Asianet News HindiAsianet News Hindi

'छोटेवाले' के साले ने 500 करोड़ में मामला सेट कर लिया, दिल्ली की नई आबकारी नीति पर कुमार विश्वास

दिल्ली में नई आबकारी नीति के विरोध में सोमवार को भाजपा ने चक्का जाम किया। यहां हर कॉलोनी में शराब ठेके खोलने का विरोध हो रहा है। इस बीच कवि कुमार विश्वास ने ट्वीट कर राजनीति और गर्मा दी है। उन्होंने कहा-  2016 में एक दारू जमाखोर विधायक इस नीति की सिफारिश करने मेरे पास आया था। 

Delhi excise policy Kumar Vishwas on Arvind Kejriwal brother in law 500 crores
Author
New Delhi, First Published Jan 3, 2022, 3:08 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। नई आबकारी नीति (New liquor Policy) के खिलाफ भाजपा (BJP) ने सोमवार को दिल्ली में चक्काजाम (Chakkajam In Delhi) कर दिया। इसकी वजह से लोगों को काफी परेशानी हो रही है। कुछ लोगों ने आरोप लगाया है कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने सरकारी बसों के टायरों की हवा निकाल दी। ऐसे कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए हैं। इस बीच कवि कुमार विश्वास ने ट्वीट कर शराब नीति को लेकर केजरीवाल सरकार पर माफिया के साथ सांठगांठ का आरोप लगाया। 

कुमार विश्वास ने ट्वीट किया - पीनेवालों की उम्र 21 से 18 करने और 1,000 नए ठेके खुलवाने की पालिसी लागू करने की सिफारिश लेकर 2016 में दिल्ली शराब माफिया, दारू जमाखोर विधायक के साथ मेरे पास आया था।मैंने उसे दुत्कार कर भगाया था और दोनों नेताओं को चेताया था।अब 'छोटेवाले' के साले ने 500 करोड़ की डील में मामला सेट कर लिया।

कुमार विश्वास के ट्वीट का जवाब विधायक नरेश बालियान ने दिया। उन्होंने लिखा- लगता है आपने आज सुबह गलत पदार्थ का सेवन कर लिया है। 2021 तक दिल्ली में शराब सेवन की आयु 25 वर्ष थी। नई नीति के बाद 21 वर्ष की गई है। दूसरा तथ्य यह है कि शराब का एक भी ठेका नहीं बढ़ा है। 4 कम हुए हैं। बाकी हमें पता है कि राज्यसभा का दर्द जीवन भर रहेगा। ऐसे ही झूठ फैलाते हैं। 


बालियान के ट्वीट पर कुमार विश्वास ने लिखा - चोर जो चुप ही लगा जाता तो वो कम पिटता। बाप का नाम बताने की जरूरत क्या थी। मैंने तो बस दारू जमाखोर विधायक लिखा था। तुम ही आए थे यह जताने की क्या जरूरत थी बालक? कुमार विश्वास के इस ट्वीट पर लोगों ने उन्हें आइना दिखाया है। कुछ लोगों ने कहा- कभी नौकरी के नाम पर भी मुंह खोलोगे, या साहब ने राज्यसभा की सीट देने की कह रखी है। 

राज्यसभा की सीट पर उठता रहा विवाद
बताते चलें कि कुमार विश्वास पहले आम आदमी पार्टी में थे। कहा जाता है कि कुमार विश्वास आम आदमी पार्टी से राज्यसभा की सीट चाहते थे, लेकिन केजरीवाल ने उन्हें राज्यसभा नहीं भेजा। इसी वजह से उन्होंने पार्टी छोड़ दी। 

क्या है नई शराब नीति जिसका भाजपा कर रही विरोध
दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के तहत निजी तौर पर चलने वालीं 260 दुकानों समेत सभी 864 शराब की दुकानें खुली निविदा के जरिए निजी कंपनियों को वितरित की गई हैं। नई व्यवस्था से दिल्ली सरकार खुदरा शराब के व्यापार से बाहर हो जाएगी। शराब की दुकानें अब कम से कम 500 वर्ग फुट क्षेत्र में खोली जाएंगी। दुकानें अब वातानुकूलित व सीसीटीवी से लैस होंगी। नई दुकान की वजह से सड़क पर भीड़ नहीं लगेगी, क्योंकि शराब की बिक्री दुकानों के भीतर ही की जाएगी। नई आबकारी नीति के तहत 2,500 वर्ग फीट के क्षेत्रफल वाले 5 सुपर-प्रीमियम रिटेल आउटलेट्स खुलेंगे, जहां शराब पीने की भी सुविधा दी जाएगी।

दिल्ली में यहां जाम
उत्तर पश्चिमी जिले में चक्का जाम
आईटीओ चौक 
सिग्नेचर ब्रिज 
शाहदरा जिला 
करोल बाग 
अक्षरधाम क्रॉस रोड मॉल 
लक्ष्मी नगर से कड़कड़ीमोड तक 
सिग्नेचर ब्रिज पर गाजियाबाद की तरफ 

यह भी पढ़ें
दिल्ली में नई आबकारी नीति के विरोध में जगह-जगह चक्काजाम व प्रदर्शन, BJP के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता अरेस्ट
रिटायरमेंट के बाद अपने गांव लौटा कारगिल का शेर, 20 किलोमीटर की सम्‍मान यात्रा से हुआ भव्य स्‍वागत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios