अडानी के बाद बिजनेसमैन Jack Dorsey की कंपनी Block Inc पर फूटा हिंडनबर्ग का बम, गंभीर आरोपों के बाद 20 फीसदी तक टूटे शेयर

| Mar 23 2023, 07:13 PM IST

jack dorsey

सार

अमेरिका की शार्ट सेलर फर्म हिंडनबर्ग रिसर्च (Hindenburg Report) की ताजा रिपोर्ट में टेक्नोलाजी फर्म ब्लॉक इंक पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। जैक डोर्सी की अगुवाई वाली इस कंपनी पर हिंडनबर्ग ने फर्जीवाड़े का भी आरोप जड़ा है।

 

Hindenburg Report. अमेरिका की शार्ट सेलर फर्म हिंडनबर्ग रिसर्च (Hindenburg Report) की ताजा रिपोर्ट में टेक्नोलाजी फर्म ब्लॉक इंक पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। जैक डोर्सी की अगुवाई वाली इस कंपनी पर हिंडनबर्ग ने फर्जीवाड़े का भी आरोप जड़ा है। हिंडनबर्ग ने आरोप लगाया है कि जैक डोर्सी ने गलत तरीके से यूजर्स की संख्या बढ़ाई है। इस सूचना के बाहर आने के बाद ब्लॉक इंक के शेयरों में बड़ी गिरावट देखी गई है। अमेरिकी बाजार में बवाल मच गया है और कंपनी के शेयर करीब 20 प्रतिशत तक टूट गए हैं।

ट्वीटर के को-फाउंडर रहे हैं जैक डोर्सी

हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के बाद जैक डोर्सी की कंपनी के शेयरों में तेज गिरावट दर्ज की गई है। जैक डोर्सी ट्वीटर के को फाउंडर रहे हैं और 2009 में उन्होंने ब्लॉक इंक नामक कंपनी की स्थापना की। यह कंपनी टेक्नोलॉजी से जुड़ी हुई है। हिंडनबर्ग की रिपोर्ट बताती है कि जैक डोर्सी की कंपनी ने गलत तरीके से यूजर्स की संख्या बढ़ाई ताकि कंपनी की लागत को कम किया जा सके।

 

 

क्या हुआ है खुलासा

शॉर्ट सेलर फर्म हिंडनबर्ग का कहना है कि दो साल की जांच के बाद यह क्लियर हुआ है कि ब्लॉक ने डेमोग्राफिक्स का फायदा उठाया है जो कि गलत है। रिपोर्ट में यह भी आरोप लगाया गया है कि यह कंपनी इंवेस्टर्स को गुमराह करती है और फैक्ट्स को भी बदलकर सामने रखती है। जानकारी के लिए बता दें कि ब्लॉक इंक करीब 44 बिलियन डॉलर के मार्केट कैप वाली कंपनी है।

अडानी समूह पर लगा चुकी है आरोप

हिंडनबर्ग ने इससे पहले गौतम अडानी की कंपनी पर भी गंभीर आरोप लगाए थे। 24 जनवरी 2023 को हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आने के बाद से भारतीय राजनीति में हलचल मची है। साथ ही अडानी की कंपनियों के शेयर भी धड़ाम हुए है। तब हिंडनबर्ग ने यह आरोप लगाया था कि अडानी ग्रुप ने शेल कंपनियों के जरिए शेयरों में हेरफेर की है। यह रिपोर्ट आने के बाद अडानी ग्रुप के शेयर धराशायी हो गए थे और अभी तक यह सिलसिला जारी है। गौतम अडानी की निजी संपत्ति में भी इस रिपोर्ट के बाद सेंध लग चुकी है।

यह भी पढ़ें

अदाणी-हिंडनबर्ग विवाद: सुप्रीम कोर्ट ने गठित किया विशेषज्ञ पैनल, गौतम अदाणी बोले- सच्चाई की होगी जीत