Asianet News HindiAsianet News Hindi

मेरी बच्ची की आत्मा को 10 दिन बाद अब शांति मिलेगी... डॉक्टर के पिता ने ऐसे जाहिर की अपनी खुशी

डॉक्टर से गैंगरेप फिर जलाकर हत्या कर देने के चारों आरोपियों का पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया है। पुलिस की कार्रवाई पर गैंररेप विक्टिम के पिता ने कहा कि मेरी बच्ची को मरे 10 दिन हो गए। मेरी बच्ची की आत्मा को अब शांति मिलेगी। मैं तेलंगाना सरकार को बधाई देता हूं। 

Hyderabad rape victim father said, my girl soul will now find peace KPN
Author
Hyderabad, First Published Dec 6, 2019, 9:13 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हैदराबाद. डॉक्टर से गैंगरेप फिर जलाकर हत्या कर देने के चारों आरोपियों का पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया है। पुलिस की कार्रवाई पर गैंररेप विक्टिम के पिता ने कहा कि मेरी बच्ची को मरे 10 दिन हो गए। मेरी बच्ची की आत्मा को अब शांति मिलेगी। मैं तेलंगाना सरकार को बधाई देता हूं। 

- एनकाउंटर पर पुलिस का कहना है कि साइबराबाद पुलिस आरोपियों को क्राइम स्पॉट पर री-कन्स्ट्रक्शन के लिए ले गई थी। आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीन लिए और उन पर फायरिंग कर दी। पुलिस ने आत्मरक्षा में आरोपियों पर फायरिंग की जिसमें आरोपियों की मौत हो गई।

- एनकाउंटर पर निर्भया की मां ने कहा, "हैदराबाद पुलिस का धन्यवाद। इससे बढ़िया इंसाफ कुछ हो नहीं सकता था। अब जल्द से जल्द निर्भया के दोषियों को फांसी की सजा दी जाए। सजा में देरी होने से कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं।" 
 

डॉक्टर के साथ क्या हुआ था?
- 28 नवंबर की सुबह 26 साल की डॉक्टर निशा का शव ब्रिज के नीचे अधजली हालत में मिला था। इस हत्याकांड के बाद सड़क से संसद तक चारों आरोपियों के लिए फांसी की मांग उठ रही थी।
- 27 नवंबर को डॉक्टर के साथ गैंगरेप के बाद हत्या हुई। फिर 28 नवंबर को महिला डॉक्टर का जला हुआ शव मिला। 29 नवंबर तक सभी चारों आरोपी गिरफ्तार हुए। कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा। 06 दिसंबर आरोपियों ने घटना वाली जगह से भागने की कोशिश की, जहां पुलिस ने चारों आरोपियों को मार गिराया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios