Asianet News HindiAsianet News Hindi

लखनऊ में DGP ने किया पैदल मार्च, एक उपद्रवी पर लगा 1 लाख 72 हजार का जुर्माना

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शुक्रवार को माहौल शांत रहा। सरकार की चेतावनी और पुलिस की सक्रियता के चलते पूरे शहर में कहीं भी हिंसा नहीं हुई। पुलिस ने सीएम योगी के आदेश पर उपद्रियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी।

DGP commits foot march in Lucknow, one miscreant fined 1 lakh 72 thousand KPB
Author
Lucknow, First Published Dec 20, 2019, 9:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शुक्रवार को माहौल शांत रहा। सरकार की चेतावनी और पुलिस की सक्रियता के चलते पूरे शहर में कहीं भी हिंसा नहीं हुई। पुलिस ने सीएम योगी के आदेश पर उपद्रियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी। एक उपद्रवी पर कार्रवाई करते हुए पुलिस 1 लाख 72 हजार का जुर्माना लगाया है। इस जुर्माने को भरने के लिए उपद्रवी के पास एक हफ्ते का समय है। 

शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस सभी संवेदनशील जगहों पर पहरेदारी करती रही। स्थिति को सामान्य बनाए रखने के लिए गुरुवार से ही यहां इंटरनेट बंद कर दिया गया था और SMS मैसेज पर भी पाबंदी लगा दी गई थी। शनिवार दोपहर 12 बजे तक लखनऊ में यह पाबंदी जारी रहेगी। प्रशासन ने पूरे राज्य में 31 जनवरी तक के लिए धारा 144 लगा दी है। 

उपद्रवियों पर कार्रवाई शुरू
प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि सरकारी संपत्ति को हुए नुकसान की भारपाई उपद्रवियों से ही की जाएगी। योगी सरकार ने इस बात पर अमल करना भी शुरू कर दिया है। एक उपद्रवी को चिन्हित कर योगी सरकार ने उस पर 1 लाख 72 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। लखनऊ के डालीगंज में इस उपद्रवी की एक दुकान है जिसे तहसीलदार ने सील कर दिया है। अगर यह उपद्रवी 1 सप्ताह के अंदर जुर्माने की राशि नहीं कराता है तो सरकार इसकी कपड़े की दुकान को बंचकर अपना जुर्माना वसूल लेगी। लखनऊ में हुई हिंसा के खिलाफ 200 लोगों को हिरासत में लिया गया है। 

शांतिपूर्ण तरीके से हुई नमाज
लखनऊ शहर में जुमे की नमाज बिना कोई हिंसा के संपन्न हुई। नमाज के बाद सभी लोग अपने घरों के लिए रवाना हो गए। इस दौरान ACS और DGP दोनों सड़कों पर पैदल मार्च करते नजर आए। पुलिस की मुस्तैदी के चलते शहर में कोई हिंसा नहीं हुई है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios