और आईटी मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव को बुलीबाई एप को लेकर कार्रवाई की मांग की थी। इसके बाद साइबर पुलिस के पश्चिमी क्षेत्र ने ट्विटर हैंडल के संचालकों और गिटहब पर डाले गए 'बुली बाई' ऐप तैयार करने वालों के (डेवलपर) के खिलाफ FIR दर्ज की थी। इसी मामले में अश्विनी वैष्णव ने रविवार को एि tweet करके बताया था कि  केंद्र सरकार दिल्ली और मुंबई में पुलिस के साथ मिलकर इस मामले में काम कर रही है। मुंबई पुलिस ने इस मामले को संज्ञान में लिया है। यह मामला ‘बुली बाई’ ऐप पर पिछले वर्ष जुलाई में ‘‘सुल्ली डील्स’’ पर तस्वीरें अपलोड करने जैसा ही है।

यह आपत्तिजनक पोस्ट कीं
बुली बाई (Bulli Bai) नाम से गिटहब ऐप (GitHub) पर कुछ ऐसी तस्वीरें शेयर की गई थीं, जिनमें अज्ञात ग्रुप ने मुस्लिम महिलाओं को नीलाम करने की बात कही गई थी। ये तस्वीरें 1 जनवरी, 2022 को सामने आई थीं। यह मामला सामने आने के बाद मुंबई पुलिस ने केस दर्ज किया था।

क्या है Bulli Bai App
'Bulli Bai' एक ऐसा एप्लिकेशन है जो Github एपीआई पर होस्ट किया जाता है और 'Sulli Deal' ऐप के समान काम करता है। ऐप मुस्लिम महिलाओं को सोशल मीडिया पर लोगों के लिए 'सौदे' के रूप में पेश करता है। जबकि बुल्ली बाई के ट्विटर हैंडल को निलंबित कर दिया गया है, इसके बायो में लिखा था, 'बुली बाई खालसा सिख फोर्स (KSF) द्वारा एक समुदाय द्वारा संचालित ओपन-सोर्स ऐप है। हाल की घटना में, सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों का दुरुपयोग किया गया और 1 जनवरी को 'बुली बाई' के नाम से गिटहब का उपयोग करके एक ऐप पर एक अज्ञात समूह द्वारा अपलोड किया गया। पता चला, बुल्ली बाई ऐप के पीछे के लोग खालिस्तानी आंदोलन के स्वघोषित समर्थक हैं, और गिरफ्तार खालिस्तानी आतंकवादियों की रिहाई की मांग करते हैं। ऐप को URL Bullibai.github.io पर होस्ट किया गया था। हालांकि लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर ऐप को शेयर करने के बाद अब इसे हटा दिया गया है। ऐप से जुड़े एक ट्विटर अकाउंट को भी सस्पेंड कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें
जानिए क्या है ' Bulli Bai App' जिसपर मुस्लिम महिलाओं की फोटो डाल 'Deal Of The Day ' बता उन्हें बेचा जा रहा है
Apple को मिला भारत सरकार का आमंत्रण, 'मेक इन इंडिया' के तहत निर्माण करे iPhone और भी दूसरे प्रोडक्ट

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios