Asianet News HindiAsianet News Hindi

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह एम्स में भर्ती, जांच के लिए रणदीप गुलेरिया के नेतृत्व में मेडिकल बोर्ड गठित

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों की वजह से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली में भर्ती कराया गया है। 

Former Prime Minister Dr. Manmohan Singh admitted to AIIMS, Know all updates
Author
New Delhi, First Published Oct 13, 2021, 7:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री (Ex Prime Minister) मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) को स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों की वजह से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, दिल्ली (AIIMS Delhi) में भर्ती कराया गया है। डॉ. सिंह को बुधवार की शाम बुखार और कमजोरी की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया। श्री सिंह को मंगलवार से ही बुखार की शिकायत थी। उनकी हालत फिलहाल स्थिर है और उन्हें लिक्विड फूड दिए जा रहे हैं।

डॉक्टर्स की एक टीम उनके स्वास्थ्य पर नजर बनाए हुए हैं। एम्स में मेडिकल बोर्ड का गठन उनके जांच के लिए किया गया है। इस बोर्ड को डॉ.रणदीप गुलेरिया हेड करेंगे। न्यूरो के डॉक्टर अचल श्रीवास्तव और दिल के डॉक्टर नीतीश नायक उनकी देखरेख में हैं।

इस साल की शुरुआत में, 88 वर्षीय कांग्रेस के दिग्गज और राज्यसभा सदस्य को संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान कोविड -19 के लिए सकारात्मक परीक्षण के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 19 अप्रैल को कोरोना से संक्रमित होने के बाद उनको दस दिनों तक एम्स में भर्ती रहना पड़ा था। उन्होंने बीते 4 मार्च और 3 अप्रैल को कोविड वैक्सीन की डोज ली थी। 

दो बायपास सर्जरी हो चुकी है

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की दो बायपास सर्जरी भी हो चुकी है। उनकी पहली सर्जरी साल 1990 में यूके में हुई थी, जबकि 2009 में एम्स में उनकी दूसरी बायपास सर्जरी की गई थी।

दस साल रहे भारत के पीएम

पूर्व पीएम डॉक्टर मनमोहन सिंह भारत के दस साल तक प्रधानमंत्री रहे। उनका कार्यकाल 2004 से 2014 तक रहा है। वह देश के जाने माने अर्थशास्त्रियों में एक हैं। रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर डॉ. मनमोहन सिंह, देश के वित्तमंत्री भी रहे चुके हैं। 

यह भी पढ़ें:

पत्नी की हत्या के लिए बेडरूम में ले आया कोबरा, एक साल बाद कोर्ट ने किया न्याय, देश के इस अनोखे केस की कहानी हैरान कर देगी

Tension में PAK:आर्मी चीफ को नहीं जंच रहे इमरान, ऊपर से 10वां सबसे बड़ा कर्जदार हुआ मुल्क

भारत की अर्थव्यवस्था 2021 में 9.5 प्रतिशत और 2022 में 8.5 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद: आईएमएफ

कोरोना कैसे फैला? आखिर इस जांच से क्यों कतरा रहा चीन, डब्ल्यूएचओ को फिर बोला- No

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios