Asianet News HindiAsianet News Hindi

166 साल के इतिहास में पहली बार, 2019 में ट्रेन एक्सीडेंट में नहीं गई किसी की जान

अपने 166 साल के इतिहास में रेलवे ने 2019-20 को सबसे सुरक्षित साल माना है। इस वित्तीय साल में रेल हादसे में किसी भी व्यक्ति की जान नहीं गई। रेलवे के मुताबिक, पिछले 38 साल में दुर्घटनाओं की कुल संख्याओं में 95% की कमी हुई है। 

First time in 166 years, Indian Railways reports zero passenger deaths in 2019-20 KPP
Author
New Delhi, First Published Dec 25, 2019, 5:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. अपने 166 साल के इतिहास में रेलवे ने 2019-20 को सबसे सुरक्षित साल माना है। इस वित्तीय साल में रेल हादसे में किसी भी व्यक्ति की जान नहीं गई। रेलवे के मुताबिक, पिछले 38 साल में दुर्घटनाओं की कुल संख्याओं में 95% की कमी हुई है। 

बिजनेस टुडे की खबर के मुताबिक, 2017-18 में पूरे भारत में 73 रेल दुर्घटनाएं हुईं। निरंतर सुरक्षा उपायों को अपनाने से इस संख्या में काफी कमी हुई। इस साल केवल 59 रेल हादसे हुए। 

- रिपोर्ट में कहा गया है कि 1960-61 में 2131 एक्सीडेंट हुए। यह 1970-71 तक 840 पर आ गए। 
-1980-81 में 1,013 हादसे हुए, वहीं, 1990-1991 में यह संख्या 532 पर आ गई। 
- 2010-11 में 141 रेल हादसे हुए।  
- 1990-1995 के बीच हरसाल औसत 500 हादसे हुए। इस दौरान 2400 लोगों की मौत हुई। वहीं, 4300 जख्मी हुए। 
- 2013-2018 में हर साल औसत 110 एक्सीडेंट हुए, इनमें 990 लोगों की जान गई। 1500 जख्मी भी हुए।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios