Asianet News HindiAsianet News Hindi

दिल्ली गैंगवार: दो गैंगेस्टर्स के गैंगवार में 25 से ज्यादा की हत्या, क्या फिर बदले की आग में गिरेंगी लाशें?

जितेंद्र मान उर्फ गोगी दिल्ली-हरियाणा राज्य के जरायम की दुनिया का कुख्यात नाम था। हत्या, फिरौती, अपहरण सहित तमाम गंभीर अपराधों में उस पर दर्जनों केस दोनों राज्यों में दर्ज हैं। 

Delhi Rohini Court gang war, 2 gangs involved have killed 25 lives in past few years, history may repeat now
Author
New Delhi, First Published Sep 24, 2021, 7:43 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। दिल्ली के अलीपुर का रहने वाला छह लाख रुपये का इनामिया गैंगेस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी शुक्रवार को प्रतिशोध का शिकार हो गया। रोहिणी कोर्ट में उसके दुश्मन गैंगेस्टर गिरोह ने गोलियों से छलनी कर दिया। हालांकि, इस हत्याकांड के बाद एक बार फिर दिल्ली-हरियाणा में गैंगवार की आशंका जताई जा रही है। माना जा रहा है कि गोगी गैंग अपने बॉस की हत्या का बदला लेने के लिए जरूर बड़ी वारदात को अंजाम देंगे।
दरअसल, जितेंद्र मान उर्फ गोगी दिल्ली-हरियाणा राज्य के जरायम की दुनिया का कुख्यात नाम था। हत्या, फिरौती, अपहरण सहित तमाम गंभीर अपराधों में उस पर दर्जनों केस दोनों राज्यों में दर्ज हैं। 

आप नेता और हरियाणवी गायिका की हत्या से सुर्खियों में आया

पुलिस अधिकारियों की मानें तो जितेंद्र गोगी एक दुस्साहसिक हत्यारा था। वह हत्या के बाद खौफ पैदा करने के लिए मर्डर को बड़े विभत्स तरीके से अंजाम देता था। गोगी ने आम आदमी पार्टी के नेता वीरेंद्र मान की हत्या की थी तो खौफ पैदा करने के लिए उसने उनको 25 से अधिक गोलियां मारी थी। गोगी ने मशहूर हरियाणवी गायिका हर्षिता दहिया की भी गोली मारकर हत्या की थी। 

कई बार जेल से हो चुका था फरार

जितेंद्र गोगी कम से कम तीन बार पुलिस की कस्टडी से फरार हो चुका था। वह जेल से ही अपने हत्या, लूट, अपहरण, फिरौती के कारोबार को चलाता था। तिहाड़ जेल में बंद रहने के दौरान उसने दुबई के एक कारोबारी जोकि दुबई में रहते थे, उनसे पांच करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी थी लेकिन पुलिस तक यह मामला पहुंच गया। 

गैंगवार में 25 से अधिक लोगों की जा चुकी है जान

जितेंद्र गोगी और टिल्लू गैंग से पुरानी अदावत है। दोनों में कई बार भयानक गैंगवार हो चुका है। साल 2018 में दोनों गैंग दिल्ली के बुराड़ी इलाके में भिड़े थ। इसमें तीन लोगों की हत्याएं हुई थी और आधा दर्जन से अधिक घायल हुए थे। 

दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) का कहना है कि दोनों गिरोहों के बीच झड़पों में पिछले कुछ वर्षों में 25 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में भी गैंगवार के चलते ही वारदात हुई। गोगी के विरोधी गुट टिल्लू गैंग का इस वारदात के पीछे हाथ है। 

यह है घटना

रोहिणी कोर्ट परिसर (Rohini Court) में शुक्रवार को गैंगवार में तीन गैंगेस्टर व शूटर समेत आधा दर्जन लोगों की हत्या हो गई। शुक्रवार को एक गैंगस्टर जीतेंद्र गोगी को पुलिस पेशी पर लेकर आई थी। वहां उसे मारने 2 शूटर पहले से ही मौजूद थे। उन्होंने गोगी पर फायरिंग कर दी। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। कोर्ट में मौजूद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में दोनों शूटरों को मार गिराया। इस गैंगवॉर में गैंगस्टर और दोनों शूटर सहित 6 लोगों की मौत की खबर है। माना जा रहा है इस फायरिंग में और भी कई लोग घायल हुए हैं। शूटर्स की पहचान मॉरिस और राहुल के तौर पर हुई है।

Read this also: दिल्ली के रोहिणी कोर्ट गैंगवॉर: हर गेट पर मेटल डिटेक्टर, पुलिस तलाशी...फिर भी अंदर लेकर अपराधी चले गए हथियार

पहले से ही मौजूद थे शूटर

बताया जा रहा है कि रोहिणी कोर्ट में गैंगस्टर जीतेंद्र गोगी की पेशी होनी थी। उस समय एडिशनल सेशन जज गगनदीप कोर्ट में सुनवाई के लिए मौजूद थे। दो शूटर पहले से ही कोर्ट में पहुंच गए थे। जैसे ही गोगी पेशी के लिए अंदर जाता है, शूटर उस पर फायरिंग शुरू कर देते हैं। घटना के वक्त कोर्ट परिसर में बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद था। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में दोनों शूटर भी मारे गए।

2 साल पहले ही गैंगस्टर को पकड़ा गया था

गैंगस्टर गोगी को 2 साल पहले ही अरेस्ट किया गया था। उसे स्पेशल सेल ने गुरुगाम से पकड़ा था। गोगी को मकोका के तहत अरेस्ट किया गया था। वह हरियाणा व दिल्ली दोनों राज्यों का कुख्यात था और उस पर 4 लाख हरियाणा में और दिल्ली ने 2 लाख रुपये का इनाम पहले से ही घोषित कर रखा था। 

Read this also: दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में गैंगवॉर, गैंगस्टर को सरेआम गोलियों से छलनी किया; 2 शूटर सहित 6 की मौत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios