Asianet News HindiAsianet News Hindi

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसियों की RAID से पॉलिटिक्स गर्म, पढ़िए दिल्ली से लेकर बिहार तक क्या हुआ?

करप्शन, मनी लॉन्ड्रिंग, टेरर फंडिंग और अन्य गड़बड़ियों को लेकर इन दिनों देशभर में CBI, NIA और ED के खूब छापे पड़ रहे हैं। इसे लेकर राजनीति भी जमकर हो रही है। विरोधी पार्टियां जांच एजेंसियों को केंद्र सरकार की कठपुतली बता रहे हैं। पढ़िए अभी क्या हुआ?

Delhi Liquor Policy, Corruption, Raid and Politics kpa
Author
First Published Sep 2, 2022, 2:14 PM IST

नई दिल्ली.  करप्शन, मनी लॉन्ड्रिंग, टेरर फंडिंग और अन्य गड़बड़ियों को लेकर इन दिनों देशभर में CBI, NIA और ED के खूब छापे पड़ रहे हैं। इसे लेकर राजनीति भी जमकर हो रही है। विरोधी पार्टियां जांच एजेंसियों को केंद्र सरकार की कठपुतली बता रहे हैं। इधर, दिल्ली सरकार की 'कंट्रोवर्सियल शराब नीति' को लेकर शुरू हुई पॉलिटिक्स अब LG पर आरोप-प्रत्यारोप तक पहुंच गई है। पढ़िए अभी क्या हुआ?

आम आदमी पार्टी (AAP) के राज्यसभा सासंद संजय सिंह (Sanjay Singh) ने उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ( LG Vinay Kunar Saxena) को टार्गेट किया है। मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े विवादों को लेकर एक प्रेस कान्फ्रेंस में संजय सिंह ने कहा कि भाजपा ने डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की जांच करवाई, तो आप ने इस फैसले का स्वागत किया, लेकिन दागी एलजी के खिलाफ एक्शन क्यों नहीं लिया जा रहा है? संजय सिंह ने आरोप लगाया कि एलजी खादी और ग्रामोद्योग आयोग(Khadi and Village Industries Commission) के चेयरमेन रहते हुए ब्लैक मनी को व्हाइट करते थे। इसका ठेका उन्होंने अपनी बेटी को दिया था। इसलिए मोदी को परिवारवाद पर एक भी शब्द कहने का हक नहीं है। अगर वे इसके खिलाफ हैं, तो एलजी को बर्ख़ास्त करें।

LG लेंगे आप नेताओं पर लीगल एक्शन
दिल्ली सरकार की 'कंट्रोवर्सियल शराब नीति' (New Excise Policy) को लेकर शुरू हुई पॉलिटिक्स में उस समय नया ट़्वीस्ट आया था, जब AAP ने भाजपा पर विधायकों को खरीदने की कोशिश करने का आरोप लगा दिया था। हालांकि इसी मामले को लेकर भाजपा ने LG का लेटर लिखकर जांच की मांग कर दी। इसके बाद आप नेताओं ने उप राज्यपाल पर ही भ्रष्टाचार के आरोप लगा दिए। एलजी भी अब आप नेताओं के खिलाफ लीगल एक्शन लेने की बात कह चुके हैं।

करप्शन और रेड इनके बयान भी पढ़िए
प्रधानमंत्री मोदी के बयान 'भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए कुछ राजनीतिक दल एक साथ आ रहे हैं'  पर इनके जवाब भी पढ़िए...

कहां कोई भ्रष्टचारियों को बचा रहा है। क्या कभी कोई भ्रष्टाचारियों को बचाएगा? यहां हमने इतने दिनों में कभी भ्रष्टाचारियों को बर्दाश्त नहीं किया है।  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पटना

BJP के लगभग 1000 से अधिक विधायक और 300 से अधिक सांसद हैं, किसी के भी घर छापा पड़ा? BJP के लोग दूध के धुले हैं क्या? अगर उनके घर छापा नहीं पड़ रहा है तो बचा कौन रहा, जो लोग कह रहे हैं वहीं न बचा रहे हैं। बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव

पटना में माओवादी नेता के घर पर NIA की रेड
इधर, नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी(NIA) ने माओवादी सेंट्रल कमेटी के सदस्‍य विजय आर्य (Naxalite Vijay Arya) के पटना, गया, औरंगाबाद और रोहतास के ठिकानों पर छापा मारा है। पटना के एजी कॉलोनी में छापेमारी हुई। आर्य के रिश्तेदारों और करीबियों के यहां भी छापे पड़े हैं। औरंगाबाद के उपहारा थाना क्षेत्र के महेश परासी गांव में आर्य की बेटी शोभा कुमारी के यहां छापा पड़ा। रफीगंज थाना के चंदौल गांव में अनिल यादव के यहां छापा मारा गया। इसे नक्सलियों का मुखबिर माना जाता है।
Delhi Liquor Policy, Corruption, Raid and Politics kpa

यह भी पढ़ें
भारत में रोज बच्चों के खिलाफ 409 अपराध, सेक्युअल क्राइम्स भी बढ़े, NCRB की रिपोर्ट का सनसनीखेज खुलासा
अपनी ही पॉलिटिक्स में फंसी AAP, ऑपरेशन लोटस मामले की भाजपा ने LG से की फॉरेंसिक जांच की मांग, पढ़िए डिटेल्स
AAP ने किया CBI ऑफिस के बाहर विरोध प्रदर्शन, कहा- भाजपा के 'ऑपरेशन लोटस' की हो जांच

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios